scriptPolitical Parties controversial statement on girls marriage minimum ag | 18 साल की उम्र में आपके पास सभी अधिकार, लेकिन शादी नहीं, केंद्रीय कैबिनेट के फैसले पर आये आपत्तिजनक बयान | Patrika News

18 साल की उम्र में आपके पास सभी अधिकार, लेकिन शादी नहीं, केंद्रीय कैबिनेट के फैसले पर आये आपत्तिजनक बयान

केंद्र सरकार ने लड़कियों के शादी की न्यूनतम कानूनी उम्र को बढ़ाकर पुरुषों के बराबर करने का फैसला किया है। इसका मतलब है कि पहले लड़कियों के शादी की न्यूनतम उम्र 18 साल थी, लेकिन अब इसे बढ़ाकर 21 साल किया जा सकता है। वहीं केंद्र इस फैसले का जहां कई लोगों ने स्वागत किया है। वहीं केंद्रीय कैबिनेट के इस फैसले पर सपा सांसदों, एआईएमआईएम के चीफ असुद्दीन ओवैसी और खाप पंचायत के नेताओं ने केंद्र के इस फैसले का विरोध किया है।

लखनऊ

Published: December 18, 2021 05:20:09 pm

लखनऊ. 18 साल की उम्र में आप सांसद-विधायक चुन सकती है, आपको बालिग भी माना जाएगा और भी अन्य अधिकार आपके पास हैं, लेकिन आप शादी नहीं कर सकती। कुछ इसी तरह का कानून केंद्र की नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन वाली सरकार कानून लाना चाहती है। केंद्रीय कैबिनेट के लड़कियों के शादी की उम्र 18 से 21 वर्ष किये जाने की मंजूरी दिये जाने के बाद सियासी गलियारों में बयानबाजी जरूर तेज हो गई है। वहीं केंद्र के इस फैसले के बाद जनता द्वारा चुने गये कुछ सांसदों के शर्मनाक बयान भी सामने आये है। इस बेतुकी बयानबाजी में दो सांसद समाजवादी पार्टी के भी है। हालांकि समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष व सांसद अखिलेश यादव ने अपने सांसदों के बयान से किनारा कर रखा है और किसी प्रकार की कोई भी टिप्पणी नहीं की है।
sansad_sp_1.jpg
बुधवार को केंद्रीय कैबिनेट ने दी है मंजूरी

बता दें कि केंद्र सरकार ने लड़कियों की शादी की कानूनी उम्र 18 वर्ष से बढ़ाकर 21 वर्ष करने का फैसला किया है। केंद्रीय कैबिनेट ने बुधवार को पुरुषों और महिलाओं की शादी की कानूनी उम्र एक समान करने के प्रस्ताव को मंजूरी भी दे दी है। केंद्रीय कैबिनेट द्वारा इस फैसले को मंजूरी दिये जाने के बाद सियासी गलियारों में बयानबाजी भी तेज हुई है। वहीं कुछ लोगों के केंद्र सरकार के इस फैसले का स्वागत किया है, तो कुछ लोगों के बेतुके बयान भी सामने आये हैं।
सपा सांसदों ने दिये आपत्तिजनक बयान

उत्तर प्रदेश के संभल से समाजवादी पार्टी के सांसद शफीकुर्रहमान वर्क ने लड़कियों की शादी की उम्र 21 वर्ष करने के फैसले पर कहा कि यह सही कदम नहीं है। उन्होंने कहा कि लड़कियों की उम्र बढ़ाये जाने से हालात बिगड़ेंगे और इससे ज्यादा आवारगी का मौका मिलेगा। वहीं मुरादाबाद के समाजवादी पार्टी के सांसद डॉ एसटी हसन ने कहा कि महिलाओं में प्रजनन क्षमता 16-17 से लेकर 30 साल तक रहती है और 16-17 साल की उम्र में प्रजनन दर अच्छी रहती है और आप जब 21 साल कर रहे हैं तो इससे आपकी औलाद उस उम्र में होगी जब आप बुढ़ापे में होंगे।
खाप पंचायत ने कहा बढ़ेंगे अपराध

वहीं खाप पंचायत के नेताओं ने भी लड़कियों की शादी की उम्र 21 करने पर खाप नेताओं का एतराज, कहा-महिलाओं के खिलाफ बढ़ेंगे अपराध। खाप नेताओं ने कहा कि आज बेटियां जींस, टॉप अन्य पहनावे के चक्कर में अपनी संस्कृति भूलती जा रही है। लड़कियों की शादी की उम्र बढ़ाने के बजाय जींस पर पाबंदी लगानी चाहिए। लड़कियों को शालीन कपड़े पहनने चाहिए।
पितृसत्तात्मकता मोदी सरकार की नीति बन चुकी है- ओवैसी

वहीं एआईएमआईएम सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने अपना गुस्सा जाहिर करते हुए कहा कि पितृसत्तात्मकता मोदी सरकार की नीति बन चुकी है। ओवौसी ने अपने एक ट्वीट में कहा कि महिलाओं के लिए शादी की न्यूनतम उम्र को 18 से बढ़ाकर 21 साल करने के प्रस्ताव को मोदी सरकार ने मंजूरी दे दी है। ऐसी पितृसत्तात्मकता मोदी सरकार की नीति बन चुकी, इससे बेहतर करने की उम्मीद भी हम सरकार से करना छोड़ चुके हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

UP Election 2022: यूपी चुनाव से पहले मुलायम कुनबे में सेंध, अपर्णा यादव ने ज्वाइन की बीजेपीकेशव मौर्य की चुनौती स्वीकार, अखिलेश पहली बार लड़ेंगे विधानसभा चुनाव, आजमगढ के गोपालपुर से ठोकेंगे तालकोरोना के नए मामलों में भारी उछाल, 24 घंटे में 2.82 लाख से ज्यादा केस, 441 ने तोड़ा दम5G से विमानों को खतरा? Air India ने अमरीका जाने वाली कई उड़ानें रद्द कीPM मोदी की मौजूदगी में BJP केंद्रीय चुनाव समिति की बैठक आज, फाइनल किए जाएंगे UP, उत्तराखंड, गोवा और पंजाब के उम्मीदवारों के नामरोहित शर्मा को क्यों नहीं बनाया जाना चाहिए टेस्ट कप्तान, सुनील गावस्कर ने समझाई बड़ी बातखत्म हुआ इंतज़ार! आ गया Tata Tiago और Tigor का नया CNG अवतार शानदार माइलेज के साथकोरोना का कहर : सुप्रीम कोर्ट के 10 जज कोविड पॉजिटिव, महाराष्ट्र में 499 पुलिसकर्मी भी संक्रमित
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.