एक साथ 14 बारातियों की मौत की खबर सुन सबका दिल दहल गया, और बेबस हो गए दुल्हा-दुल्हन

आंखों में आंसू लेकर घराती और बराती पक्ष के लोग शादी की रस्में पूरी कराने लगे। पर शादी के बाद दूल्हे को बिना दुल्हन वापस लौटना पड़ा।

By: Mahendra Pratap

Updated: 20 Nov 2020, 05:06 PM IST

लखनऊ. प्रतापगढ़ के कुंडा के नवाबगंज में झूरीलाल यादव के घर खुशी का माहौल था। बेटी की शादी का समारोह था, बरात आई हुई थी। द्वार पूजा और जयमाल की रस्म अदायगी हुई। बारातियों ने खाना खाया और कुछ खाना खा कर घर की ओर लौट गए। देर रात सड़क हादसे की सूचना आई कि, कुंडा के देशराज का इनारा के पास तेज रफ्तार बोलेरो खड़े ट्रक में जा घुसी थी। छह बच्चों समेत 14 लोगों की मौत हो गई। पूरे गांव में कोहराम मचा है। जिसने सुना उसी का दिल दहल गया। अफरातफरी मच गई। खबर सुन दुल्हा-दुल्हन बेबस हो गए। आंखों में आंसू लेकर घराती और बराती पक्ष के लोग शादी की रस्में पूरी कराने लगे। पर शादी के बाद दूल्हे को बिना दुल्हन वापस लौटना पड़ा।

प्रतापगढ़ जिले में गुरुवार देर रात दर्दनाक हादसा में छह बच्चों समेत 14 लोगों की मौत हो गई। यह हादसा मानिकपुर थाना क्षेत्र के देशराज इंदारा गांव के पास सड़क के बगल खड़े ट्रक से बोलेरो अनियंत्रित होकर भिड़ गई। उसमें बैठे सभी 14 लोगों की मौके पर मौत हो गई। हादसे पर सीएम योगी आदित्यनाथ ने दुख जताते हुए वरिष्ठ अधिकारियों को पीड़ितों की हरसंभव मदद करने के निर्देश दिए हैं। सीएम योगी ने मृतकों के परिजनों को 2-2 लाख रुपए का मुआवजा देने की घोषणा की है।

कुंडा में चौरा जिरगापुर गांव के संत लाल यादव के पुत्र सुनील की बरात नवाबगंज (प्रतापगढ़) थाना क्षेत्र के शेख मोहम्मद पुर गांव के रहने वाले झूरीलाल यादव के यहां गई थी। झूरी की तीन लड़कियों व एक बेटे में सबसे छोटी बेटी क्रांति देवी की शादी में आए मेहमान इस दुर्घटना के बाद सदमे में हैं।

Show More
Mahendra Pratap Content
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned