अभ्यर्थियों के प्रदर्शन के बाद जागी सरकार, सभी 6127 अभ्यर्थियों को जिले आवंटित

अभ्यर्थियों के प्रदर्शन के बाद जागी सरकार, सभी 6127 अभ्यर्थियों को जिले आवंटित

Prashant Srivastava | Publish: Sep, 02 2018 09:43:51 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

अभ्यर्थियों के प्रदर्शन के बाद जागी सरकार, सभी 6127 अभ्यर्थियों को जिले आवंटित

लखनऊ. सहायक अध्यापक भर्ती प्रक्रिया से बाहर हुए अभ्यर्थियों के लगातार दो दिन प्रदर्शन के बाद सरकार ने जागी है। 68500 सहायक शिक्षकों की भर्ती से बाहर किए गए सभी 6127 अभ्यर्थियों को जिले आवंटित कर दिए गए हैं। इसके अलावा काउंसिलिंग 4 सितंबर तक कराने का फैसला भी किया गया है। पहले सिर्फ 3 सितंबर तक ही काउंसिलिंग कराने का आदेश दिया गया था। अपर मुख्य सचिव, बेसिक प्रभात कुमार ने Tweet करके इन सभी अभ्यर्थियों को संबंधित जिलों में तत्काल रिपोर्ट करने के लिए कहा है।

अभ्यर्थियों को पुलिस ने खदेड़ा

राजधानी स्थित एससीईआरटी कार्यालय पर प्रदर्शन कर रहे अभ्यर्थियों को पुलिस ने खदेड़ दिया। पहले कर्मचारियों ने अंदर से दरवाजा बंद कर लिया था। बाद में पुलिस भी पहुंच गई थी। दिलाया लेकिन वे नहीं माने। रविवार को सहायक अध्यापक पद पर शिक्षकों की भर्ती के लिए काउंसलिंग शुरू हुई तो सैकड़ों अभ्यर्थी निदेशालय पर पहुंच कर नारेबाजी करने लगे। अभ्यार्थी प्रदर्शन करते हुए आत्मदाह की चेतावनी दे रहे थे। इनमें काफी संख्या में महिलाएं भी थीं जिन्हें खदेड़ा गया। बता दें कि सभी अभ्यर्थी भर्ती परीक्षा पास करने के बावजूद एक नियम के कारण रोक दिए गए थे। जब काउंसलिंग का समय आया तो एक आदेश ने उन्हें इससे बाहर कर दिया। भर्ती परीक्षा में 41,556 अभ्यर्थियों को सफल घोषित किया गया। अब जब काउंसलिंग की बारी आई तो इन पदों पर आरक्षण नीति लागू कर दी। इस नाते सामान्य श्रेणी के ऊंची मेरिट वाले करीब छह हजार अभ्यर्थी काउंसलिंग से बाहर हो गए थे।

 

gg

बता दें कि पिछले दिनों उत्तर प्रदेश बेसिक शिक्षा परिषद ने परिषदीय प्राथमिक स्कूलों में 41,556 सहायक अध्यापकों के चयन/नियुक्ति के लिए अनन्तिम चयन सूची जारी कर दी है। उत्तर प्रदेश बेसिक शिक्षा परिषद पर आधिकारिक वेबसाइट https://upbasiceduboard.gov.in/ पर जाकर ये पूरी लिस्ट देखी जा सकती है। सूची में दिया गया है कि किस अभ्यर्थी को कौन सा जनपद आवंटित किया गया है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ 68,500 शिक्षक भर्ती में नवनियुक्त शिक्षकों को 4 सितम्बर को नियुक्ति पत्र बाटें। ये आयोजन राम मनोहर लोहिया विधि विवि में हुआ। काउंसिलिंग से पहले ही नियुक्त पत्र बांटने का कार्यक्रम तय कर दिया गया। इस कार्यक्रम में लगभग 4 हजार शिक्षकों को नियुक्त पत्र दिया गया।

 

Ad Block is Banned