Quick Read: पिता ने रॉड से सौतेले बेटे पर किया हमला, सौतेली मां ने दिया साथ

हसनगंज इलाके में पुरानी बांस मंडी ढाल के निकट संपत्ति विवाद में पिता और घरवालों ने मिलकर हलीम नामक युवक की हत्या कर दी

By: Karishma Lalwani

Published: 20 Feb 2021, 02:51 PM IST

पिता ने बेटे पर रॉड से किया हमला

लखनऊ. हसनगंज इलाके में पुरानी बांस मंडी ढाल के निकट संपत्ति विवाद में पिता और घरवालों ने मिलकर हलीम नामक युवक की हत्या कर दी। पुलिस ने हत्यारोपित पिता, सौतेली मां, भाई और बहन को हिरासत में ले लिया है। पुरानी बांस मंडी ढाल के पास रहने वाले हलीम उर्फ पप्पे निजी कंपनी में नौकरी करता था। उसका पिता कल्लू, सौतेली मां शाहिदा, सौतेले भाई फरहान और बहन खुशबू से संपत्ति को लेकर विवाद चल रहा था। एडीसीपी प्राची सिंह ने कहा कि हलीम का चार-पांच लाख रुपये को लेकर विवाद था। शुक्रवार को भी इसी बात पर विवाद शुरू हो गया। इसी बीच कल्लू, उसकी दूसरी पत्नी, बेटे और बेटी ने लोहे की रॉड और धारदार हथियार से हलीम पर ताबड़तोड़ कई वार किए और भाग निकले। खून से लथपथ हलीम को उसकी पत्नी रहनुमा मुहल्लेवालों की मदद से लेकर अस्पताल पहुंची, जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया। एडीसीपी प्राची सिंह व इंस्पेक्टर हसनगंज मौके पर पहुंचे। पुलिस ने दबिश देकर चारों हत्यारोपितों को पकड़ लिया। एडीसीपी ने कहा कि रहनुमा की तहरीर पर चारों के खिलाफ रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है।

कोविड ड्यूटी में डांस करने पर नौकरी से निकाला

लखनऊ. कोविड कंट्रोल रूम में ड्यूटी के दौरान डांस करने वाले सुपरवाइजर समेत पांच कर्मचारियों को नौकरी से निकाल दिया गया। वहीं, कार्यदायी एजेंसी को भी नोटिस जारी किया गया है। कोरोना मरीजों की परेशानी सुनने और उन्हें अस्पताल में भर्ती करने के लिए कोविड कंट्रोल रूम चल रहा है। इसमें एजेंसी के जरिये कर्मचारियों को तैनात किया गया है। गुरुवार को वायरल हुए वीडियो में पांच कर्मचारी रात के वक्त कंट्रोल रूम में लुंगी डांस कर रहे थे। इस दौरान तेज आवाज में गाना भी बज रहा था। कर्मचारियों ने खुद ही डांस का वीडियो बनाया और किसी को व्हाट्सअप कर दिया। इसके सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद स्वास्थ्य महानिदेशक डा. डीएस नेगी ने सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए। जांच में पता चला कि वीडियो 12 फरवरी का है। 14 फरवरी को भी इस तरह की मौज-मस्ती हुई, लेकिन उसका वीडियो नहीं मिला। खुलासे के बाद वीडियो में दिखने वाले पांच कर्मचारियों को हटा दिया गया है। वहीं, शुक्रवार सुबह कार्यालय पहुंचते ही डॉ. नेगी ने कोविड कंट्रोल रूम से जुड़े अफसरों को फटकार लगाई। नाइट ड्यूटी निगरानी में लगने वाले अधिकारी को भी कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है।

गोरखपुर जिला अस्पताल में बनेगा ट्रामा सेंटर

गोरखपुर. गोरखपुर जिला अस्पताल में अब ट्रॉमा सेंटर बनेगा। इसके लिए शासन की ओर से एक करोड़ 20 लाख रुपये स्वीकृत भी हो चुके हैं। अस्पताल के बगल में खाली पड़ी नौ हजार वर्गफीट जमीन में ट्रॉमा सेंटर का निर्माण किया जाएगा। ट्रामा सेंटर के भवन का मानचित्र भी स्वीकृत हो चुका है। शहर में ट्रामा सेंटर की सुविधा केवल बीआरडी मेडिकल कॉलेज में है। सड़क दुर्घटना में घायल, ब्रेन हैमरेज या हार्ट अटैक सहित अन्य गंभीर बीमारी होने पर मरीजों को अब तक बीआरडी मेडिकल कॉलेज के ट्रॉमा सेंटर जाना पड़ता था। बीआरडी में पहुंचने के लिए शहरवासियों को काफी मशक्कत उठानी पड़ती है क्योंकि यह शहर से दूर है। इसकी वजह से कई मरीज रास्ते में भी दम तोड़ देते हैं लेकिन जिला अस्पताल में ट्रॉमा सेंटर खुल जाने से आम आदमी को राहत मिलेगी। ट्रामा सेंटर में छह बेड का वार्ड होगा। यहां पर इमरजेंसी मेडिकल ऑफिसर के अलावा आर्थो व सर्जरी के डॉक्टर, नर्स व पैरामेडिकल स्टाफ 24 घंटे मौजूद रहेंगे जिससे मरीज के पहुंचने पर तत्काल उनका ऑपरेशन शुरू हो सके। इसके लिए ट्रॉमा सेंटर में आपरेशन थियेटर, एक्स-रे रूम व पैथोलाजी लैब भी बनाई जाएगी। साथ ही दो नर्सिंग स्टेशन व एक रिकॉर्ड रूम भी बनाया जाएगा।

कानपुर के होटल में मेडिकल छात्रा से छेड़छाड़

कानपुर. कानपुर मॉल रोड के एक होटल में एक मेडिकल छात्रा से दुष्कर्म किया गया। इंदौर की मूल निवासी छात्रा शहर के एक संस्थान में मेडिकल की पढ़ाई कर रही है। उसके मुताबिक सितंबर 2020 में उसकी दोस्ती फेसबुक पर लखनऊ के एक युवक से हो गई। फेसबुक आइडी में उसका नाम पंकज चड्ढा लिखा था। उसने खुद को दवा का बड़ा कारोबारी बताया।15 फरवरी को आरोपित ने छात्रा को फोन कर बर्थडे पार्टी की बात कही। 16 फरवरी को वह आया और छात्रा को लेकर मॉल रोड स्थित एक होटल पहुंचा। यहां उसके अन्य दोस्त भी थे और पार्टी हुई। सभी दोस्तों के जाने के बाद छात्रा ने भी उसे हॉस्टल छोड़ने के लिए कहा तो आरोपित ने उसे केक खाने की बात कहकर रोक लिया। केक खाने के बाद वह बेहोश हो गई। बाद में जब उसे होश आया तो कपड़े अस्तव्यस्त देखकर वह परेशान हो गई। उसने होटल के काउंटर पर जाकर पता किया तो एक मुंबई युवक की आइडी लगी होने की जानकारी हुई। छात्रा ने डीआइजी ऑफिस पहुंचकर अपने साथ हुई घटना की पूरी जानकारी दी।

सिपाही की तलाश में जुटे 50 से ज्यादा गोताखोर

लखीमपुर खीरी. उत्तर प्रदेश के लखीमपुर जिले में मंगलवार को हुए सड़क हादसे में एक सिपाही शारदा नहर में जा गिरा था. सिपाही का पता अब तक न लग पाया है। वहीं सिपाही की खोज के लिए 50 से ज्यादा गोताखोर लगे हुए हैं। दरअसल, लखीमपुर खीरी में एक पिकअप ने बाइक सवार सिपाही उमाशंकर और कौशल को टक्कर मार दी थी। इस हादसे में सिपाही कौशल जख्मी हो गया था और उमाशंकर उछल कर शारदा नहर में गिर गया था। उसकी तलाश में अब तक 50 से ज्यादा गोताखोर, चुम्बक, कांटो का जाल और ड्रोन कैमरा लगाया जा चुका है। सफलता न मिलने की वजह से अब लखनऊ से एसडीआरएफ की टीम बुला ली गई। एसडीआरएफ के प्रशिक्षित गोताखोरों ने शारदा नहर में उमाशंकर की तलाश शुरू कर दी। वहीं घटना स्थल से बीस मीटर की दूरी पर नहर से सर्च टीम को वजनी चुंबक की मदद से सिपाही की इंसास रायफल और कॉर्टेज बरामद करने में सफलता मिली।

ये भी पढ़ें: यूपी में अब सभी पदों पर ऐसे होंगे तबादले, योगी सरकार ने किया बदलाव

ये भी पढ़ें: मासूम के अपहरण में गिरफ्तार हुई महिला पुलिसकर्मी, सहकर्मियों ने कहा नहीं हुआ आश्चर्य, थाने में सब बनाते थे उससे दूरी

Karishma Lalwani
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned