यूपी मंत्री को मौलाना का करारा जवाब, कहा- जानकारी न हो, तो सवाल न उठाएं

यूपी मंत्री को मौलाना का करारा जवाब, कहा- जानकारी न हो, तो सवाल न उठाएं
Mohsin Raza

Abhishek Gupta | Updated: 12 Oct 2019, 05:33:15 PM (IST) Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

लखनऊ में मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड द्वारा अचानक बुलाई गई बैठक पर राजनीति शुरु हो गई है।

लखनऊ. लखनऊ में मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड द्वारा अचानक बुलाई गई बैठक पर राजनीति शुरु हो गई है। शनिवार को अल्पसंख्यक कल्याण राज्य मंत्री मोहसिन रजा ने इसको लेकर सवाल उठाए हैं व इस बैठक का विरोध भी किया है। यही नहीं उन्होंने इस एनजीओ को असंवैधानिक व आतंकवाद का समर्थक बताया है। मोहसिन रजा के इस हमले पर मौलाना खालिद रशीद फिरंगी महली ने पलटवार किया है और उन्हें चुप बैठने की नसीहत दी है।

ये भी पढ़ें- अयोध्या केसः मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड की बैठक में इन मुद्दों पर हुई चर्चा

मोहसिन रजा ने बैठक का विरोध जताते हुए पर्सनल लॉ बोर्ड को आतंकवाद समर्थक बता दिया। उन्होंने इसके फंडिंग की जांच की बात भी कही। उन्होंने एक बयान में कहा कि यह बैठक ऐसे वक्त में बुलाई गई है, जब सुप्रीम कोर्ट राम मंदिर पर फैसला देने वाला है। आपको बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने अयोध्या मामले की सुनवाई की तारीख 17 अक्टूबर तय की है।

ये भी पढ़ें- झांसी एनकाउंटर पर अखिलेश यादव ने दिया बड़ा बयान

मौलाना ने दी नसीहत-

धर्मगुरु मौलाना खालिद रशीद फिरंगी महली ने बैठक के बाद मोहसिन रजा के बयान पर पलटवार करते हुए उन्हें चुप बैठने की नसीहत दी है। उन्होंने कहा कि जिन लोगों को जानकारी नहीं हैं, उन्हें सवाल नहीं उठाने चाहिए। यूपी मंत्री द्वारा उठाए गए सवालों का जवाब देते हुए उन्होंने कहा कि हमारी संस्था देश के संविधान के मुताबिक रजिस्टर्ड है। इसका बाकायदा आयकर रिटर्न भी दाखिल किया जाता है। देश की आजादी में हमारे लोगों का बड़ा योगदान रहा है। हमने कभी ऐसी कोई बात नहीं कही, जो देश के खिलाफ हो।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned