राशन कार्ड धारकों ने बेचे 3 लाख से ज्यादा के गेहूं और धान

यूपी में इस बार राशन कार्ड धारकों ने 3 लाख से जयादा का गेहूं और धान की बिक्री की है खाद और रषद विभाग के अधिकारीयों ने सॉफ्टवेयर के जरिये पता किया.

By: Pragati Tiwari

Published: 25 Sep 2021, 04:27 PM IST

लखनऊ. यूपी में राशनकार्ड योजना ration card yojna चलाई गयी है राज्य सरक़ार के द्वारा चलाई जाने वाली योजना जिसके अंतर्गत सभी को कम दामों पर राशन मिलता है। और साथ ही राशन कार्ड को एक सबसे महत्वपूर्ण पहचान व निवास प्रमाण पत्र माना जाता है। राशन कार्ड योजना के तहत 3 लाख से कम आय होने पर शहरी क्षेत्रों और 2 लाख से कम आय होने पर ग्रामीण क्षेत्रों में राशन दिया जाता है। यूपी में इस बार राशन कार्ड धारकों ने 3 लाख से जयादा का गेहूं और धान की बिक्री की है ऐसे में खाद और रषद विभाग Department of Fertilizers and Logistics के अधिकारीयों ने सॉफ्टवेयर के जरिये पता किया। आधार कार्ड नंबर से जांच करने पर पता चला कि ये सभी धारक अपना ज्यादा से जयादा राशन बेच दिया है जिसकी कीमत 3 लाख से ऊपर है।

क्या है पूरा मामला - खाद एवं रशद विभाग Department of Fertilizers and Logistics ने अपने अधिकारीयों से जांच के आदेश दिए और रशद विभाग के अधिकारीयों ने अपने सॉफ्टवेयर के जरिये यह पता लगाया है जिअसे यह पता चला है। राशन कार्ड धारको ने 3 लाख से ज्यादा का धान बेचा है। इसमें 66 हज़ार ऐसे आधार कार्ड नंबर मिले है जिसमे 3 लाख का ज्यादा का अनाज बेचा गया है।
ऐसा कहा जा रहा है की जिन लोगों की आय 3 लाख से जयादा है फिर भी उन लोगो ने अपनी धान और गेंहू की फसल बेंची है ऐसे लोगों पर कार्यवाही की जाएगी जिससे आगे कभी भी लोगो को ऐसा करने से रोका जायेगा।

Pragati Tiwari
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned