ग्राम्य विकास विभाग को पीएमआवास योजना के लिए देश में पहला स्थान, मंत्री महेन्द्र सिंह को पुरस्कार

ग्राम्य विकास विभाग को पीएमआवास योजना के लिए देश में पहला स्थान, मंत्री महेन्द्र सिंह को पुरस्कार

Anil Ankur | Publish: Sep, 11 2018 08:01:38 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

लखनऊ तथा सीतापुर जनपद के जिलाधिकारियों सहित उत्तर प्रदेश को 12 पुरस्कार मिले

लखनऊ. ग्रामीण विकास मंत्रालय द्वारा मंगलवार को विज्ञान भवन में उत्तर प्रदेश के ग्राम्य विकास विभाग को प्रधानमंत्री आवास योजना तथा कंवर्जन्स कार्य में उत्कृष्ट कार्य के लिए भारत के सभी प्रदेशों के बीच पहले पुरस्कार से पुरस्कृत किया गया। इस पुरस्कार को ग्रामीण विकास मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर द्वारा दिया गया। इसके अतिरिक्त ग्राम्य विकास विभाग को तीन अन्य श्रेणियों में भी पुरस्कृत किया गया है। लखनऊ तथा सीतापुर जनपद के जिलाधिकारियों को ग्राम स्वराज अभियान-सबका साथ, सबका गांव, सबका कार्यक्रम को प्रभावीढंग से क्रियान्वित करने के लिए भी पुरस्कृत किया गया है। इस कार्यक्रम में राज्य, जिला, ब्लाक और पंचायत स्तर पर कार्यों हेतु विभिन्न अधिकारियों को पुरस्कृत किया गया है।

गरीब, शोषित व वंचित व्यक्तियों के लिए बनायी गयी योजना
इस आशय की जानकारी ग्राम्य विकास आयुक्त नागेन्द्र प्रसाद सिंह ने देते हुए बताया कि पहली बार ग्राम्य विकास विभाग, उ0प्र0 को राष्ट्रीय स्तर पर सम्मान मिला है। उन्हांेने बताया कि महेन्द्र सिंह के कुशल नेतृत्व में ग्राम्य विकास विभाग द्वारा लगातार ग्रामीण क्षेत्र में विकास कार्य किया जा रहा है तथा गरीब, शोषित व वंचित व्यक्तियों के लिए बनायी गयी सरकार की योजना से उनको लाभान्वित कर समाज की मुख्यधारा से जोड़ा जा रहा है। श्री सिंह ने बताया कि समाज के अंतिम व्यक्ति तक विभाग की योजना पहंुचाना ही ग्राम्य विकास विभाग का सर्वप्रमुख लक्ष्य है। उन्होंने बताया कि ग्राम्य विकास विभाग ने नयी तकनीक को अपनाते हुए विकास कार्य प्रारम्भ कर दिया है।

ग्राम्य विकास विभाग को तीन अन्य श्रेणियों में भी पुरस्कार
ग्राम्य विकास आयुक्त ने बताया कि प्रधानमंत्री आवास योजना तथा कंवर्जन्स कार्य के लिए (विभिन्न विभागों से समन्व्य स्थापित कर कार्य करने के लिए) देश में प्रथम स्थान से सम्मानित किया गया है इसके साथ ही सभी योजनाओं में अच्छा प्रदर्शन करने के लिए भी देश में प्रथम स्थान मिला है। इसके अतिरिक्त ग्राम्य विकास विभाग को तीन अन्य श्रेणियों में भी पुरस्कार मिला है। उन्होंने बताया कि ग्राम्य विकास विभाग को कुल 6 पुरस्कारों से सम्मानित किया गया है। सिंह ने बताया कि प्रदेश में ग्राम स्वराज अभियान-सबका साथ, सबका गांव, सबका विकास कार्यक्रम संचालित किया गया था, जिसमें उत्कृष्ट कार्य के लिए जनपद लखनऊ के जिलाधिकारी कौशलराज शर्मा तथा सीतापुर के जिलाधिकारी को ग्रामीण मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा पुरस्कृत किया गया।

उत्तर प्रदेश को कुल 12 पुरस्कार प्राप्त

सिंह ने बताया कि उत्तर प्रदेश को कुल 12 पुरस्कार प्राप्त हुआ है। जिला, ब्लाक, तथा पंचायत स्तर पर सबसे अच्छा कार्य करने वाले अधिकारियों को भी पुरस्कृत किया गया है। उल्लेखनीय है कि 14 अप्रैल, 2018 से 05 मई, 2018 तक ग्राम स्वराज योजना के तहत उज्ज्वला योजना, मिशन इन्द्रधनुष, प्रधानमंत्री सौभाग्य योजना, उजाला, प्रधानमंत्री जनधनयोजना, प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना और प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना का आच्छादान किया गया था।

Ad Block is Banned