scriptsalman khurshid comparison rss to isis in book court ordered to FIR | RSS की तुलना ISIS और बोको हरम से करके फंसे पूर्व केंद्रीय मंत्री सलमान खुर्शीद, FIR के आदेश जारी | Patrika News

RSS की तुलना ISIS और बोको हरम से करके फंसे पूर्व केंद्रीय मंत्री सलमान खुर्शीद, FIR के आदेश जारी

उत्तर प्रदेश चुनावों में कांग्रेस नेता सलमान खुर्शीद ने अपनी किताब में आरएसएस (RSS) की तुलना ISIS और बोको हरम से करने पर उनकी मुश्किलें बढ़ने जा रही हैं. अब उन पर एक सामाजिक कार्यकर्ता ने कोर्ट में पीआईएल दाखिल की थी. जिसके बाद उन पर FIR दर्ज करने का आदेश हो गया है.

लखनऊ

Published: December 23, 2021 11:42:07 pm

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
लखनऊ. कांग्रेस नेता सलमान खुर्शीद द्वारा सनराइज ओवर अयोध्या की पुस्तक में हिंदुत्व की तुलना दुनिया के खूंखार आंतकी संगठन बोको हरम (Boko Haram) और ISIS से करने के मामले में लखनऊ की एक अदालत ने उनके खिलाफ संबंधित धाराओं के तहत मामला दर्ज कर जांच के आदेश दिए हैं।
salman_khurshid_1.jpg
एसीजेएम शांतनु त्यागी ने स्थानीय वकील शुभांशी तिवारी के एक आवेदन पर संज्ञान लेते हुए यह आदेश दिए हैं और एसएचओ बीकेटी को तीन दिन के भीतर एफआइआर की कॉपी कोर्ट में पेश करने का भी आदेश दिया है। इससे सलमान खुर्शीद की मुश्किलें बढ़ गई हैं।
वरिष्ठ वकील को ऐसी बातें शोभा नहीं देती वो जिम्मेदार हैं

इस मामले में शुभांशी तिवारी ने कहा कि सलमान खुर्शीद वरिष्ठ वकील हैं और वह कई पदों पर रहे हैं और जब मैंने सनराइज ओवर अयोध्या पढ़ी तो पुस्तक के कुछ हिस्से विवादास्पद थे और हिंदू धर्म पर तीखा हमला है। उन्होंने कोर्ट से कहा कि इस पुस्तक के पृष्ठ संख्या 113 के अध्याय 6 (डी) में लिखा गया है- भारत के सनातन धर्म और मूल हिंदुत्व की, जिसकी हम बात करते रहे हैं, भारत के संतों के नाम से पहचाना जाता है। आज उस पहचान को हम कट्टर हिंदुत्व के बल पर अलग कर रहे हैं. वर्मतान में हिंदुत्व का राजनीतिक संस्करण लाया गया है और जो इस्लामिक जेहादी संगठनों आइएसआइएस और बोको ***** के समान है।
खुर्शीद ने इंटरव्यू में की घृणित टिप्पणी
वहीं शुभांशी का यह भी आरोप है कि लेखक ने अपनी किताब के प्रमोशन के दौरान फिर से हिंदू धर्म पर घृणित टिप्पणी की हैं और हिंदुत्व की तुलना जानवर और हैवान से की है। शुभांशी का कहना है कि लेखक किसी खास राजनीतिक दल की विचारधारा से संबंध रखता है, इसलिए उसने उत्तर प्रदेश में होने वाले चुनावों को देखते हुए अपने राजनीतिक दल को लाभ पहुंचाने के इरादे से यह किताब लिखी है। उनका कहना है कि किताब में उन्होंने हिंदुत्व की तुलना उन संगठनों से की, जिन्होंने 2014 से 2018 के बीच 29 देशों में 2,000 से ज्यादा लोगों की हत्या की है. लेखक का मकसद किताब लिखना नहीं बल्कि एक वर्ग विशेष के वोटों का ध्रुवीकरण करना था।
आस्था को लेखक ने पहुंचाई ठेस
शुभांशी ने कहा कि वह हिंदू धर्म से संबंध रखती हैं और हिंदुत्व में विश्वास करती हैं. उनका कहना है कि हिंदू शब्द का गुण है. यही कारण है कि वह अपने धर्म पर हमला होते देख वह मानसिक रूप से व्यथित है और इससे उनकी भावनाओं को ठेस पहुंची है। शुभांशी ने कहा कि इस मामले में लेखक के खिलाफ मामला दर्ज करने के साथ ही इस पुस्तक की प्रति जब्त करने के आदेश भी दिए जाएं और इस प्रकार की विवादास्पद लेखन पर रोक लगाई जाए।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

ससुराल में इस अक्षर के नाम की लडकियां बरसाती हैं खूब धन-दौलत, किस्मत की धनी इन्हें मिलते हैं सारे सुखGod Power- इन तारीखों में जन्मे लोग पहचानें अपनी छिपी हुई ताकत“बेड पर भी ज्यादा टाइम लगाते हैं” दीपिका पादुकोण ने खोला रणवीर सिंह का बेडरूम सीक्रेटइन 4 राशियों की लड़कियां जिस घर में करती हैं शादी वहां धन-धान्य की नहीं रहती कमीकरोड़पति बनना है तो यहां करे रोजाना 10 रुपये का निवेशSharp Brain- दिमाग से बहुत तेज होते हैं इन राशियों की लड़कियां और लड़के, जीवन भर रहता है इस चीज का प्रभावमौसम विभाग का बड़ा अलर्ट जारी, शीतलहर छुड़ाएगी कंपकंपी, पारा सामान्य से 5 डिग्री नीचेइन 4 नाम वाले लोगों को लाइफ में एक बार ही होता है सच्चा प्यार, अपने पार्टनर के दिल पर करते हैं राज

बड़ी खबरें

India-Central Asia Summit: सुरक्षा और स्थिरता के लिए सहयोग जरूरी, भारत-मध्य एशिया समिट में बोले पीएम मोदीAir India : 69 साल बाद फिर TATA के हाथ में एयर इंडिया की कमानयूपी चुनाव से रीवा का बम टाइमर कनेक्शननागालैंड में AFSPA कानून को खत्म करने पर विचार कर रही केंद्र सरकारजिनके नाम से ही कांपते थे आतंकी, जानिए कौन थे शहीद बाबू राम जिन्हें मिला अशोक चक्रUP Election 2022: भाजपा सरकार ने नौजवानों को सिर्फ लाठीचार्ज और बेरोजगारी का अभिशाप दिया है: अखिलेश यादवतमिलनाडु सरकार का बड़ा फैसला, खत्म होगा नाईट कर्फ्यू और 1 फरवरी से खुलेंगे सभी स्कूल और कॉलेजपीएम नरेंद्र मोदी कल करेंगे नेशनल कैडेट कॉर्प्स की रैली को संभोधित, दिल्ली के करियप्पा ग्राउंड में होगा कार्यक्रम
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.