मुलायम, शिवपाल के बिना हुआ सपा का 8वां राज्य सम्मेलन

मुलायम, शिवपाल के बिना हुआ सपा का 8वां राज्य सम्मेलन
Mulayam Shivpal

Shatrudhan Gupta | Updated: 23 Sep 2017, 08:11:25 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

यह पहला मौका था, जब समाजवादी पार्टी (सपा) का कोई सम्मेलन बगैर पार्टी संस्थापक मुलायम सिंह यादव और वरिष्ठ नेता शिवपाल सिंह यादव के बगैर हुआ।

लखनऊ. यह पहला मौका था, जब समाजवादी पार्टी (सपा) का कोई सम्मेलन बगैर पार्टी संस्थापक मुलायम सिंह यादव और वरिष्ठ नेता शिवपाल सिंह यादव के बगैर हुआ। सपा का ८वां राज्यस्तरीय सम्मेलन शनिवार को इन दोनों वरिष्ठ नेताओं के अनुपस्थिति में ही शुरू हुआ। दरअसल, राजधानी लखनऊ के रमाबाई अंबेडकर मैदान में आयोजित समाजवादी पार्टी के प्रदेश सम्मेलन में मुलायम सिंह यादव के कई करीबी नेता नजर आए, पर मुलायम सिंह यादव की अनुपस्थिति कई दिग्गजों को खली। हालांकि, सपा के पिछले कई कार्यक्रमों में जहां अखिलेश यादव मौजूद रहे, वहां मुलायम और शिवपाल गैरमौजूद ही रहे। सूत्र बताते हैं कि इस सम्मेलन के लिए शिवपाल सिंह यादव को आमंत्रित ही नहीं किया गया था, जिसकी पुष्टि पिछले दिनों शिवपाल ने खुद की थी। पिछले दिनों इटावा में पत्रकारों के एक जवाब में पार्टी के वरिष्ठ नेता और जसवंत नगर विधानसभा सीट से सपा विधायक शिवपाल यादव ने कहा था कि उन्हें राज्य सम्मेलन में नहीं बुलाया गया है, इसलिए वह कार्यक्रम में नहीं जाएंगे।

10 हजार से ज्यादा प्रतिनिधि पहुंचे

राजधानी लखनऊ में आयोजित समाजवादी पार्टी के राज्य स्तरीय सम्मेलन में प्रदेश भर से करीब 10 हजार से ज्यादा कार्यकर्ता पहुंचे। सम्मेलन में अखिलेश यादव के अलावा उनके करीब पूर्व मंत्री नरेश अग्रवाल, प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तर पटेल, किरनमय नंदा समेत कई वरिष्ठ सपाई पहुंचे, लेकिन अखिलेश के पिता और पार्टी के संरक्षक मुलायम सिंह यादव और चाचा शिवपाल सिंह यादव गैर मौजूद रहे। हालांकि, सम्मेलन में मुलायम के कई करीबी नेता भी नजर आए। सम्मेलन की शुरुआत अखिलेश यादव ने झंडारोहण कर की।

अखिलेश ने बीजेपी सरकार पर बोला हमला

सम्मेलन की शुरुआत पूर्व मुख्यमंत्री व पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव ने की। प्रदेश में भाजपा सरकार के छह माह के कार्यकाल को लेकर अखिलेश ने निशाना साधा। सपा सुप्रीमो ने कहा कि बीजेपी के छह महीने के शासन में प्रदेश का बंटाधार हो गया। इनका मुद्दा विकास नहीं है। ये लोग केवल बोलने का काम करते हैं। नोटबंदी को कितना बड़ा मुद्दा बनाया गया था, अब बताओ कितना भ्रष्टाचार और आतंकवाद रुका। उन्होंने कहा कि आने वाले समय में बड़े नुकसान वाले परिणाम आएंगे।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned