इलाहाबाद के छात्रों से जेल मिलने जाएंगे सपा नेता- अखिलेश ने बनाई जांच टीमें

यूपी सरकार युवाओं और छात्र विरोधी- सपा

By: Anil Ankur

Published: 07 Jun 2018, 08:29 PM IST

लखनऊ. समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव के निर्देश पर प्रदेश की विभिन्न जेलों में अलग-अलग बंद इलाहाबाद विश्वविद्यालय के छात्र नेताओं की स्थिति की जानकारी के लिए पांच जांच कमेटियां गठित की गईं हैं जो लौटकर राष्ट्रीय अध्यक्ष को अपनी रिपोर्ट देंगी। इन छात्र नेताओं की गिरफ्तारी विश्वविद्यालय के हास्टल खाली कराने का विरोध करने पर हुई थी।

राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा है कि इलाहाबाद विश्वविद्यालय के छात्रों पर 4 जून को हुआ लाठी चार्ज और छात्र नेताओं को प्रदेश की विभिन्न जेलों में बंदी बनाना निंदनीय और अमानवीय कृत्य है। विश्वविद्यालय के प्रशासन के तुगलकी फरमान के फलस्वरूप छात्रों में जो आक्रोश हुआ उसके लिए जिला प्रशासन भी जिम्मेदार है। भीषण गर्मी में बिना पूर्ण सूचना के छात्रों को बेघर करने का कोई औचित्य नहीं था क्योंकि इन दिनों तमाम प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी भी छात्र करते हैं। उन्होंने गिरफ्तार छात्र नेताओं की तत्काल रिहाई और उन पर दर्ज मुकदमें वापस लिए जाने की मांग की है।

राष्ट्रीय सचिव राजेन्द्र चैधरी ने बताया है कि प्राप्त जानकारी के अनुसार चित्रकूट जेल में इलाहाबाद विश्वविद्यालय छात्र संघ के अध्यक्ष अवनीश यादव, उपाध्यक्ष चन्द्रशेखर के अतिरिक्त छात्र सभा के अविनाश विद्यार्थी बंदी हैं। उनसे सम्पर्क एवं स्थिति की जानकारी के लिए बालकुमार पटेल पूर्व सांसद, अतुल प्रधान, अनुज यादव जिलाध्यक्ष चित्रकूट तथा नरेन्द्र गुप्त नगर पालिका अध्यक्ष की जांच कमेटी बनाई गई है।

जौनपुर जेल में बंदी छात्र नेताओं में सर्वश्री उदय यादव, साकेत मिश्रा तथा अभिषेक यादव से सम्पर्क तथा जांच के लिए पूर्व मंत्री पारस नाथ यादव विधायक, राज बहादुर यादव जिला पंचायत अध्यक्ष, श्याम बहादुर पाल तथा जगदीश सोनकर विधायक की जांच कमेटी जाएगी।

मिर्जापुर जेल में बंदी छात्रनेताओं में कौशल सिंह तथा अनुराग गुप्ता से आशीष यादव जिलाध्यक्ष मिर्जापुर, रोहित शुक्ला पूर्व प्रत्याशी, जगदम्बा सिंह पटेल, पूर्व विधायक तथा कैलाश चैरसिया पूर्व विधायक की जांच कमेटी जाकर जेल में मिलेगी।

कौशाम्बी जेेल में बंदी निर्भय द्विवेदी छात्रनेता से सम्पर्क तथा हालात की जाकारी के लिए खडक सिंह पटेल जिलाध्यक्ष, कौशाम्बी, हेमन्त कुमार टुन्नू तथा राम सजीवन निर्मल पूर्व विधायक की जांच कमेटी बनाई गई है। प्रतापगढ़ जेल में बंदी छात्रनेताओं में आशीष यादव और अजय सिंह से सम्पर्क तथा जांच के लिए सर्व राम सिंह पटेल जिलाध्यक्ष प्रतापगढ़,नागेन्द्र सिंह मुन्ना पूर्व विधायक, शिवकांत ओझा, पूर्व विधायक तथा सी.एन.सिंह पूर्व सांसद की जांच कमेटी गठित की गई है।

Anil Ankur Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned