प्रदेश के सभी 18 मण्डलों में श्रमिकों के बच्चों के लिए विद्यालय स्थापित होंगे

प्रदेश के सभी 18 मण्डलों में श्रमिकों के बच्चों के लिए विद्यालय स्थापित होंगे
schools for all labour children soon in UP says Yogi

Anil Ankur | Updated: 14 Jun 2019, 11:31:25 AM (IST) Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

बाल श्रमिकों की समस्या का व्यावहारिक समाधान निकालने के निर्देश

 

लखनऊ. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज यहां लोक भवन में श्रम विभाग के प्रस्तुतिकरण का अवलोकन किया और कार्याें की समीक्षा की। उन्होंने बाल श्रमिकों की समस्या का व्यावहारिक समाधान निकालने के निर्देश देते हुए कहा कि उनके भोजन और आवास की व्यवस्था की जाए। उनकी शिक्षा की व्यवस्था करने के साथ-साथ उनका कौशल विकास भी सुनिश्चित किया जाए। इससे भविष्य में उन्हें आजीविका मिलने में आसानी होगी। उन्होंने प्रदेश के सभी 18 मण्डलों में पंजीकृत श्रमिकों के बच्चों के लिए विद्यालय स्थापित करने के निर्देश दिए।


मुख्यमंत्री ने ऐसे श्रमिक, जो जीविकोपार्जन के सिलसिले में खाड़ी के देशों में काम करने जाते हैं और वहां मुश्किल में फंस जाते हैं, की मदद के लिए प्रयास करने के भी निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि खाड़ी देशों में फंसने वाले श्रमिकों की सुरक्षा के प्रति सरकार चिन्तित है और उनकी हर सम्भव मदद की जाएगी।


श्रम विभाग के अधिकारियों ने प्रस्तुतिकरण के दौरान मुख्यमंत्री को राज्य में श्रम परिदृृश्य, श्रम अधिनियमों में संशोधन, प्रभावी एवं पारदर्शी प्रवर्तन तथा प्रक्रियात्मक सुधार, पंजीयन, लाइसेन्स एवं नवीनीकरण की आॅनलाइन प्रक्रिया के विषय में अवगत कराया। उन्होंने अवगत कराया कि श्रम अधिनियमों में संशोधन के द्वारा 5 अधिनियमों में 1 दिन में पंजीयन और अनुज्ञप्ति अनिवार्य है। आठ श्रम अधिनियमों में उपशमन की व्यवस्था की गयी है।


मुख्यमंत्री को अधिकारियों द्वारा अवगत कराया गया कि लघु उद्योगों के लिए अनुपालन भार कम कर दिया गया है। उन्होंने प्रक्रियात्मक सुधार पर प्रकाश डालते हुए बताया कि इकाइयों के निरीक्षण के लिए पारदर्शी प्रक्रिया अपनायी जाती है। इसके लिए श्रम आयुक्त से पूर्व अनुमति अनिवार्य है। उन्होंने उ0प्र0 असंगठित कर्मकार सामाजिक सुरक्षा बोर्ड के गठन, प्रधानमंत्री श्रमयोगी मानधन योजना, बाल एवं बंधुआ श्रम-चिन्हांकन, योजनाएं एवं पुनर्वास के विषय में भी मुख्यमंत्री जी को अवगत कराया। उन्होंने श्रम आयुक्त संगठन द्वारा वर्ष 2019-20 एवं वर्ष 2020-21 की कार्य योजना से मुख्यमंत्री जी को अवगत कराया। उन्हें श्रम विभाग के तहत कार्यरत प्रशिक्षण एवं सेवायोजन निदेशालय के क्रियाकलापों के विषय में भी अवगत कराया गया।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned