BJP का टिकट पाने के लिए 27 लाख रुपए में हुई थी डील, पर हुआ खुलासा तो....

BJP का टिकट पाने के लिए 27 लाख रुपए में हुई थी डील, पर हुआ खुलासा तो....
BJP

Shatrudhan Gupta | Updated: 01 Nov 2017, 05:20:39 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

भाजपा BJP से टिकट दिलाने के नाम पर सात लाख रुपए ठग लिए। विभूतिखंड पुलिस ने मामले की रिपोर्ट दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

लखनऊ. लखनऊ में उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में टिकट दिलाने के नाम पर बड़ा जालसाजी का मामला सामने आया है। राजधानी लखनऊ के विभूतिखंड थाने में एक व्यक्ति के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई गई है। एफआईआर दर्ज कराने वाले का आरोप है कि ये शख्स खुद को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह का पुरोहित बताता है। इसने एक शख्स से 2017 के उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में भाजपा BJP से टिकट दिलाने के नाम पर सात लाख रुपए ठग लिए। विभूतिखंड पुलिस ने मामले की रिपोर्ट दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

खुद को बताया था अमित शाह का पुरोहित

यह आरोप बलरामपुर के रेहार बाजार स्थित सराय खास निवासी अनिल श्रीवास्तव ने लगाए हैं। उन्होंने राजधानी लखनऊ के विभूतिखंड थाने में भाजपा अध्यक्ष अमित शाह का पुरोहित बताने वाले के खिलाफ केस दर्ज कराया है। शिकायतकर्ता अनिल श्रीवास्तव के मुताबिक वह यूपी विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी BJP से उतरौला सीट से टिकट चाह रहे थे। उन्होंने बताया कि इसी दौरान उनकी मुलाकात लखनऊ के विशेषखंड निवासी आरपी तिवारी से हुई। आरपी तिवारी ने खुद को भाजपा अध्यक्ष अमित शाह का पुरोहित बताता था। श्रीवास्तव का आरोप है कि आरपी तिवारी ने उनसे कहा कि वह अमित शाह के पुरोहित हैं। वह उन्हें भाजपा से टिकट दिला देंगे, लेकिन इसके लिए उन्हें सात लाख रुपए देने होंगे। तिवारी की बात पर यकीन कर उन्होंने उसे सात लाख रुपए दे दिए।

27 लाख रुपए में हुई थी डील

शिकायतकर्ता अनिल श्रीवास्तव ने बताया कि टिकट के नाम पर पत्नी से 27 लाख रुपए की डील की। इसमें सात लाख रुपए हड़प लिए। रकम वापस मांगने पर आरपी तिवारी ने पत्नी से अभद्रता करने और जालसाजी से दस्तावेज तैयार कर फर्जी मामला तैयार करने का भी आरोप लगाया है। अनिल का कहना है कि उनको बताए बिना उनकी पत्नी ने उनके गुरु योगेंद्र कुमार मिश्रा के माध्यम से आरपी तिवारी से मुलाकात की थी।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned