बोले शिवपाल-मैं सपा में रहना चाहता था, लेकिन वहां कोई पूछ नहीं रहा था

बोले शिवपाल-मैं सपा में रहना चाहता था, लेकिन वहां कोई पूछ नहीं रहा था

Ashish Pandey | Publish: Sep, 02 2018 04:06:26 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

सपा-बसपा गठबंधन पर उठाया बड़ा सवाल.

 

लखनऊ. लोकसभा चुनाव से पहले ही शिवपाल यादव ने यूपी की राजनीति में भूचाल ला दिया है। सपा और बसपा की अगुवाई में गठबंधन की आधिकारिक घोषणा होने से पहले ही शिवपाल ने अपना अलग समाजवादी सेक्युलर मोर्चा बनाने का एलान कर सपा और बसपा के लिए ही मुश्किलें बढ़ा दी हैं। शिवपाल ने यूपी की 80 लोकसभा सीटों पर चुनाव लडऩे की घोषणा भी कर दी है।
एक प्रतिष्ठित वेबसाइट से बातचीत में शिवपाल सिंह यादव ने कहा कि सपा अपने मूल सिद्धांतों से भटक गई है। हम पार्टी में रहना चाहते थे लेकिन बहुत से लोगों को पार्टी में सम्मान नहीं मिल रहा था, उनकी उपेक्षा हो रही थी। काफी इंतजार भी किया, प्रयास भी किया की पार्टी में सब एक साथ रहें। कहा कि मैं इसका दोष किसी को नहीं देना चाहूंगा, अब जनता को फ़ैसला लेना है।

उन्होंने कहा कि मेरी बीजेपी से कभी बातचीत नहीं हुई है। उन्होंने भी नहीं की और मैंने भी कभी बातचीत नहीं की, जिन लोगों से मैं बात करता रहा हूं, इंतज़ार करता रहा हूं वहां इतना अपमान और इतनी उपेक्षा। अब करें बातचीत, जो लोग ये बात कर रहे हैं। बना लो गठबंधन, बनाते क्यों नहीं। मेरे बिना बना रहे थे, तो अब तक क्यों नहीं बनाया। अब क्यों चिंता हो गई। अब तक कोई चिंता नहीं थी किसी को, अब क्यों हो गई।

जो भी काम किया है वो डंके की चोट पर किया है
अगर अखिलेश यादव आपसे से बात करें तो क्या सुलह का रास्ता बचा है। इस सवाल के जवाब में शिवपाल ने कहा कि जो क़दम मैंने आगे बढ़ा लिया है, वो बढ़ गया है। जो भी काम किया है वो डंके की चोट पर किया है। राष्ट्रपति के चुनाव में ना तो समाजवादी पार्टी ने ना कांग्रेस ने मुझसे वोट मांगा। मैंने 30 साल तक लगातार संघर्ष किया है। खून पसीने से समाजवादी पार्टी बनाई, लेकिन वहां कोई पूछ नहीं रहा था।

मजबूत संगठन बना चुनाव में उतरेंगे
शिवपाल यादव ने कहा कि अब जो समान विचारधारा वाले दल हैं, गांधीवादी लोग हैं, लोहियावादी लोग हैं, चरण सिंह वादी लोग हैं, उन सबसे बातचीत करके उन्हें एकजुट कर मजबूत संगठन बना कर हम चुनाव मैदान में उतरेंगे। हम यूपी की 80 लोकसभा की सीटों पर अपने उम्मीदवार खड़ा करेंगे। उन्होंने कहा कि 2019 में वही होगा जो जनता फ़ैसला लेगी। ऐसे बहुत से मौके आए हैं जब लोगों ने जिनके बारे में सोचा भी नहीं था, उनकी सरकार बनी है। उन्होंने कहा कि सब जनता के ऊपर है, मैं जनता के पास जाकर समर्थन मांगूंगा।

 

Ad Block is Banned