किन कैदियों से मुलाकात करने जेल गए थे शिवपाल सिंह यादव? जेल प्रशासन ने बताने के किया इनकार

किन कैदियों से मुलाकात करने जेल गए थे शिवपाल सिंह यादव? जेल प्रशासन ने बताने के किया इनकार

Nitin Srivastva | Updated: 14 May 2019, 10:08:41 AM (IST) Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

- शिवपाल ने इटावा जेल में कैदियों से की मुलाकात
- किन कैदियों से की मुलाकात, यह अभी साफ नहीं
- जेल प्रशासन भी कुछ बताने से कर रहा इऩकार

लखनऊ. प्रगतिशील समाजवादी पार्टी लोहिया के राष्ट्रीय अध्यक्ष और सपा सरकार में मंत्री रहे शिवपाल सिंह यादव ने सोमवार को इटावा जिला कारागार जाकर वहां सजा काट रहे बंदियों से मुलाकात की। शिवपाल करीब एक घंटे तक जेल में रहे। हालांकि शिवपाल यादव ने जेल में किन-किन लोगों से मुलाकात की इसकी जानकारी साफ नहीं हो सकी है। वहीं शिवपाल यादव के जेल में आने और कैदियों से मुलाकात के बारे में जेल अधीक्षक राज किशोर सिंह से जब बात की गई तो उन्होंने बताया कि वह जेल में बंद कुछ लोगों से मिलने के लिए आए थे। हालांकि जेल में उन्होंने किन किन लोगों से मुलाकात की इसकी जानकारी देने से उन्होंने मना कर दिया।


शिवपाल ने कहा- कई सीटों पर जीतेगी प्रसपा

आपको बता दें अखिलेश यादव की समाजवादी पार्टी से किनारा करने के बाद शिवपाल सिंह यादव ने प्रगतिशील समाजवादी पार्टी लोहिया बनाई है। नया दल बनाने के बाद से ही वह लगातार सक्रिय हैं और संगठन को मजबूत करने में जुटे हैं। लोकसभा चुनाव में भी शिवपाल ने कई सीटों से अपनी पार्टी के प्रत्याशियों को मैदान में उतारा है। बीते दिनों शिवपाल सिंह यादव ने लोकसभा चुनाव के बाद अपने समर्थन को लेकर भी बड़ा बयान दिया था। शिवपाल यादव ने कहा था कि फिरोजाबाद लोकसभा सीट से उनकी जीत फाइनल है। उन्होंने कहा कि यूपी की कई सीटों पर उनकी पार्टी जीत दर्ज करने जा रही है। उनकी पार्टी को लेकर जनता ने बीच काफी उत्साह दिखा है।

 

शिवपाल किसको देंगे अपना समर्थन?

लोकसभा चुनाव के नतीजों के बाद वह किसे अपना समर्थन देंगे, इस सवाल के जवाब में उन्होंने कहा था कि वह इसका फैसला परिणाम आने के बाद करेंगे। शिवपाल ने कहा कि वह सेकुलर दलों के साथ रहना चाहते हैं। उन्होंने तो चुनाव से पहले भी कांग्रेस और सपा-बसपा गठबंधन से बातचीत की थी। अगर हमारा गठबंधन हो गया होता तो आज बात दूसरी ही होती। लेकिन अब अगर कोई सम्मान नहीं करना चाहता तो वह वहां जाएंगे जहां उनको सम्मान मिलेगा।

 

'मायावती का कोई ठिकाना नहीं'

भतीजे अखिलेश यादव की तरफ से बसपा सुप्रीमो मायावती ? को प्रधानमंत्री बनाने के सवाल पर शिवपाल ने साफ शब्दों में कहा कि उनका कोई ठिकाना नहीं है। मायावती कब किससे समझौता कर लें, यह कोई जान नहीं सकता। मायावती तीन बार भाजपा की मदद से मुख्यमंत्री बन चुकी हैं। इसलिए चुनाव के बाद एक बार फिर वह भाजपा के साथ चली जाएं तो कोई हैरानी वाली बात नहीं होगी। शिवपाल ने पूछा क्या अखिलेश यादव इस बात की गारंटी लेंगे कि मायावती एक बार फिर भाजपा के साथ नहीं जाएंगी।

 

'2022 में बनाएंगे सरकार'

शिवपाल ने आगे कहा कि मायावती हमेशा सपा के नेताओं और कार्यकर्ताओं को गुंडा कहती थीं। आज अखिलेश ने उनसे हाथ मिलाकर कर समाजवादी विचारों का गला घोंट दिया है। शिवपाल यादव ने आगे कहा कि उनकी पार्टी का लक्ष्य अब 2022 का विधानसभा चुनाव है। 2022 में उत्तर प्रदेश में प्रगतिशील समाजवादी पार्टी की सरकार बनेगी। लोकसभा चुनाव बाद वह अपनी पार्टी के संगठन को और मजबूत करेंगे और प्रदेश भर में दौरा करेंगे। उन्होंने कहा कि उनकी तीन महीने पुरानी पार्टी होने के बावजूद उन्होंने 11 राज्यों में प्रत्याशी उतारे। वह अब पूर्वांचल में अपने प्रत्याशियों के लिए रैली करेंगे।

 

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned