शराब के ठेकों पर उमड़ी भीड़ पर अखिलेश यादव ने कसा तंज, भाई साहब! 5 ट्रिलियन इकॉनमी के लिए क्या इसी लाइन में लगना है?

सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा सरकार में हर बात के लिए पंक्तिबद्ध रहना होगा

By: Hariom Dwivedi

Published: 05 May 2020, 10:50 AM IST

लखनऊ. अर्थव्यवस्था को गति देने के लिए सोमवार को प्रदेश भर में शराब की दुकानें खोलने की अनुमति दे दी गई। हॉटस्पाट और कंटेनमेंट जोन को छोड़कर सभी जगह शराब के ठेके खुले। पियक्कड़ों की खूब भीड उमड़ी है। कमोबेश उत्तर प्रदेश के हर जिल में शराब की दुकानों के सामने लंबी-लंबी लाइनें लग गई। इस पर समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने तीखा तंज कसते हुए कहा कि भाई साहब कृपया ये बताएं कि 5 ट्रिलियन की अर्थव्यवस्था तक पहुंचने के लिए क्या इसी लाइन में लगना है?

सपा प्रमुख अखिलेश यादव ने कहा कि भाजपा सरकार में हर बात के लिए पंक्तिबद्ध रहना होगा। नोटबंदी से लेकर शराब लेने के लिए हर किसी को पहले लाइन में खड़े रहना भारतीयों की नियत हो गई है। कहा रेलवे ने पैसा कामकर प्रधानमंत्री कोष में दान दिया। फिर वही पैसा वसूलने के लिए भूखे-प्यासे घर लौट रहे गरीब श्रमिकों से 50 रुपए सरचार्ज लगाकर किराया लिया जा रहा है। कहा कि आपदाकाल में गरीब का शोषण भाजपा मॉडल है।

सरकार के बंधक बन गये हैं मजदूर : अखिलेश
असंवेदनशील केंद्र सरकार व रेलवे मुंबई के मज़दूरों की ट्रेन चलाने की पुकार न जाने कब सुनेगी। संकट के समय मज़दूर भावनात्मक रूप से अपने घर और घरवालों से दूरी महसूस कर रहे हैं। गुजरात में भी कई जगह अशांति है। देशभर के मज़दूरों को लग रहा है कि अब वो भाजपा सरकार के बंधक बन गये हैं।

Hariom Dwivedi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned