scriptSpecial paper bottle to save nature | मार्केट में आने वाली है खूबसूरत कागज की बोतल, रेट जान के हैरान हो जाएंगे आप | Patrika News

मार्केट में आने वाली है खूबसूरत कागज की बोतल, रेट जान के हैरान हो जाएंगे आप

उद्यमी अब बेहतर कागज की बोतल बनाने की ओर काम कर रहे हैं। समीक्षा पानी और जूस के लिए ऐसी बोतल तैयार कर रही हैं जिसमें जूस व पानी को आसानी से रखा जा सके और यह सुविधाजनक हो। खास तरह की इस कागज की बोतलों के निर्माण के बाद उन्होंने बोतल को पेटेंट कराने के लिए आवेदन किया है। तीन खाद्य व पेय पदार्थ निर्माता कंपनियों ने भी कागज की बोतल में रुचि दिखाई है।

लखनऊ

Updated: March 29, 2022 12:00:44 pm

Paper bottle गर्मी का मौसम शुरू हो गया है ऐसे में लोगों के हाथ में आप प्लास्टिक या कांच की बोतल देखेंगे। लेकिन इन दिनों कागज से बनी बोतल की चर्चा काफी तेजी से हो रही हैं। कागज की बोतल अब जहां सुविधा जनक साबित हो रही है वहीं इससे प्रदूषण नहीं होता है। कई खूबियों के बावजूद भी कागज की बोतल का चलन काफी कम है। इन बोतलों से पर्यावरण को होने वाले नुकसान को कम किया जा सकता है। एक कंपनियां इस ओर काम कर रही हैं जिसमें कागज की ऐसी बोतल बनाई गई हैं जिसमें तरल पदार्थ को आसानी से रखा जा सके वह भी लंबे समय तक।
botal.jpg
ये हैं खास बातें

खास बात यह है कि कागज से तैयार की जानें वाली बोतल को प्राकृतिक गोंद से चिपकाया जाता है इसमें लगने वाला ढक्कन भी कागज और मिट्टी में घुलने वाले प्राकृतिक तत्व से ही बनता है। बोतल को इस तहर से बनाया गया है कि इसे 9 माह तक इस्तेमाल किया जा सकता है। बोलत के उपयोग बाद पूरी तरह खत्म किया जा सकता है। प्रयोग के बहाद इस बोलत को गमलों में दबा कर खत्म किया जा सकता है। एक प्लास्टिक की बोतल को बनाने में 20 रुपये का खर्च आता है वहीं कागज की बोलत को भी बनाने में 19 रुपये का खर्च आता है। कागज की बोतल की कॉस्ट को कम करने के लिए प्रयास किए जा रहे हैं।
समीक्षा इस ओर कर रही हैं काम

उद्यमी अब बेहतर कागज की बोतल बनाने की ओर काम कर रहे हैं। समीक्षा पानी और जूस के लिए ऐसी बोतल तैयार कर रही हैं जिसमें जूस व पानी को आसानी से रखा जा सके और यह सुविधाजनक हो। खास तरह की इस कागज की बोतलों के निर्माण के बाद उन्होंने बोतल को पेटेंट कराने के लिए आवेदन किया है। तीन खाद्य व पेय पदार्थ निर्माता कंपनियों ने भी कागज की बोतल में रुचि दिखाई है।
ये भी पढ़ें: 131 रुपये महंगा होगा LPG घरेलू सिलेंडर, सस्ता सिलेंडर पाने के लिए भी करें बुकिंग

लंबे समय से प्रोजेक्ट पर कर रहीं थी काम

नोएडा निवासी समीक्षा हैदराबाद में एमबीए की पढ़ाई के बाद नौकरी के दौरान एक प्रोजेक्ट में प्लास्टिक के विकल्प पर काम कर रही थी। तभी विचार आया कि प्लास्टिक से पहले भी लोग खाने पीने की चीजें रखते के लिए किसी पात्र का प्रयोग करते थे। उन्होंने देखा कि बारिश में पत्तियों और घास पर पानी की बूंदे टिकी रहती हैं यानी उन्हें ऐसा तत्व है कि जो पानी का अवरोध है। सोचा कि क्यों न प्लास्टिक का ऐसा विकल्प तैयार किया जाए जिसमें पानी और जूस रख सके। तब कागज की बोतल बनाने का निर्णय लिया। वर्ष 2018 में कंपनी स्थापित की और 2 वर्ष तक शोध कर बोतल का सैंपल बनाने में सफल हुई। एक रिश्तेदार से संपर्क किया जिनकी फैक्ट्री में शैंपू का कंडीशनर पैक होते थे। फैक्ट्री में अत्याधुनिक मशीन होने से शोध में मदद मिली, इसी दौरान जानकारी हुई कि यूरोप की दो कंपनियां कागज की बोतले बनाती है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

ज्योतिष: ऊंची किस्मत लेकर जन्मी होती हैं इन नाम की लड़कियां, लाइफ में खूब कमाती हैं पैसाशनि देव जल्द कर्क, वृश्चिक और मीन वालों को देने वाले हैं बड़ी राहत, ये है वजहताजमहल बनाने वाले कारीगर के वंशज ने खोले कई राजपापी ग्रह राहु 2023 तक 3 राशियों पर रहेगा मेहरबान, हर काम में मिलेगी सफलताजून का महीना इन 4 राशि वालों के लिए हो सकता है शानदार, ग्रह-नक्षत्रों का खूब मिलेगा साथJaya Kishori: शादी को लेकर जया किशोरी को इस बात का है डर, रखी है ये शर्तखुशखबरी: LPG घरेलू गैस सिलेंडर का रेट कम करने का फैसला, जानें कितनी मिलेगी राहतनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

IPL 2022: टिम डेविड की तूफानी पारी, मुंबई ने दिल्ली को 5 विकेट से हराया, RCB प्लेऑफ मेंपेट्रोल-डीज़ल होगा सस्ता, गैस सिलेंडर पर भी मिलेगी सब्सिडी, केंद्र सरकार ने किया बड़ा ऐलान'हमारे लिए हमेशा लोग पहले होते हैं', पेट्रोल-डीजल की कीमतों में कटौती पर पीएम मोदीArchery World Cup: भारतीय कंपाउंड टीम ने जीता गोल्ड मेडल, फ्रांस को हरा लगातार दूसरी बार बने चैम्पियनआय से अधिक संपत्ति मामले में ओम प्रकाश चौटाला दोषी करार, 26 मई को सजा पर होगी बहसऑस्ट्रेलिया के चुनावों में प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन हारे, एंथनी अल्बनीज होंगे नए PM, जानें कौन हैं येगुजरात में BJP को बड़ा झटका, कांग्रेस व आदिवासियों के लगातार विरोध के बाद पार-तापी नर्मदा रिवर लिंक प्रोजेक्ट रद्दजापान में होगा तीसरा क्वाड समिट, 23-24 मई को PM मोदी का जापान दौरा
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.