छात्रों में अच्छी शिक्षा के साथ खेल भी आवश्यक -कमलरानी

पढ़ाई के साथ ही खेल पर भी ध्यान देने की आवश्यकता है।

लखनऊः देश को डिजिटल बनाने के लिए तकनीकी शिक्षा बच्चों के लिए अति आवश्यक है। तकनीकी शिक्षा प्राप्त छात्र-छात्रायें बेरोजगार नहीं रह सकते हैं। वे अपने तकनीकी क्षेत्र में कुछ बेहतर करने की क्षमता रखते हैं और अपने भविष्य को बनाने में सक्षम हो जाते हैं।

यह बात प्रदेश की प्राविधिक शिक्षा मंत्री कमलरानी ने यहाॅ बख्शी का तालाब स्थित SR Group of Institute में शौर्य स्पोर्ट्स मीट-2020 के दौरान कही। रानी ने कहा कि तकनीकी शिक्षा प्राप्त कर यहाॅ से निकले छात्र स्वयं के साथ ही अन्य लोगों को भी रोजगार दे सकते हैं । उन्होंने कहा कि युवा वर्ग पढ़ाई के साथ-साथ अपना स्वास्थ्य निर्माण खेलकूद के माध्यम से कर सकते हैं। छात्र-छात्राओं के सर्वांगीण विकास के लिए पढ़ाई के साथ ही खेल पर भी ध्यान देने की आवश्यकता है।

प्राविधिक शिक्षा मंत्री ने कहा कि शिक्षक खेल को जीवन में महत्वपूर्ण स्थान देने के लिए छात्रों को प्रेरित करें और उनके उत्साह को बढ़ाये । इस प्रतियोगिता में क्रिकेट, बॉलीबॉल, फुटबाल, टेबिल टेनिस, बैडमिन्टन, खो-खो, कबड्डी, 500 मी0 दौड़, शतरंज, कैरम, टग ऑफ वॉर, जेवलिन थ्रो, डिस्कस थ्रो इत्यादि खेलों का आयोजन किया गया। इस अवसर पर टग ऑफ वार (रस्सा खींच) कम्प्यूटर साइंस एंव बायोटेक के बीच हुआ जिसमें बायोटेक ने प्रतियोगिता जीत ली।

Ritesh Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned