राष्ट्रीय एवं अन्तर्राष्ट्रीय स्तर के महापुरूषों के नाम पर इन्टर स्टेट कनैक्टीविटी मार्गों का होगा नामकरण

राष्ट्रीय एवं अन्तर्राष्ट्रीय स्तर के महापुरूषों के नाम पर इन्टर स्टेट कनैक्टीविटी मार्गों का होगा नामकरण

Anil Ankur | Publish: Sep, 04 2018 11:17:47 PM (IST) Lucknow, Uttar Pradesh, India

इण्टर स्टेट कनैक्टीविटी मार्गों पर बनेंगे मुख्य प्रवेश द्वार

लखनऊ। जनप्रतिनिधियों से प्राप्त प्रस्तावों के सभी स्वीकृत कार्य पूर्ण करने में तेजी लायी जाय तथा प्राथमिकता से पूर्ण किये जाये ये निदेष प्रदेष के उप मुख्यमंत्री श्री केषव प्रसाद मौर्य ने लोक निर्माण विभाग के तथागत सभागार में वरिष्ठ अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक के दौरान दिये। उन्होने कहा कि आर्थिक विकास योजना के कार्य जिला मुख्यालयों को चार लेन से जोड़ने का कार्य, अन्य जिला मार्गों के चालू कार्य, राज्य सड़क निधि के अन्तर्गत सड़कों के निर्माण, नाबार्ड योजना के तहत किये जाने वाले सभी कार्यों सहित सभी प्रकार के कार्यांे में तेजी लायी जाय।

टूटी सड़कों पर मरम्मत का जल्द होगा
उप मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारा लक्ष्य सभी प्रकार के मार्गों को ठीक करना है चाहे वह किसी भी योजना के हो, वर्षा के कारण जहाँ मार्ग क्षतिग्रस्त हो गये हैं उनकी मरम्मत का कार्य शीघ्र किया जाय। उन्होने कहा कि सभी प्रकार के मार्गों के निर्माण, नवीनीकरण आदि हेतु कार्य योजना शीघ्र प्रस्तुत करें ताकि कार्य शीघ्र शुरू किया जा सके। उन्होने कहा कि नाबार्ड तथा अन्य मदों से स्वीकृत धनराशि का उपयोग करें तथा सम्बन्धित क्षेत्र के जनप्रतिनिधि को पत्र भेजकर कार्य पूर्ण होने अथवा प्रारम्भ होने की सूचना दें ताकि एक सन्देश उस क्षेत्र की जनता के बीच जा सके। श्री मौर्य ने कहा कि जनप्रतिनिधियों की मांग पर विभिन्न क्षेत्रों में छोटे/बड़े पुलों का निर्माण प्राथमिकता से किया जाय। अतः उसका प्रस्ताव यथाशीघ्र प्रस्तुत करें, हर विधानसभा क्षेत्र में जहां रेल उपरिगामी सेतु बनाया जाना है उसका प्रस्ताव शीर्ष प्राथमिकता से भेजा जाय।

अटल की कर्मभूमि पर उनका नाम
उप मुख्यमंत्री ने कहा कि अब क्षेत्र विशेष के महापुरूषों के क्षेत्र की सड़कों का नामकरण उन्ही के नाम से किया जायेगा। उन्होने कहा कि श्रद्धेय अटल जी की कर्मभूमि और जन्म भूमि में किये गये विभिन्न कार्यों को नामकरण उन्हीं के नाम से किया जायेगा साथ ही राष्ट्रीय व अन्तर्राष्ट्रीय स्तर के महापुरूषों के नाम पर सभी 54 इन्टर स्टेट कनैक्टीविटी मार्गों का नामकरण किया जायेगा तथा वहां पर प्रवेश द्वार बनाये जायेंगे और इन मार्गों पर हरियाली विकसित करने के साथ-साथ क्षेत्र विशेष के एैतिहासिक स्थल अथवा महापुरूष का उल्लेख किया जायेगा।

सड़क की गुणवत्ता पर कोई समझौता ही नहीं
मौर्य ने अधिकारियों को निर्देश दिये कि विभिन्न कार्यों के लिये स्वीकृत की जाने वाली पत्रावलियों में अनावश्यक विलम्ब ने हो, सभी कार्य समयबद्धता के साथ किये जायें, साथ ही वरिष्ठ अधिकारी कार्यों की गुणवत्ता से कोई समझौता न करें किसी भी दशा में कार्य अवर अभियन्ता या सहायक अभियन्ता के भरोसे पर न छोड़े तथा उच्च स्तर से भी निरीक्षण किया जाय तथा मुख्य मार्गों के कार्यों की गुणवत्ता की परख एवं कार्य की प्रगति हेतु एक नोडल एजेन्सी भी नामित करें ताकि कार्य समयबद्धता एवं गुणवत्ता के साथ पूर्ण हो। कार्य में किसी प्रकार की शिथिलता बर्दाश्त नहीं। उन्होने कहा कि जहाँ कही पर भ्रमण के दौरान किसी कार्य के कराये जाने की घोषणा की जाती है उस कार्य को सभी अधिकारी गम्भीरता से लें।
नेपाल बार्डर पर खास सुरक्षा व्यवस्था
उप मुख्यमंत्री ने बताया कि वर्षा के कारण जो सड़के क्षतिग्रस्त हो गयी हैं उनकी मरम्मत एवं गड्ढ़ामुक्ति हेतु धनराशि जारी कर दी गयी है तथा पूर्ण गुणवत्ता के साथ सभी जिम्मेदार अभियन्ताओं को सड़के यथाशीघ्र ठीक करने के निर्देश दे दिये गये हैं। उन्होने कहा कि इन्डो नेपाल बार्डर सुरक्षा की दृष्टि से अति महत्वपूर्ण है उस क्षेत्र के महत्व को दृष्टिगत रखते हुये कार्य योजना बनायें तथा सर्वोच्च प्राथमिकता दें। श्री मौर्य ने अधिकारियों को निर्देश दिये कि उ0प्र0 के सभी 75 जिलों में से लोक निर्माण विभाग सड़कों के मामले में सबसे अच्छे व खराब जिलों को चिन्हित करें तथा पिछड़ेपन के आधार पर कार्ययोजना बनाकर कार्यवाही करें ताकि क्षेत्र विशेष का पिछड़ापन दूर किया जा सके।

Ad Block is Banned