scriptState Finance Minister Suresh Khanna comment akhilesh yadav | सपा शासनकाल अराजकता का दूसरा नाम: सुरेश खन्ना | Patrika News

सपा शासनकाल अराजकता का दूसरा नाम: सुरेश खन्ना

योगी सरकार में नौकरी के लिए बस "मेरिट" ही है मानक

लखनऊ

Published: July 29, 2021 06:55:46 pm

लखनऊ, सूबे के वित्त मंत्री और वरिष्ठ भाजपा नेता सुरेश खन्ना ने समाजवादी पार्टी के शासनकाल को कानून-व्यवस्था के लिहाज से सबसे अराजक समय बताया है। सपा सुप्रीमो अखिलेश यादव द्वारा आये दिन राज्य सरकार पर आरोप लगाए जाने पर वित्त मंत्री खन्ना ने पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश को "झूठों का बड़ा सरदार" को संज्ञा देते हुए निंदा की है। खन्ना ने कहा कि झूठ बोलने में अखिलेश यादव का कोई जवाब नहीं। तथ्यों को तोड़ मरोड़कर पेश करने में तो आपको महारत ही हासिल है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ तो युवाओं के आदर्श है। युवाओं ने ही उनको युवा हृदय सम्राट से नवाजा है। वे युवाओं की अभिव्यक्ति के घोर पक्षधर हैं।
सपा शासनकाल अराजकता का दूसरा नाम: सुरेश खन्ना
सपा शासनकाल अराजकता का दूसरा नाम: सुरेश खन्ना
जब भी मौका मिलता है वह युवाओं से संवाद भी करते हैं। उनका विरोध उनके प्रति है जो युवाओं को बेवजह उकसा रहे हैं। उनसे सरकार पर दबाव के लिए चंदा वसूल कर प्रयोजित धरना-प्रदर्शन के लिए उकसा रहे हैं। ऐसे लोगों को इस तरह के कामों के लिए खाद-पानी आपकी सरकार की ही सरपरस्ती में मिली है, क्योंकि तब सरकारी नौकरियां मेरिट पर नहीं, क्षेत्र, जाति और मजहब के आधार पर मिलती थीं। इसके लिए भी आपके लोग झोला लेकर चलते थे।
सुरेश खन्ना ने कहा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के कार्यकाल में जिन साढ़े चार लाख युवाओं को नौकरियां मिलीं हैं, उनका एक मात्र आधार मेरिट रहा है। ऐसे में आपको तकलीफ होना स्वाभविक है। रही बात कानून-व्यवस्था की, तो सपा के पूरे कार्यकाल को अराजकता के लिए ही जाना जाता था। थाने से लेकर जिले तक बिकते थे। इस बारे में बोलने का अखिलेश को कोई हक नहीं।
बता दें कि बीते दिनों अखिलेश यादव ने ट्वीट कर सरकार पर तमाम आरोप लगाए थे। अखिलेश ने ट्विटर पर लिखा "युवा-अभिव्यक्ति को भाजपा द्वारा कभी संपत्ति ज़ब्त करने का डर दिखाकर धमकाया जा रहा है तो कभी राज्याश्रय प्राप्त दबंगों द्वारा हत्या करके। इलाहाबाद के कौंधियारा में एक ट्विटर पोस्ट पर युवक की हत्या घोर निंदनीय है! सुरेश खन्ना की ताजा टिप्पणी इसी का जवाब मानी जा रही है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

धन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोगशाहरुख खान को अपना बेटा मानने वाले दिलीप कुमार की 6800 करोड़ की संपत्ति पर अब इस शख्स का हैं अधिकारजब 57 की उम्र में सनी देओल ने मचाई सनसनी, 38 साल छोटी एक्ट्रेस के साथ किए थे बोल्ड सीनMaruti Alto हुई टॉप 5 की लिस्ट से बाहर! इस कार पर देश ने दिखाया भरोसा, कम कीमत में देती है 32Km का माइलेज़UP School News: छुट्टियाँ खत्म यूपी में 17 जनवरी से खुलेंगे स्कूल! मैनेजमेंट बच्चों को स्कूल आने के लिए नहीं कर सकता बाध्यअब वायरल फ्लू का रूप लेने लगा कोरोना, रिकवरी के दिन भी घटेइन 12 जिलों में पड़ने वाल...कोहरा, जारी हुआ यलो अलर्ट2022 का पहला ग्रहण 4 राशि वालों की जिंदगी में लाएगा बड़े बदलाव
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.