व्यापम घोटाले का आरोपी टीईटी पेपर लीक कराने में जुटा, एसटीएफ का खुलासा

Dhirendra Singh

Publish: Oct, 13 2017 09:56:53 (IST)

Lucknow, Uttar Pradesh, India
व्यापम घोटाले का आरोपी टीईटी पेपर लीक कराने में जुटा, एसटीएफ का खुलासा

अध्यापक पात्रता परीक्षा (टीईटी) पेपर लीक करने में जुट गिरोह।

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में अध्यापक पात्रता परीक्षा (टीईटी) की ऑफलाइन भर्ती परीक्षा 2017 को लीक करने के प्रयास का यूपी एसटीएफ ने खुलासा किया है। यूपी एसटीएस ने टीईटी का पेपर लीक करने के प्रयास में लगे एक गिरोह के दो सदस्यों को भी गिरफ्तार किया है। इनकी पहचान संदीप पटेल और शिव जी पटेल के रुप में हुई है। हालांकि अभी इस गिरोह का मुखिया फरार है। यह गिरोह अभ्यार्थियों से पेपर का हल दिलाने के नाम पर पैसे वसूल रहा था।

यह भी पढ़ें - दीपावली में आतिशबाजी से पहले जान ले ये नियम, नहीं तो हो सकती है जेल

एसटीएफ के मुताबिक 15 अक्टूबर को उत्तर प्रदेश के विभिन्न जनपदों के परीक्षा केंद्रों पर अध्यापक पात्रता परीक्षा (टीईटी) आयोजित होनी है। एसटीएफ को सूचना मिल रही थी कि विभिन्न इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों द्वारा परीक्षा को प्रभावित करने वाले गिरोह परीक्षा पपेर लीक करने की योजना में जुटे हुए हैं। इसके बाद एसएसपी एसटीएफ अभिषेक सिंह ने निर्देशन में एक टीम बनाई गई। सूचना संकलित करने के दौरान पता चला कि परीक्षा का पेपर प्रभावित करने वाले गिरोह के सदस्य इलाहाबाद में छुपे हुए हैं। इस पर टीम ने दो सदस्यों को चिन्हित कर जॉर्ज टाउन इलाहाबाद से गिरफ्तार किया।

यह भी पढ़ें - शोध: नीतियों में सुधार से यूपी पुलिस के प्रदर्शन में हो सकता है 60 फीसदी का सुधार

व्यापम घोटाले का आरोपी सरगना
गिरफ्तार किए गए आरोपियों से पूछताछ में पता चला कि इस गैंग का सरगना सुरेंद्र पाल पटेल है। सुरेंद्र मध्य प्रदेश व्यापम घोटाले में जेल भी जा चुका है। यह ऑनलाइन और ऑफलाइन परीक्षा में विभिन्न तरीकों से धोखाधड़ी कर अवैध वसूली करता है।

एसटीएफ ने की बरामदगी
एसटीएफ ने गिरफ्त में आए दोनों आरोपियों के पास से तीन मोबाइल, 31 इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस, 25 डिवाइस स्टीकर, 28 ब्लूटूथ डिवाइस, 7 सिम कार्ड, 9670 रुपये बरामद किए।

यह भी पढ़ें - युवती ने शादी से किया इंकार, तो एकतरफा आशिक ने मां को दी ये सजा

TET

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned