अयोध्या पर पीआईएल : नाराज सुप्रीम ने दिखाई नरमी, चारों याचिकाकर्ताओं को माफ किया

- अयोध्या पर दाखिल पीआईएल को सुप्रीम कोर्ट ने कहा, बकवास
- अयोध्या राम मंदिर स्थल से निकली कलाकृतियों के संरक्षण पर पीआईएल दाखिल करने का मामला

By: Hariom Dwivedi

Published: 21 Nov 2020, 04:27 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
लखनऊ. अयोध्या में राम मंदिर स्थल से निकली कलाकृतियों और प्राचीन वस्तुओं के संरक्षण के लिए जनहित याचिका दायर करने वाले चार याचिकाकर्ताओं को सुप्रीम कोर्ट से बड़ी राहत मिली है। सुप्रीम कोर्ट ने इनकी पीआईएल को तुच्छ करार देते हुए एक लाख रुपए जमा करने पर माफी दे दी। साथ ही चेतावनी दी कि भविष्य में वह इस तरह के उपक्रमों शामिल नहीं होंगे। सुप्रीम कोर्ट ने 20 जुलाई को याचिका को बकवास करार देते हुए खारिज कर दिया था। साथ ही चारों याचिकाकर्ताओं पर एक-एक लाख रुपये का जुर्माना भी लगाया था। सर्वोच्च न्यायालय ने जुर्माने की राशि को एक महीने के भीतर जमा करने के आदेश दिये थे। पीठ ने इस याचिका को अयोध्या मुद्दे पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले को रद्द करने की कोशिश माना था।

सुप्रीम कोर्ट में वरिष्ठ वकील मेनका गुरुस्वामी ने बताया कि याचिकाकर्ता बहुत विनम्र पृष्ठभूमि के हैं। उन्हें अपनी गलती का अहसास है। उन्होंने पीठ से याचिकाकर्ताओं के प्रति रहम बरतने की अपील करते हुए कहा कि इन्हें गलत सलाह दी गई थी। पीठ उनके आग्रह को सशर्त स्वीकार करते हुए कहा कि भविष्य में वे ऐसा दुस्साहस फिर नहीं करेंगे। इसके साथ ही पीठ ने एक लाख रुपये की राशि को ही पूर्ण जुर्माना मानते हुए शेष राशि जमा करने से छूट दे दी।

Hariom Dwivedi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned