पांच अगस्त को नवरत्न जड़ित पोशाक पहनेंगे रामलला, चार पीढ़ियों से यह परिवार बना रहा रामलला के कपड़े

राम जन्मभूमि परिसर में शिलान्यास की तैयारियां जोर-शोर से चल रही हैं। पांच अगस्त को प्रस्तावित भूमि पूजन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के आगमन को लेकर भी तैयारियां चल रही हैं

By: Karishma Lalwani

Published: 27 Jul 2020, 09:49 AM IST

अयोध्या. राम जन्मभूमि परिसर में शिलान्यास की तैयारियां जोर-शोर से चल रही हैं। पांच अगस्त को प्रस्तावित भूमि पूजन में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के आगमन को लेकर भी तैयारियां चल रही हैं। इस बीच भूमि पूजन के दिन रामलला जिस पोशाक को पहनेंगे उसे भी सिला जा रहा है। इस दिन रामलला नवरत्न जड़ित पोशाक पहनेंगे। इसे तैयार करेंगे टेलर भगवती प्रसाद और उनका परिवार। भगवती प्रसाद का परिवार पिछली चार पीढ़ियों से रामलला के लिए पोशाक बना रहा है।

ऐतिहासिक होगी रामलला की पोशाक

रामादल ट्रस्ट प्रमुख पंडित कल्किराम ने कहा है कि हीरे-जवाहरात से जुड़ी पोशाक को कुछ इस तरह बनाया जाएगा कि जो अब तक के इतिहास में कभी न बनी हो। यह पोशाक अपने आप में ऐतिहासिक होगी। उधर, रामलला के लिए पोशाक तैार करने वाले टेलर भगवती प्रसाद का कहना है कि वे और उनका परिवार भगवान राम की मूर्ति के लिए चार पीढ़ियों से पोशाक बनाने का काम कर रहा है। उन्होंने बताया कि वह और उनके साथ शंकर लाल उस पोशाक को बनाने में लगे हैं, जिसे भगवान राम की मूर्ति को भूमि पूजन के दिन पहनाया जाएगा।

ऐतिहासिक होगी रामलला की पोशाक

रामादल ट्रस्ट प्रमुख पंडित कल्किराम ने कहा है कि हीरे-जवाहरात से जुड़ी पोशाक को कुछ इस तरह बनाया जाएगा कि जो अब तक के इतिहास में कभी न बनी हो। यह पोशाक अपने आप में ऐतिहासिक होगी। उधर, रामलला के लिए पोशाक तैार करने वाले टेलर भगवती प्रसाद का कहना है कि वे और उनका परिवार भगवान राम की मूर्ति के लिए चार पीढ़ियों से पोशाक बनाने का काम कर रहा है। उन्होंने बताया कि वह और उनके साथ शंकर लाल उस पोशाक को बनाने में लगे हैं, जिसे भगवान राम की मूर्ति को भूमि पूजन के दिन पहनाया जाएगा।

पंडित कल्किराम अर्पित करते हैं पोशाक

प्रधानमंत्री मोदी की सफलता के लिए पांच सालों से हर पर्व और त्योहार पर रमदल प्रमुख पंडित कल्किराम द्वारा रामलला के लिए नई पोशाक अर्पित की जाती है। एकादशी, द्वादशी तिथि व हर पुण्य तिथि पर भगवान रामलला को पहनाने के लिए पोशाक दिया जाता है। रामलला के दर्शन को ऐतिहासिक बनाने के लिए पहाड़ी दर्जे से पोशाक तैयार करने को कहा गया है। पंडित कल्कि राम ने कहा है कि भूमि पूजन सम्पन्न होने के बाद अयोध्या के सभी शिवालयों पर घी का दीपक प्रज्वलित किया जाएगा। इसके साथ ही इस दिन सायंकाल सरयू तट के लक्ष्मण घाट पर 11सौ घी के दीपक जलाकर हम सभी राममंदिर निर्माण शुरू होने की खुशी मनाएंगे।

प्रधानमंत्री मोदी की सफलता के लिए पांच सालों से हर पर्व और त्योहार पर रमदल प्रमुख पंडित कल्किराम द्वारा रामलला के लिए नई पोशाक अर्पित की जाती है। एकादशी, द्वादशी तिथि व हर पुण्य तिथि पर भगवान रामलला को पहनाने के लिए पोशाक दिया जाता है। रामलला के दर्शन को ऐतिहासिक बनाने के लिए पहाड़ी दर्जे से पोशाक तैयार करने को कहा गया है। पंडित कल्कि राम ने कहा है कि भूमि पूजन सम्पन्न होने के बाद अयोध्या के सभी शिवालयों पर घी का दीपक प्रज्वलित किया जाएगा। इसके साथ ही इस दिन सायंकाल सरयू तट के लक्ष्मण घाट पर 11सौ घी के दीपक जलाकर हम सभी राममंदिर निर्माण शुरू होने की खुशी मनाएंगे।

ये भी पढ़ें: आज अयोध्या आएंगे मुख्यमंत्री योगी, राम मंदिर शिलान्यास का लेंगे जायजा

PM Narendra Modi Ram Mandir
Karishma Lalwani
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned