scriptThese are the reason of heard attach | इन कारणों से बढ़ रहा दिल के दौरे का खतरा, कहीं आप भी तो नहीं कर रहे गलती, चेक करें यह है शुरुआती लक्षण | Patrika News

इन कारणों से बढ़ रहा दिल के दौरे का खतरा, कहीं आप भी तो नहीं कर रहे गलती, चेक करें यह है शुरुआती लक्षण

हार्ड अटैक की तमाम घटनाओं के पीछे नशा एक अहम कारण है आज के समाज में नशा व्यापक स्तर पर फैल चुका है जो सीधे तौर पर हमारे हार्ड को प्रभावित करता है अधिक धूम्रपान करने से 70% तक हार्ड अटैक की संभावनाएं बढ़ जाती हैं।

लखनऊ

Published: November 02, 2021 09:49:30 am

लखनऊ. लगातार दिल के दौरे से मरने वाले लोगों की संख्या में इजाफा हो रहा है। हार्ड अटैक की समस्या हमारे समाज में लगातार बढ़ रही है। एक्सपर्ट्स का कहना है कि दिल के दौरे की बढ़ती हुई घटनाओं के पीछे हम खुद एक बड़ा कारण है। दिनचर्या को बेहतर कर काफी हद तक हार्ट अटैक से बचा जा सकता है।
dil.jpg
दिल के दौरे के मुख्य कारण

नशा

हार्ड अटैक की तमाम घटनाओं के पीछे नशा एक अहम कारण है आज के समाज में नशा व्यापक स्तर पर फैल चुका है जो सीधे तौर पर हमारे हार्ड को प्रभावित करता है अधिक धूम्रपान करने से 70% तक हार्ड अटैक की संभावनाएं बढ़ जाती हैं।
मानसिक तनाव

तनाव भी हार्ट अटैक का कारण बनता है वर्तमान समय की दिनचर्या ऐसी हो गई है जिसमें तनाव हावी रहता है यह तनाव भी हमारे दिल को प्रभावित करता है।

मोटापा
संतुलित आहार व खराब दिनचर्या के चलते शरीर पर चर्बी जम जाती है जिससे मोटापा उत्पन्न होती है मोटापे से शरीर में कई तरह के विकार होते हैं कई बार यह विकार हार्ड अटैक का कारण बनते हैं।
रक्तचाप

उच्च रक्तचाप भी हार्ट अटैक का कारण बनता है जिन लोगों को उच्च रक्तचाप की समस्या रहती है उन्हें अपने दिल को लेकर अत्यधिक सतर्क रहने की आवश्यकता है अधिक उच्च रक्तचाप हार्ड अटैक का कारण बनता है।
अनुवांशिकी

हार्ट अटैक अनुवांशिक भी होता है जिन लोगों के परिवार में हार्ट अटैक की हिस्ट्री होती है उन्हें अधिक खतरा होता है ऐसे में जिन लोगों के परिवार में हार्ड अटैक की हिस्ट्री है उन्हें अपने दिल का अधिक ख्याल रखना चाहिए।
आहार

आज असंतुलित आहार व खराब दिनचर्या के चलते हार्ट अटैक की घटनाएं सामने आती हैं ऐसे में लोगों को खुद का ध्यान रखना चाहिए और संतुलित आहार लेना चाहिए नियमित व्यायाम करने से काफी हद तक हार्टअटैक से बचा जा सकता है।
यह है शुरुआती लक्षण

- छाती में भारीपन

- सांस फूलना

- शरीर के ऊपरी हिस्से गर्दन पीठ दांत कंधों में तेज दर्द

- बेचैनी व चक्कर आना

- सघबराहट के साथ पसीना निकलना
- जबड़े में दर्द होना

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन नाम वाली लड़कियां चमका सकती हैं ससुराल वालों की किस्मत, होती हैं भाग्यशालीजब हनीमून पर ताहिरा का ब्रेस्ट मिल्क पी गए थे आयुष्मान खुराना, बताया था पौष्टिकIndian Railways : अब ट्रेन में यात्रा करना मुश्किल, रेलवे ने जारी की नयी गाइडलाइन, ज़रूर पढ़ें ये नियमधन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोग, देखें क्या आप भी हैं इनमें शामिलइन 4 राशि की लड़कियों के सबसे ज्यादा दीवाने माने जाते हैं लड़के, पति के दिल पर करती हैं राजशेखावाटी सहित राजस्थान के 12 जिलों में होगी बरसातदिल्ली-एनसीआर में बनेंगे छह नए मेट्रो कॉरिडोर, जानिए पूरी प्लानिंगयदि ये रत्न कर जाए सूट तो 30 दिनों के अंदर दिखा देता है अपना कमाल, इन राशियों के लिए सबसे शुभ

बड़ी खबरें

Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.