20 अप्रैल से प्रदेश सहित देश में शुरू होंगे ये कार्य, टोल वसूली के साथ इस काम को शुरू करने की सरकार ने दी अनुमति

सरकार ने भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण को 20 अप्रैल से राष्ट्रीय राजमार्गों पर टोल की वसूली शुरू करने की अनुमति दी है

By: Karishma Lalwani

Updated: 18 Apr 2020, 04:09 PM IST

लखनऊ. लॉकडाउन के बीच प्रदेश में 20 अप्रैल से कुछ जरूरी शर्तों के साथ कुछ कार्यों को शुरू करने की अनुमति है। प्रदेश सरकार ने 20 अप्रैल से 11 उद्योगों को चलाने की मंजूरी दी है। वहीं, 20 अप्रैल से सरकारी कार्यालयों में भी काम शुरू करने का शासनादेश जारी किया गया है। इन सबके बीच 20 अप्रैल से राष्ट्रीय राजमार्गों पर टोल टैक्स की वसूली भी शुरू कर दी जाएगी। सरकार ने भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण को 20 अप्रैल से राष्ट्रीय राजमार्गों पर टोल की वसूली शुरू करने की अनुमति दी है। सरकार के इस फैसले का ऑल इंडिया मोटर ट्रांसपोर्ट कांग्रेस ने विरोध किया है।

20 अप्रैल से शुरू होगा कार्य

बता दें कि कोरोना वायरस के मद्देनजर लागू राष्ट्रव्यापी लॉकडाउन के दौरान 25 मार्च से टोल टैक्स की वसूली अस्थाई तौर पर रोक दी थी ताकि आवश्यक वस्तुओं की ढुलाई में आसानी हो। लॉकडाउन का पहला फेज खत्म होने के बाद 15 अप्रैल से टोल वसूली का काम फिर फिर से शुरू करने की योजना बनाई गई थी। लेकिन बाद में लॉकडाउन तीन मई तक बढ़ा दिया गया। लॉकडाउन की अवधि बढ़ने के बाद पहले फेज के बाद शुरू होने वाले कार्यों की भी अवधि बढ़ दी गई। सरकार ने कई आवश्यक उद्योगों को 20 अप्रैल से दोबारा शुरू करने के लिए छूट दी है।

सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय ने एनएचएआई को लिखे पत्र में कहा है, 'केन्द्रीय गृह मंत्रालय द्वारा सभी ट्रकों और अन्य मालवाहक वाहनों को राज्य के भीतर और राज्यों में आवागमन के लिए जो छूट दी गयी थी, उसी संबंध में एनएचएआई को गृह मंत्रालय के आदेश का पालन सुनिश्चित करने के लिए जरूरी कार्रवाई करनी चाहिए और टोल टैक्स की वसूली 20 अप्रैल, 2020 से की जानी चाहिए।'

ऑल इंडिया मोटर ट्रांसपोर्ट कांग्रेस ने किया विरोध

परिवहन उद्योग से जुड़े ऑल इंडिया मोटर ट्रांसपोर्ट कांग्रेस (एआईएमटीसी) ने सरकार के इस कदम का विरोध करते हुए कहा है कि यह बहुत ही गलत है, सरकार चाहती है कि आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति अबाध जारी रहे। एआईएमटीसी ने कहा है कि एक तरफ सरकार सभी आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति सुनिश्चित करना चाहती है, जिसे हम हर बाधाओं के बावजूद करने के लिए तैयार हैं। दूसरी तरफ वह मौजूदा परिस्थितियों में टूट चुके ट्रांसपोर्ट कारोबार को जरा भी रियायत देने को तैयार नहीं है। सरकार को ट्रांसपोटर्स को भी कुछ फायदा देना चाहिए ताकि उनकी कुछ मदद हो सके।

20 अप्रैल से चलेंगे ये उद्योग

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने 20 अप्रैल से 11 उद्योगों के संचालन को मंजूरी दी है। इसमें स्टील, रिफाइनरी, सीमेंट, रसायन, उर्वरक के उद्योगों को चलाने की अनुमति दी है। इसके अलावा पेपर, टायर, चीनी मिलों, कॉमन एफ्लुएंट ट्रीटमेंट प्लांट, वस्त्र उद्योग (परिधान को छोड़कर) और फाउंड्रीज को भी शुरू करने की अनुमति दी है।

Karishma Lalwani
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned