कोविड-19 के प्रोटोकॉल का पालन कराने के साथ शुरू होंगे प्रशिक्षण संस्थान, हाई रिस्क वाले व्यक्तियों के लिए होगी अलग व्यवस्था

उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने राज्य में राजकीय प्रशिक्षण संस्थानों को फिर से शुरू करने का निर्णय लिया है। राज्य सरकार ने प्रशिक्षण संस्थानों में कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन करने का निर्देश देते हुए ये बात कही है।

By: Karishma Lalwani

Published: 25 Aug 2020, 12:43 PM IST

लखनऊ. उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने राज्य में राजकीय प्रशिक्षण संस्थानों को फिर से शुरू करने का निर्णय लिया है। राज्य सरकार ने प्रशिक्षण संस्थानों में कोविड-19 प्रोटोकॉल का पालन करने का निर्देश देते हुए ये बात कही है। इस संबंध में अपर मुख्य सचिव नियुक्ति एवं कार्मिक मुकुल सिंहल ने सभी विभागाध्यक्षों को इस संबंध में निर्देश भेज दिया है। उन्होंने कहा है कि प्रशिक्षण शुरू कराने से पहले और प्रशिक्षण के दौरान दिए गए निर्देशों का कड़ाई से पालन किया जाएगा।

अलग-अलग प्रशिक्षण की व्यवस्था

प्रशिक्षण कार्यक्रमों को डिजिटल, ऑनलाइन, वर्चुअल तरीके से आयोजित करने को कहा गया है। भौतिक और डिजिटल रूप से अलग-अलग प्रशिक्षण की व्यवस्था की जाएगी। भौतिक प्रशिक्षण में कोविड-19 के प्रोटोकॉल का पूरी तरह से पालन किया जाएगा। क्लास रूम, स्टाफ रूम, ऑफिस, हास्टल, कॉरिडोर, लॉबी, कॉमन एरिया और शौचालय आदि की पूरी तरह से सफाई कराने के साथ सैनिटाइजेशन कराया जाएगा।

आरोग्य सेतु डाउनलोग करना जरूरी

सरकार ने आरोग्य सेतु ऐप डाउनलोड करने की बात कही है। प्रशिक्षुओं और कर्मियों को आरोग्य सेतु ऐस अनिवार्य रूप से डाउनलोड कराया जाएगा। वहां खांसी, बुखार आने पर तुरंत कोविड की जांच कराई जाएगी। सावधानी के तौर पर प्रशिक्षण संस्थानों में आगंतुकों के प्रवेश पर रोक लगाई गई है। जरूरी होने पर ही निर्धारित प्रोटोकॉल और जांच के बाद आने की अनुमति दी जाएगी।

हाई रिस्क वाले व्यक्तियों के लिए व्यवस्था

प्रशिक्षण संस्थान में हाई रिक्स वाले व्यक्तियों और महिलाओं जैसे गर्भवती महिलाएं, स्तनपान कराने वाली माताएं, गंभीर अस्थमा, उच्च रक्तचाप आदि तरह की बीमारियों से जूझने वाले लोगों को ऑनलाइन प्रशिक्षण में शामिल किया जाएगा। प्रशिक्षण में शामिल करने से पहले फिटनेस की जांच की जाएगी।

ये भी पढ़ें: ड्राइविंग लाइसेंस बनवाना है तो रात एक बजे तक जागना है जरूरी, नींद आने पर नहीं बनेगा लाइसेंस

Corona virus COVID-19
Karishma Lalwani
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned