scriptUdaipur violent incident Shri Ram Janmabhoomi Suraksha Samiti meeting in ayodhya | उदयपुर हिंसक घटना: श्रीराम जन्मभूमि सुरक्षा समिति की बड़ी बैठक, पहली बार... | Patrika News

उदयपुर हिंसक घटना: श्रीराम जन्मभूमि सुरक्षा समिति की बड़ी बैठक, पहली बार...

Shri Ram Janmbhumi अयोध्या में चल रहे मंदिर निर्माण और आने वाले भक्तो से जुड़ी सुरक्षा को देखते हुए श्रीराम जन्मभूमि सुरक्षा समिति की बड़ी बैठक का आयोजन पहली बार श्रीराम मंदिर निर्माण कार्यशाला परिसर में हो रहा है। उदयपुर की घटना के बाद से ही लगातार हिन्दू संगठनो ने भक्तों की सुरक्षा पर बड़ा सवाल उठाते हुए सरकार से बड़ी कार्यवाई की मांग की थी। जिसके बाद से ही मंदिर और श्रद्धालुओं की सुरक्षा को देखते हुए इस बड़ी बैठक का आयोजन किया गया है। ये बड़ी बैठक 4 जुलाई को सुबह 10 बजे से होगी।

लखनऊ

Updated: July 03, 2022 07:40:18 pm

अयोध्या में चल रहे भव्य भगवान राम मंदिर निर्माण को लेकर निर्माण के साथ साथ सुरक्षा समिति भी बनाई गई है। जिसकी समय समय पर बैठक होती रहती है। इसमें जिला प्रशासन के साथ साथ इंटेलिजेंस, ज़ोनल पुलिस अधिकारी, सीआरपीएफ़ व अन्य सभी अधिकारी भी अधिकारी शामिल होते हैं। वहीं ऐसा पहली बार हो रहा है जब श्रीराम जन्मभूमि स्थायी सुरक्षा समिति की बैठक का आयोजन श्रीराम जन्मभूमि कार्यशाला में आयोजित किया जा रहा है।
Shri RamJanmbhumi Temple Security Symbolic Pics n AYodhya
Shri RamJanmbhumi Temple Security Symbolic Pics n AYodhya
कौन कौन होगा इस बैठक में शामिल

श्रीराम मंदिर सुरक्षा समिति से जुड़ी इस बैठक में एडीजी सुरक्षा, एडीजी जोन, डीआईजी, वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक, सीआरपीएफ के वरिष्ठ अधिकारी, पीएसी के वरिष्ठ अधिकारी, सुरक्षा में खुफिया विभाग से जुड़े अधिकारी, एलआईयू के लोग भी शामिल होंगे। इसके अलावा भगवान श्रीराम जन्मभूमि परिसर के लिए विशेष तौर पर बनाए गए एसपी सिक्योरिटी भी इस बैठक में प्रमुख तौर पर शामिल होंगे। इस सुरक्षा समिति की बैठक में 35 सदस्य मौजूद होंगे। श्रीराम जन्मभूमि कार्यशाला में ये बैठक 4 जुलाई को आयोजित होगी।

क्यों बनाई गई है श्रीराम जन्मभूमि सुरक्षा समिति
अयोध्या में मंदिर निर्माण और उससे जुड़े हुए सभी सुरक्षा व्यवस्था के लिए श्री राम जन्मभूमि सुरक्षा समिति का गठन ट्रस्ट के द्वारा किया गया है। जो समय समय पर मंदिर की सुरक्षा और श्रद्धालुओं से जुड़ी हुई सुरक्षा को देखता है। जिससे जरूरत पड़ने पर इसमें बदलाव भी किया जाता है। नवंबर 2019 में सुप्रीम कोर्ट के द्वारा मंदिर पर फैसला आने के बाद से ही इसे लेकर बड़ा फैसला लिया गया था।
श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट का रोल

अयोध्या में मंदिर निर्माण और उससे जुड़ी सभी जिम्मेदारियों को तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट द्वारा पूरा किया जाता है। इस ट्रस्ट का गठन सुप्रीम कोर्ट के निर्णय पर ही किया गया है। मंदिर से जुड़े हर मुद्दे पर पूर्ण ज़िम्मेदारी इसी ट्रस्ट की होती है।
श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट से जुड़े जो संभावित तौर पर इस बड़ी बैठक में शामिल हो सकते हैं।
के. पराशरण
चंपत राय
बिमलेंद्र मोहन प्रताप मिश्र
डॉ अनिल कुमार मिश्र
कामेश्वर चौपाल
महंत दिनेंद्र दास

यह भी पढे: 4 जुलाई को जारी होगा योगी सरकार का रिपोर्ट कार्ड, जिले में मंत्री बताएँगे 6 महीने का प्लान

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

बिहारः कांग्रेस ने बुलाई विधायकों की बैठक, नीतीश कुमार के साथ जाने पर बन सकती है सहमति!Maharashtra Cabinet Expansion: कल 15 मंत्री लेंगे शपथ, देवेंद्र फडणवीस को मिलेगा गृह विभाग? जानें शिंदे कैबिनेट के संभावित मंत्रियों के नाम'इनकी पुरानी आदत है पूरे सिस्टम पर हमला करने की', कपिल सिब्बल के बयान पर बोले कानून मंत्री किरेण रिजिजूअरविंद केजरीवाल ने कहा- देश की राजनीति में परिवारवाद और दोस्तवाद खत्म कर भारतवाद लाएंगेAmit Shah Visit To Odisha: अमित शाह बोले- ओडिशा में अच्छे दिन अनुभव कर रहे लोग, सीएम नवीन पटनायक की तारीफ भी की'नीतीश BJP का साथ छोड़े तो हम गले लगाने को तैयार', बिहार में मचे सियासी घमासान पर बोले RJD नेता शिवानंद तिवारीगालीबाज भाजपा नेता पर रखा गया 25 हजार का इनाम, 40 टीमें तलाश में जुटीTET घोटाले में हुआ बड़ा खुलासा, शिंदे गुट के विधायक अब्दुल सत्तार की बेटियों के नाम आए सामने, शिवसेना ने बोला हमला
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.