बर्ड फ्लू के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए चिड़ियाघर में हुआ छिड़काव

प्राणि उद्यान में किसी भी प्रकार के बाहरी वाहनों का प्रवेष पूर्णतः वर्जित है।

By: Ritesh Singh

Published: 10 Jan 2021, 03:45 PM IST

लखनऊ ,वर्तमान समय में देश के कई राज्यों में बर्ड फ्लू का प्रकोप तेजी से फैल रहा है। इसको देखते हुए नवाब वाजिद अली शाह प्राणि उद्यान लखनऊ में विशेष तौर पर बर्ड फ्लू के रोकथाम एवं बचाव के लिए व्यवस्था की जा रही है

1- प्राणि उद्यान में किसी भी प्रकार के बाहरी वाहनों का प्रवेष पूर्णतः वर्जित है।

2- प्राणि उद्यान में प्रवेश करने वाले सभी दर्शकों एवं कर्मचारियों को फुटबॉश का
प्रयोग करके तथा हाथों के सेनेटाइजेषन के उपरान्त ही प्रवेश दिया जा रहा है।

3- प्राणि उद्यान के सभी बाड़ों विषेषतौर पर पक्षियों के बाड़ों का सेनेटाइजेषन किया
जा रहा है तथा बाड़ों के अगल-बगल चूने का छिड़काव भी किया जा रहा है।

4- प्राणि उद्यान में बर्ड फ्लू के प्रकोप को देखते हुए अभी कुछ समय के लिये भोजन
में दिये जाने वाले पोल्ट्री/मुर्गी को बन्द कर दिया गया है, अण्डों को 20 मिनट
उबालने के उपरान्त ही वन्य जीवों को दिया जा रहा है।

5- पक्षियों के बाड़ों के अन्दर या बाहर किसी भी पक्षी में किसी प्रकार के लक्षण प्रतीत
होते है तो उसे तुरन्त विस्तृत जांच हेतु भेजा जायेगा।

6- प्राणि उद्यान परिसर के अन्दर यदि किसी पक्षी की मृत्यु होती है तो उसे बर्ड फ्लू
के प्रोटोकाल के उपरान्त सारी सतर्कता बरतते हुए जांच हेतु भेजा जायेगा।

7- पक्षी बाड़े के कीपरों को बर्ड फ्लू के बारे में जागरूक किया गया है, जिससे वह
सतर्क रहे।

8- प्राणि उद्यान में वन्य जीवों को दिये जाने वाले भोजन को पोटेषियम पर मैगनेट के
घोल से साफ ;क्पेपदमिबजंदजद्ध करके ही वन्य जीवों को दिया जा रहा है।

9- प्राणि उद्यान के सभी पक्षियों की प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने हेतु विषेषतौर पर
औषधियां दी जा रही है।

10- प्राणि उद्यान में बर्ड फ्लू के लिये अलग से आइसोलेषन वार्ड की व्यवस्था की गयी
है।

Show More
Ritesh Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned