UP Board Exam 2019 : हाईस्कूल के सभी छात्र ऐसे देख सकेंगे की परीक्षाफल

UP Board Exam 2019 : हाईस्कूल के सभी छात्र ऐसे देख सकेंगे की परीक्षाफल

Neeraj Patel | Updated: 05 Apr 2019, 10:28:45 AM (IST) Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

UP Board Exam 2019 : हाईस्कूल के सभी छात्र उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद (यूपी बोर्ड) की अधिकारिक वेबसाइट upmsp.edu.in पर जाकर अपना परिणाम देखने के लिए कक्षा 10 के परीक्षाफल को पीडीएफ फाइल में डाउनलोड करके देख सकते हैं।

 

लखनऊ. उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद (यूपी बोर्ड) की हाईस्कूल (High School) की परीक्षा 28 फरवरी को समाप्त होते ही कक्षा 10 के छात्रों का परीक्षाफल का इंतजार शुरू हो जाएगा। इसके साथ ही हाईस्कूल कक्षा 10 के सभी छात्र इंटरनेट पर अपने परीक्षा परिणामों की सूचना देखने के लिए सर्च करने लग जाएंगे। कि हाईस्कूल की परीक्षा का परिणाम कितनी तारीख को कब और कितने बजे आएगा।

परीक्षा परिणाम देखने के लिए डाउनलोड करनी होगी पीडीएफ

हाईस्कूल के सभी छात्र उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद (यूपी बोर्ड) की अधिकारिक वेबसाइट upmsp.edu.in पर जाकर अपना परिणाम देखने के लिए परीक्षाफल को पीडीएफ फाइल में डाउनलोड करके देख सकते हैं। अगर हाईस्कूल का कोई भी छात्र अपने परीक्षा परिणाम का प्रिंट आउट निकालता है तो उसको सबसे अपने परीक्षाफल को पीडीएफ में डाउनलोड करना होगा। उसी के बाद कक्षा 10 के छात्र अपने परिणामों का प्रिंट आउट निकलवा पाएगा।

परीक्षा परिणामों से संबंधित जानकारी यहां से करें प्राप्त

हाईस्कूल के सभी छात्र अपने परीक्षा परिणाम की पीडीएफ फाइल को अपनी पैन ड्राइव में अपने पास ही सुरक्षित रख सकते हैं। जिसकी आपको कभी भी किसी भी समय जरूरत भी पड़ सकती हैं। हाईस्कूल के छात्र अपने अपने परीक्षा परिणामों से संबंधित अधिक जानकारी लेना चाहते हैं तो वह उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद (यूपी बोर्ड) की अधिकारिक वेबसाइट upmsp.edu.in पर जाकर पूरी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned