यूपी की इस मंत्री पर लगा सेना का अपमान करने का आरोप, भाजपा से निष्कासित करने की उठी मांग

मनोज कुमार चौहान, भाजपा सैनिक प्रकोष्ठ, जिला संयोजक ने यूपी कैबिनेट मंत्री पर सेना का अपमान करने का आरोप लगाया है।

By: Abhishek Gupta

Updated: 04 Apr 2019, 05:41 PM IST

लखनऊ. मनोज कुमार चौहान, भाजपा सैनिक प्रकोष्ठ, जिला संयोजक ने यूपी कैबिनेट मंत्री स्वाति सिंह पर सेना का अपमान करने का आरोप लगाया है। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष महेंद्न नाथ पांडेय को लिखे एक पत्र में मनोज कुमार का कहना है कि स्वाति सिंह ने उन्हें औकात में रहने व पार्टी कार्यकर्ताओं को धमकाया भी है। मनोज ने स्वाति सिंह को पार्टी से निष्कासित कर उनके खिलाफ कार्रवाई की मांग की है।

ये भी पढ़ें- ढाई दशक बाद मुलायम को जिताने मायावती जाएंगी मैनपुरी, नेताजी के मंच साझा होने पर सस्पेंस बरकरार

जमीन पर अवैध कब्जा कर धन उगाही का लगाया आरोप-

गुरुवार को भाजपा प्रदेश अध्यक्ष को लिखे पत्र में उन्होंने कहा कि जहां हमारी सेना के शौर्य की तारीफ पीएम मोदी, सीएम योगी से लेकर अन्य दिग्गज कर रहे हैं, तो वहीं विधायक स्वाति सिंह मुझ जैसे राष्ट्रभक्त, सेना के जवान को औकात में रहने की हिदायत दे रही हैं। सरोज ने स्वाति सिहं, उनके पिता व भाई पर सरोजनीनगर क्षेत्र में जमीनों पर कब्जा कर अवैध धन उगाही करने का भी आरोप लगाया है।

ये भी पढ़ें- इस सीट पर पार्टियों ने चला बड़ा दांव, इस कदम से भाजपा के लिए सीट बचाने की बनी चुनौती, सपा-बसपा की दोस्ती की होगी परीक्षा

पार्टी की छवि को धूमिल कर रहीं स्वाति सिंह-

मनोज कुमार चौहान ने यह भी कहा कि पूर्व मण्डल अध्यक्ष सुशील गुप्ता को स्वाति सिंह व उनके पिता ने अपमानित किया। क्षेत्र की जनता उनसे परेशान हो गई है। मनोज ने बताया कि हमें पीएम मोदी पर पूर्ण विश्वास है, लेकिन स्वाति सिंह जैसे लोग न केवल पार्टी की छवि को धूमिल कर रहे हैं बल्कि नुकसान भी पहुंचा रहे हैं।

मंत्रिमंडल से करें बर्खास्त-

मनोज चौहान ने मांग की है कि हम सैनिकों के सम्मान के लिए प्रदेश सरकार स्वाति सिंह को मंत्रिमंडल के बर्खास्त कर व उन्होंने निष्कासित करने की कृपा करें। यह स्वार्थी लोग केवल मतलब के लिए पार्टी में है, इनका देश से कोई लेना देना नहीं है।

pm modi
Show More
Abhishek Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned