UP: सीएम योगी ने किया संचारी रोग नियंत्रण अभियान का शुभारंभ, कहा यूपी में बेहतर हुआ है काम

राज्य की योगी सरकार ने बुधवार को संचारी रोग नियंत्रण अभियान (Communicable Disease Control Campaign) का शुभारंभ किया। 31 जुलाई तक चलने वाले इस अभियान के शुभारंभ पर सीएम योगी (UP CM Yogi Adityanath) ने कहा कि जन-जन को स्वस्थ रखना ही सरकार का लक्ष्य है। कोरोना की तरह संचारी रोग से भी हम डटकर मुकाबला करेंगे

By: Karishma Lalwani

Published: 01 Jul 2020, 04:50 PM IST

लखनऊ. राज्य की योगी सरकार ने बुधवार को संचारी रोग नियंत्रण अभियान (Communicable Disease Control Campaign) का शुभारंभ किया। 31 जुलाई तक चलने वाले इस अभियान के शुभारंभ पर सीएम योगी (UP CM Yogi Adityanath) ने कहा कि जन-जन को स्वस्थ रखना ही सरकार का लक्ष्य है। कोरोना की तरह संचारी रोग से भी हम डटकर मुकाबला करेंगे। उन्होंने कहा कि लोगों को सावधानी बरतना जरूरी है। बारिश के मौसम में जरा सी लापरवाही से किसी बीमारी की चपेट में आने का खतरा रहता है। यही कारण है कि बीमारियों के प्रति जनजागरूकता के साथ बचाव के अभियान को आगे बढ़ाने की आवश्यकता है। सीएम ने कहा कि लोग अनलॉक को हल्के में न लें। जरा सी लापरवाही कोरोना के प्रसार को बढ़ावा दे सकती है।

यूपी में बेहतर काम हुआ

मुख्यमंत्री ने विशेष सफाई दल को हरी झंडी दिखाई। यह सफाई दल पूरे प्रदेश में गांव और मोहल्ले में जाकर सफाई और सैनिटाइजेशन का काम करेगा। लोगों को उल्टी, दस्त जेई व एईएस आदि संचारी रोग से बचाने के लिए उन्हें जागरूक किया जाएगा। वहीं, स्वास्थ्य विभाग की तारीफ कर मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना महामारी में यूपी जैसे बड़े राज्य में बेहतर काम हुआ है। आज कोविड-19 अस्पतालों में करीब डेढ़ लाख बेड हैं। जल्द ही जांच का दायरा बढ़ाकर प्रतिदिन 30 हजार कर दिया जाएगा। सीएम ने कहा कि 2016 और 2017 में यूपी में सिर्फ इंसेफ्लाइटिस से प्रतिवर्ष 600 से ज्यादा होती थी। अगर इसके बाद के वर्षों के आकड़े देखे जाएं, तो पाएंगे कि 2019 तक यह घटकर 126 तक आ गई थी। उन्होंने कहा कि जिस प्रकार से इस वर्ष कोरोना काल में स्वच्छता और सैनेटाइजेशन का अभियान चला उससे इन मौतों में और कमी आई। इस उपलब्धि को हासिल करने में प्रधानमंत्री के स्वच्छ भारत मिशन की बड़ी भूमिका है। इस मिशन के तहत गांव-गांव में शौचालय बने और स्वच्छता अभियान चला, जिसके कारण इस बीमारी को रोकने में सफलता मिली।

UP: सीएम योगी ने किया संचारी रोग नियंत्रण अभियान का शुभारंभ, कहा यूपी में बेहतर हुआ है काम

5 जुलाई को सीएम करेंगे 25 करोड़ पौधरोपण का शुभारंभ

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पांच जुलाई को उत्तर प्रदेश में 25 करोड़ पौधारोपण अभियान की शुरुआत करेंगे। इस कार्यक्रम की शुरुआत मेरठ के समीप स्थित पौराणिक शहर हस्तिनापुर से की जाएगी। हस्तिनापुर में आध्यात्मिक व पौराणिक महत्व के 108 प्रजातियों के पौधे रोपे जाएंगे। इस क्षेत्र में पौधारोपण इस तरह किया जाएगा कि जनता को आध्यात्मिक के साथ ही पौराणिक संदेश भी मिले। महाभारत की याद दिलाने वाले हस्तिनापुर में पांडवों के साथ-साथ श्रीकृष्ण, राधा व श्रीराम के समय के पौधे लगाए जाएंगे। पौधारोपण के लिए वन विभाग ऐसे पौधों को चुन रहा है, जिनका वर्णन पौराणिक व आध्यात्मिक कथाओं में किया गया है। यहां श्रीकृष्ण से जुड़े कृष्ण कदम्ब, राधा से जुड़े तमाल पौधे भी रोपे जाएंगे। पुरातन काल में तप स्थली के रूप में पहचाना जाने वाला हरिशंकरी पौधा भी यहां लगाया जाएगा।

सबसे अधिक प्रजातियों के पौधारोपण का बनेगा विश्व रिकॉर्ड

पौराणिक महत्व दर्शाने के साथ ही यूपी में इस बार 25 करोड़ पौधारोपण अभियान में सबसे अधिक प्रजातियों के पौधे रोपित करने का विश्व रिकॉर्ड बनेगा। इसके लिए यूपी की योगी सरकार ने गिनीज बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड से संपर्क किया है। गिनीज बुक ने 150 प्रजातियों का बेंचमार्क तय किया है। वन विभाग करीब 200 प्रजातियों के पौधे एक साथ रोपित करने की तैयारी कर रहा है। इससे पहले 2019 में योगी सरकार ने 22 करोड़ पौधारोपण अभियान के तहत प्रयागराज में एक स्थल पर छह घंटे में 76,823 पौधे मुफ्त वितरित कर विश्व रिकॉर्ड बनाया था।

ये भी पढ़ें: Unlock-2: आज से अनलॉक-2 की शुरुआत, 31 जुलाई तक स्कूल-कॉलेज बंद, यहां जानें बड़े बदलाव

Karishma Lalwani
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned