जुलाई में शुरू होगी डीएलएड (बीटीसी) 2020 प्रवेश प्रक्रिया, एडमिशन के लिए जानें पूरी डीटेल

(UP Basic Education Department) यूपी बेसिक शिक्षा विभाग डीएलएड (डिप्लोमा इन एलीमेंट्री एजुकेशन) Diploma in Elementary Education (D.El.Ed.) की प्रवेश प्रक्रिया जुलाई महीने में शुरू करने को लेकर मंथन कर रहा है।

लखनऊ. (UP Basic Education Department) यूपी बेसिक शिक्षा विभाग डीएलएड (डिप्लोमा इन एलीमेंट्री एजुकेशन) Diploma in Elementary Education (D.El.Ed.) की प्रवेश प्रक्रिया जुलाई महीने में शुरू करने को लेकर मंथन कर रहा है। जबकि निजी कॉलेजों की मंशा है कि कोरोना वायरस के चलते देरी से हो रही स्नातक की परीक्षा पूरी होने के बाद ही डीएलएड (प्रचलित नाम बीटीसी) के प्रवेश खोले जाएं। आपको बता दें कि डीएलएड में स्नातक अभ्यर्थी ही प्रवेश ले सकते हैं। यूपी में सरकारी कॉलेजों में डीएलएड की 10600 सीटें हैं। वहीं निजी कॉलेजों में 2 लाख से ज्यादा सीटें हैं। ऐसे में अगर जुलाई से डीएलएड प्रवेश प्रक्रिया शुरू होती है, तो अभ्यर्थियों को इसके लिए अभी से तैयारी शुरू करनी होगी।


निजी कॉलेज कर रहे विरोध

डीएलएड में प्रवेश प्रक्रिया शुरू करने को लेकर परीक्षा नियामक प्राधिकारी शासन को प्रस्ताव भेज रहा है। दरअसल डीएलएड की एडमिशन प्रक्रिया हर साल जुलाई में ही शुरू होती है और सितम्बर से पढ़ाई शुरू की जाती है। लेकिन निजी कॉलेज इसका विरोध कर रहे हैं और उनका कहना है कि कॉलेजों में स्नातक परीक्षाएं पूरी होने के बाद ही इसमें प्रवेश की प्रक्रिया शुरू की जाए। क्योंकि कोरोना की वजह से ही स्नातक की परीक्षाओं में देरी हुई है। इसलिए डीएलएड प्रवेश परीक्षा को भी कुछ दिनों के लिए टाला जाए। इस मांग को लेकर निजी कॉलेज लगातार विभाग और शासन को पत्र भेजरहे हैं।


अभी नहीं हुई हैं स्नातक परीक्षाएं

दरअसल लॉकडाउन के चलते विश्वविद्यालय अभी स्नातक की परीक्षाएं नहीं करा पाए हैं। जुलाई महीने में सभी विश्वविद्यालय अपनी परीक्षाएं करवाना चाहते हैं। जबकि बीटेक में भी आखिरी सेमेस्टर की परीक्षाएं अभी बाकी हैं। वहीं डीएलएड में बीए-बीएससी, बीटेक, बीसीए समेत समकक्ष कोर्स को करने वाले अभ्यर्थी ही एडमिशन लेते हैं। ऐसे में जब इस साल फाइनल वर्ष के विद्यार्थी इसमें भाग नहीं ले पाएंगे तो एडमिशन लेने वालों की संख्या काफी घट जाएगी। वहीं सरकारी प्राइमरी स्कूलों में सहायक अध्यापक पद पर नियुक्ति के लिए बीएड मान्य होने के बाद से डीएलएड का क्रेज घट रहा है। ऐसे में इस सालबड़ी संख्या में सीट खाली रहने की संभावना है।

यह भी पढ़ें: अब अर्चना तिवारी की मार्कशीट सोशल मीडिया पर वायरल, शिक्षक भर्ती में फिर बढ़ा बवाल

Show More
नितिन श्रीवास्तव
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned