scriptUP government help financially in orphan girls marriage | योगी सरकार की नेक पहल, कोरोना से अनाथ हुई बेटियों की शादी कराएगी सरकार, यह होंगे पात्र | Patrika News

योगी सरकार की नेक पहल, कोरोना से अनाथ हुई बेटियों की शादी कराएगी सरकार, यह होंगे पात्र

- उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना के अंतर्गत की जाएगी मदद

लखनऊ

Published: August 14, 2021 05:05:54 pm

लखनऊ. यूपी सरकार अब कोरोना (UP corona update) से अनाथ हुई बेटियों की शादी कराएगी। सरकार की सराहनीय उत्तर प्रदेश मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना (CM Bal Seva Yojna) के तहत इस नेक काम को अंजाम दिया जाएगा। जिन बेटियों ने कोरोना महामारी के कारण अपने माता-पिता को खो दिया है, यूपी सरकार उनका सहारा बनेगी। बेटियों की शादी की उम्र होने पर सरकार उन्हें एक लाख एक हजार रुपए भी देगी। सरकार प्रत्येक जिलें में बेसहारा हुई बेटियों का डाटा तैयार कर रही है। इसके अतिरिक्त सरकार खाने, पीने व पढ़ाई-लिखाई के लिए मदद का पहले ही ऐलान कर चुकी है।
CM Yogi
CM Yogi
ये भी पढ़ें- यूपी में मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना का शुभारंभ, 4050 अनाथों का योगी ने थमा हाथ

यह उम्र होनी अनिवार्य-
बेटियों की शादी के लिए रुपए जिला प्रोबेशन के माध्यम से दिए जाएंगे। पूर्व में केवल बेटियों को भरण पोषण, शिक्षा व चिकित्सा के लिए योजना का ऐलान किया गया था, लेकिन अब बाल सेवा योजना के तहत उन बेटियों को चयनित किया जा रहा है, जो बालिग हो रही है। शादी की तारीख पर वधू की उम्र 18, तो वर की 21 होनी अनिवार्य है। वहीं आवेदन के लिए लाभार्थी और अभिभावक की तस्वीर समेत पूर्ण आवेदन पत्र जरूरी है। साथ ही माता-पिता या वैध संरक्षक का मृत्यु प्रमाण पत्र भी होना अनिवार्य है।
ये भी पढ़ें- बेसहारा बच्चों के हक में सीएम योगी का बड़ा फैसला, आर्थिक सहायता के लिए हर माह मिलेंगे 2500 रुपये, पढ़ाई में भी मदद

जिलों में शुरू हुई समीक्षा-
जिलों में योजना की समीक्षा भी शुरू हो गई है। मिर्जापुर में मुख्य विकास अधिकारी श्रीलक्ष्मी वीएस ने कलेक्ट्रेट सभागार में योजना (सामान्य) के अन्तर्गत बने जिला स्तरीय टास्क फोर्स की बैठक ली। इसमें टास्क फोर्स की सदस्य सचिव/जिला प्रोबेशन अधिकारी शक्ति त्रिपाठी ने कहा कि जिन बच्चों के माता-पिता या दोनों की मृत्यु कोविड या दूसरे कारणों से हुई है, वे बच्चे इस योजना का लाभ ले सकते हैं। इसमें उनके अभिभावकों की वार्षिक आय तीन लाख से कम होनी चाहिए। बच्चों की उम्र 0-18 वर्ष तक होनी चाहिए। वहीं जिन बच्चों की उम्र 18-23 वर्ष के बीच है व उनके माता-पिता को कोरोना काल में मृत्यु हुई है और वे 12वीं पास कर उच्च शिक्षा के लिए जाना चाहते हुए वह भी इस योजना के पात्र होंगे।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Video Weather News: कल से प्रदेश में पूरी तरह से सक्रिय होगा पश्चिमी विक्षोभ, होगी बारिशVIDEO: राजस्थान में 24 घंटे के भीतर बारिश का दौर शुरू, शनिवार को 16 जिलों में बारिश, 5 में ओलावृष्टिदिल्ली-एनसीआर में बनेंगे छह नए मेट्रो कॉरिडोर, जानिए पूरी प्लानिंगश्री गणेश से जुड़ा उपाय : जो बनाता है धन लाभ का योग! बस ये एक कार्य करेगा आपकी रुकावटें दूर और दिलाएगा सफलता!पाकिस्तान से राजस्थान में हो रहा गंदा धंधाइन 4 राशि वाले लड़कों की सबसे ज्यादा दीवानी होती हैं लड़कियां, पत्नी के दिल पर करते हैं राजहार्दिक पांड्या ने चुनी ऑलटाइम IPL XI, रोहित शर्मा की जगह इसे बनाया कप्तानName Astrology: अपने लव पार्टनर के लिए बेहद लकी मानी जाती हैं इन नाम वाली लड़कियां
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.