जिला पंचायत चुनाव रुझान/नतीजे: भाजपा को मात देती नजर आ रही सपा, अखिलेश ने कहा- भाजपा राज का सफाया निश्चित

UP panchayat chunav result 2021. अभी तक के नतीजों में सपा जिला पंचायत सदस्य की अधिकतर सीटों में विजयी/आगे दिख रही है। 3051 सीटों में से सपा 699 सीटें जीतती नजर आ रही है, वहीं भाजपा 543 सीटों पर बाजी मारती दिख रही है।

By: Abhishek Gupta

Updated: 05 May 2021, 03:14 PM IST

लखनऊ. UP panchayat chunav result 2021. त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव में समाजवादी पार्टी और भाजपा में कांटे की टक्कर देखने को मिली है। हालांकि अभी तक के नतीजों में सपा जिला पंचायत सदस्य की अधिकतर सीटों में विजयी/आगे दिख रही है। 3051 सीटों में से सपा 699 सीटें जीतती नजर आ रही है, वहीं भाजपा 543 सीटों पर बाजी मारती दिख रही है। यह देख सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भाजपा पर हमला किया है व कहा कि भाजपा झूठे वादे करने के अपने स्वभाव के अनुसार पंचायत चुनावों में भी बाज नहीं आ रही है। यह हकीकत है कि गाँवों में अपनी ही तीसरे इंजन वाली सरकार बनाने का उसका सपना बुरी तरह चकनाचूर हुआ है। सपा अध्यक्ष ने कहा कि भाजपा सरकार हर मोर्चे पर विफल है। पंचायत चुनावों के नतीजों ने भाजपा की नाव डूबने के स्पष्ट संकेत दे दिए हैं। मंत्रियों, सांसदों, विधायकों तक को पूरे राज्य में तैनात कर भाजपा ने जीत की साजिशें रची थी पर जनता ने उसकी धौंस में नहीं आई, उसने भाजपा को करारा जवाब दिया है। उत्तर प्रदेश के पंचायती चुनावों के नतीजों से जो संदेश मिल रहा है वह सन् 2022 में होने वाले विधानसभा चुनावों के लिए भी सही साबित होगी। उत्तर प्रदेश में भाजपा राज का सफाया निश्चित है। बस अब गिने चुने दिन ही शेष हैं, भाजपा की विदाई और समाजवादी सरकार बनने में।

ये भी पढ़ें- UP Panchayat Election result: इटावा में पति ने जीता प्रधानी का चुनाव, लेकिन नतीजे आने से पहले हुई पत्नी की मौत

समाजवादी पार्टी अध्यक्ष ने पंचायत चुनावों में विजय हासिल करने वाले सपा के सभी उम्मीदवारों को बधाई दी है। कोरोना संक्रमण के फैलाव को देखते हुए उनसे किसी प्रकार का विजय उत्सव मनाने के बजाए अपील की है कि सभी समाजवादी पार्टी कार्यकर्ता अपने स्तर से जनता की सेवा में लग जाएं। अखिलेश यादव ने कहा है की पंचायत चुनावों मतदाताओं की प्रथम वरीयता समाजवादी पार्टी रही है। बड़ी तादात में समाजवादी पार्टी की जीत के साफ संकेत हैं कि किसानों, नौजवानों और गाँव तक में उसकी स्वीकारिता है। समाजवादी पार्टी जनता की सेवा के लिए प्रतिबद्ध है। जनता ने समाजवादी पार्टी को जीत दिलाकर लोकतंत्र को बचने का भी सराहनीय कार्य किया है।

ये भी पढ़ें- Gorakhpur Jila Panchayat Result: सीएम योगी के गृह जनपद में भाजपा-सपा को बराबर सीटें

भाजपा की कोई चाल काम नहीं आई-
अखिलेश यादव ने कहा कि चुनावों में भाजपा को प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री के गृह जनपदों में भी मुँह की खानी पड़ी है। वाराणसी, गोरखपुर, प्रयागराज के अलावा आजमगढ़ से लेकर इटावा तक भाजपा की कोई चाल काम नहीं आई और तो और राज्य की राजधानी, लखनऊ में जनता ने भाजपा को नकार दिया है। लखनऊ में भी समाजवादी पार्टी को भारी सफलता मिली है। राज्य जनता बधाई की पात्र है कि उन्होंने समाजवादी पार्टी पर अपना भरोसा व्यक्त किया है।

अखिलेश यादव ने कहा कि पंचायत चुनावों में मतदाताओं ने सत्ता के दुरुपयोग और वोटों की हेराफेरी के भी भाजपा को हार मिली है। चार साल के भाजपा राज में जनता को धोखा ही मिला है। समाजवादी सरकार ने विकास के जो काम बढ़ाए थे, भाजपा ने द्वेषवश उन्हें बाधित किया। गतवर्ष से कोरोना का संक्रमण जारी है। भाजपा सरकार ने न तो समुचित इलाज की व्यवस्था की ना ही पलायन के शिकार श्रमिकों के रोजी रोटी की व्यवस्था की। प्रदेश बेकारी, व्यापार बंदी और शैक्षिक- स्वास्थ्य संबंधी दुर्व्यवस्थाओं से ग्रसित है।

Abhishek Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned