लोकसभा चुनाव में इस बार टूटे सारे रिकॉर्ड, इतने करोड़ की नकदी के साथ बरामद हुईं यह कीमती चीजें

लोकसभा चुनाव में इस बार टूटे सारे रिकॉर्ड, इतने करोड़ की नकदी के साथ बरामद हुईं यह कीमती चीजें

Hariom Dwivedi | Publish: May, 19 2019 02:10:00 PM (IST) Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

- चुनाव आयोग की सख्ती का दिखा असर
- यूपी में 20 हजार किग्रा से अधिक की कीमत के नशीले पदार्थ बरामद

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में अब तक करीब 200 करोड़ रुपए से अधिक की नकदी, ड्रग्‍स, सोना-चांदी जब्त की जा चुकी है। 2014 के लोकसभा चुनाव के मुकाबले इस बार उत्तर प्रदेश में तीन गुना ज्याादा कैश और 10 गुना ज्यादा सोना और चांदी बरामद हुआ है। डीजीपी मुख्यालय से प्राप्त आंकड़ों के मुताबिक, वर्ष २०१४ के दौरान १२.८७ फीसदी कैश बरामद हुआ था, जबकि १७वीं लोकसभा के आखिरी चरण से पहले तक राज्य में करीब 39 करोड़ रुपये नकद बरामद किये जा चुके हैं। पिछले वर्ष के मुकाबले इस बार सोने की बरामदगी भी करीब १० गुना ज्यादा बढ़ गई है। २०१४ में चुनाव के दौरान १३ किलोग्राम सोने की रिकवरी हुई थी, जबकि १५ मई तक सोने की बरामदगी का आंकड़ा सवा सौ किलो तक पहुंच गया। वहीं, २०१७ के विधानसभा चुनाव के दौरान उत्तर प्रदेश से पांच करोड़ रुपए कैश और ७९ करोड़ की कीमत का सोना बरामद किया गया था।

उत्तर प्रदेश में सोने और चांदी की बरामदगी ने पिछले सभी रिकॉर्डों को ध्वस्त कर दिया है। सूत्रों की मानें यह आंकड़ा और बढ़ता, लेकिन सर्राफा कारोबारियों की गुहार के बाद चुनाव आयोग न अप्रैल माह में ही सोने और चांदी की चेकिंग पर रोक लगा दी थी।

उत्तर प्रदेश आईजी कानून-व्यवस्था और चुनाव के नोडल अधिकारी रहे प्रवीण कुमार के मुताबिक, चुनाव आयोग की सख्ती के चलते इतनी रिकवरी संभव हुई है। उन्होंने बताया कि चुनाव के दौरान न केवल नकदी बल्कि भारी मात्रा में अवैध शस्त्र, विस्फोटक और शराब भी जब्त की गई है। इस बार उत्तर प्रदेश में सबसे ज्यादा करीब 20 हजार किग्रा से अधिक नशीले पदार्थ पकड़े गये हैं, जो देश के किसी भी राज्य से बरामद किये गये नशीले पदार्थों की सबसे अधिक मात्रा है। पुलिस और नॉरकोटिक्स विभाग ने नशीली चीजों को भी जब्त किया है। जिसमें स्मैक और भांग शामिल हैं, जिनकी कीमत लगभग 30 करोड़ रुपये है। चुनाव के दौरान भारी मात्रा अवैध हथियार भी जब्त किये गये। दूसरे चरण के चुनाव से पहले अकेले बुलंदशहर से 405 अवैध हथियार, 739 कारतूस, 2 करोड़ रुपये की शराब समेत 1.5 करोड़ रुपये नकद जब्त किये गये थे।

राज्य में 1,000 से अधिक लोगों के आर्म्ड लाइसेंस रद्द किये जा चुके हैं वहीं, करीब 35,000 से अधिक लोगों के खिलाफ अलग-अलग मामलों में गैर-जमानती वारंट किया जा चुका है।
एल वेंकटेश्वरलू, मुख्य चुनाव अधिकारी, उत्तर प्रदेश

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned