सीएए को लेकर दोबारा हिंसक प्रदर्शन की हो रही थी प्लानिंग, फेसबुक से खुला ये बड़ा राज

अमेरिका की तरह ही लखनऊ में नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के खिलाफ दोबारा हिंसक प्रदर्शन की प्लानिंग करने में जुटे एक शख्स को पुलिस ने गिरफ्तार किया है...

लखनऊ. अमेरिका की तरह ही लखनऊ में नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के खिलाफ दोबारा हिंसक प्रदर्शन की प्लानिंग करने में जुटे एक शख्स को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। आरोपी ने 4 जून को फेसबुक पर एक पोस्ट डाला था, जिसमें उसने सीएए के खिलाफ दोबारा विरोध प्रदर्शन शुरू करने की बात कही और भड़काऊ पोस्ट से लोगों को इकठ्ठा करने की साजिश रचने में जुटा था। आरोपी ने अपनी पोस्ट में अमेरिका में नस्लवाद को लेकर हुई हिंसा का सहारा लिया और यूपी में फिर सीएए के विरोध में प्रदर्शन के लिए लोगों से एकजुट होने की अपील की।

दोबारा प्रदर्शन की कर रहा था प्लानिंग

वहीं इस मामले में पुलिस ने गोमतीनगर के विराम खंड 4 के रहने वाले अफसार अहमद सिद्दीकी और शाकिब आलम के खिलाफ आईपीसी की धारा 505 (2) और आईटी एक्ट 66F के तहत एफआईआर दर्ज की है। शाकीब आलम नाम क शख्स ने अफसार के पोस्ट का समर्थन करते हुए उसपर कमेंट भी किया था। हालांकि पुलिस अभी शाकिब की गिरफ्तार नहीं कर सकी है। पुलिस की एफआईआर के मुताबिक आरोपी अफसार के पोस्ट का स्क्रीन शॉट मिलते ही पुलिस एक्टिव हो गई। फिर 11 जून की रात उसे उसके घर से गिरफ्तार किया गया। हालांकि गिरफ्तारी के बाद आरोपी माफी मांगने लगा और उसने गलती से पोस्ट करने की बात कही। हालांकि आरोपी को गिरफ्तार कर पुलिस मामले की जांच कर रही है। साथ ही अफसार के पोस्ट पर कमेंट करने वालों पर भी पुलिस की खूफिया नजर है।

सोशल मीडिया पर पैनी नजर

वहीं इस मामले में पुलिस कमिश्नर सुजीत पांडे ने बताया कि कुछ लोग सीएए के खिलाफ प्रदर्शन फिर से शुरू करने को लेकर सोशल मीडिया पर भड़काऊ पोस्ट डालकर साजिश रच रहे हैं। इन पोस्ट पर साइबर सेल और एसटीएफ की भी नजर है। ऐसे किसी भी शख्स को हम बख्शेंगे नहीं, उनके खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी।

यह भी पढ़ें: अब अर्चना तिवारी की मार्कशीट सोशल मीडिया पर वायरल, शिक्षक भर्ती में फिर बढ़ा बवाल

CAA CAA protest
नितिन श्रीवास्तव
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned