scriptUP Police will be equipped with Hi-Tech-Artificial Intelligence | हाईटेक-आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस से लैस होगी यूपी पुलिस, लॉ एंड आर्डर कंट्रोल के लिए 75 जिलों में बनेंगी हाईटेक क्यूआरटी | Patrika News

हाईटेक-आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस से लैस होगी यूपी पुलिस, लॉ एंड आर्डर कंट्रोल के लिए 75 जिलों में बनेंगी हाईटेक क्यूआरटी

यूपी के एडीजी लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार ने बताया कि कानून व्यवस्था नियंत्रण में एकरूपता लाने के लिए जिलों में लॉ एंड आर्डर क्यूआरटी बनाई जाएंगी। इन्हें जिलों की संवेदनशीलता के लिहाज से तैयार किया जाएगा। हम इस तरह के सॉफ्टवेयर और तकनीक का इस्तेमाल करेंगे जिनके जरिए लोगों के चेहरे के भाव से उनके द्वारा की जाने वाली घटना को रोका जा सके।

 

लखनऊ

Published: April 29, 2022 09:55:24 am

यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की कानून व्यवस्था को आने वाले पांच साल में दूसरे प्रदेशों के लिए नजीर बनाने में लगे हुए हैं। यूपी पुलिस को और ज्यादा हाईटेक व आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस से लैस किया जाएगा। विशेषकर कानून व्यवस्था की निगरानी के लिए डीजीपी मुख्यालय और गृह विभाग में इंटीग्रेटेड लॉ एंड आर्डर कमांड सेंटर बनाया जाएगा और सभी जिलों में हाईटेक क्विक रेस्पॉन्स टीम भी बनाई जाएंगी। इसके साथ ही पुलिस को आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस टूल्ज जैसे स्टैटिकल पैकेज फॉर द सोशल साइंस (SPFSS), एरोनॉटिकल रिकनॉयसेंस कवरेज जियोग्राफिक इनफार्मेशन सिस्टम , फेशियल रिकॉग्निशन सिस्टम से भी लैस किया जाएगा।
police.jpg
इंटीग्रेटेड लॉ एंड आर्डर कमांड सेंटर स्थापित होगा

पुलिस मुख्यालय व गृह विभाग में इंटीग्रेटेड लॉ एंड आर्डर कमांड सेंटर स्थापित करने की कार्ययोजना तैयार की जाएगी। यह कमांड सेंटर आधुनिक तकनीक से लैस होगा। इसमें पुलिस मुख्यालय का कंट्रोल रूम, सोशल मीडिया सेल, 112 यूपी व गृह विभाग का कंट्रोल रूम जुड़ा रहेगा। वरिष्ठ स्तर के अधिकारी की निगरानी में यह संचालित होगा। इस कंट्रोल रूम को अगले छह माह के अंदर डीजीपी मुख्यालय में स्थापित करने का लक्ष्य रखा गया है।
कमांड सेंटर आधुनिक तकनीक से लैस होगा

यूपी की कानून व्यवस्था किसी भी सरकार के लिए हमेशा एक बड़ी चुनौती रही है। योगी सरकार ने दूसरे कार्यकाल में इस नजीर को और बड़ा करने की ठानी है। इसके तहत पुलिस मुख्यालय व गृह विभाग में इंटीग्रेटेड लॉ एंड आर्डर कमांड सेंटर स्थापित करने की कार्ययोजना तैयार की जाएगी। यह कमांड सेंटर आधुनिक तकनीक से लैस होगा। इसमें पुलिस मुख्यालय का कंट्रोल रूम, सोशल मीडिया सेल, 112 यूपी व गृह विभाग का कंट्रोल रूम जुड़ा रहेगा। वरिष्ठ स्तर के अधिकारी की निगरानी में यह संचालित होगा। इस कंट्रोल रूम को अगले छह माह के अंदर डीजीपी मुख्यालय में स्थापित करने का लक्ष्य रखा गया है।
10 जिलों में हाईटेक लॉ एंड आर्डर क्यूआरटी बनेंगी

अगले छह माह के अंदर कानून व्यवस्था के हिसाब से 10 महत्वपूर्ण जिलों में हाईटेक लॉ एंड आर्डर क्यूआरटी टीम बनाई जाएंगी जो सिर्फ कानून-व्यवस्था से जुड़े मामलों के लिए होंगी।
दंगा निरोधी अस्त्र-शस्त्र से होंगी लैस

जिलों को वहां की जनसंख्या, क्षेत्रफल, पूर्व में कानून व्यवस्था के लिहाज से हुई घटनाओं के आधार पर ए, बी और सी श्रेणी में बांटा जाएगा और उसके आधार पर ही क्यूआरटी टीमें बनाई जाएंगी। इन्हें दो पहिया, चार पहिया वाहनों, दंगा निरोधी अस्त्र-शस्त्र से लैस किया जाएगा। अगले पांच वर्ष में सभी जिलों में हाईटेक क्यूआरटी स्थापित करने का लक्ष्य तय किया गया है। इनके लिए अलग से वाहन भी लिए जाएंगे। ये टीमें डीजीपी मुख्यालय में बने इंटीग्रेटेड कमांड सेंटर से जुड़ी रहेंगी।
आईआईटी की मदद से तैयार होगा डेटा एनालिसिस टूल

इंटीग्रेटेड कमांड सेंटर के लिए आईआईटी की मदद से डेटा एनालिसिस टूल तैयार किया जाएगा। अपराध व घटनाओं के विश्लेषण, निवारण और घटना के पूर्वानुमान के लिए एआई टूल्स का इस्तेमाल किया जाएगा।
चेहरे के भाव से होगी पहचान

इस तरह के साफ्टवेयर का इस्तेमाल करने की तैयारी है जहां चेहरे के भाव पढ़कर व्यक्ति के एक्शन की जानकारी मिल जाएगी और किसी वारदात को रोका जा सकेगा। सभी प्रमुख सरकारी प्रतिष्ठानों जैसे लोकभवन, विधान भवन, सचिवालय और सुरक्षा व जांच एजेंसियों से जुड़े मुख्यालय में इस तरह के टूल्स इस्तेमाल होंगे। इसके साथ ही सीसीटीवी में विडियो एनालिटिक व मैनेजमेंट तकनीक का शामिल किया जाएगा।
अपराध शाखा में विलय होगी एससीआरबी

आने वाले 100 दिनों के अंदर स्टेट क्राइम रिकॉर्ड ब्यूरो को डीजीपी मुख्यालय स्थित अपराध शाखा में विलय करने की तैयारी है। वर्तमान में एडीजी तकनीकी सेवाएं के अंतर्गत आता है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

जयपुर में एक स्वीमिंग पूल में रात का सीसीटीवी आया सामने, पुलिसवालें भी दंग रह गएकचौरी में छिपकली निकलने का मामला, कहानी में आया नया ट्विस्टइन 4 राशियों के लोग होते हैं सबसे ज्यादा बुद्धिमान, देखें क्या आपकी राशि भी है इसमें शामिलचेन्नई सेंट्रल से बनारस के बीच चली ट्रेन, इन स्टेशनों पर भी रुकेगीNumerology: इस मूलांक वालों के पास धन की नहीं होती कमी, स्वभाव से होते हैं थोड़े घमंडीबुध जल्द अपनी स्वराशि मिथुन में करेंगे प्रवेश, जानें किन राशि वालों का होगा भाग्योदयधन कमाने की योजना बनाने में माहिर होती हैं इन बर्थ डेट वाली लड़कियां, दूसरों की चमका देती हैं किस्मतCBSE ने बदला सिलेबस: छात्र अब नहीं पढ़ेगे फैज की कविता, इस्लाम और मुगल साम्राज्य सहित कई चैप्टर हटाए

बड़ी खबरें

Maharashtra Political Crisis: शिवसेना में बगावत के बाद अब उपद्रव का डर! पोस्टर वॉर के बीच एकनाथ शिंदे के गढ़ ठाणे में धारा 144 लागूAmit Shah on 2002 Gujarat Riots: गुजरात दंगों पर SC के फैसले के बाद बोले अमित शाह, PM मोदी को इस दर्द को झेलते हुए देखा हैकेरल में राहुल गांधी के दफ्तर पर हुए हमले के बाद बड़ी कार्रवाई, DSP निलंबित, ADGP करेंगे मामले की जांच25 जून 1983, 39 साल पहले भारत ने रचा था इतिहास, लॉर्ड्स में वर्ल्ड कप जीतकर लहराया तिरंगाकौन हैं तपन कुमार डेका, जिन्हें मिली इंटेलिजेंस ब्यूरो की कमानपाकिस्तान की खुली पोल, 26/11 मुंबई हमले का मास्टर माइंड साजिद मीर जिंदा, ISI ने मोस्ट वांटेड आतंकी को बताया था मराMumbai News Live Updates: उद्धव ठाकरे को बड़ा झटका, 'शिवसेना बालासाहेब' नाम से शिंदे खेमे ने बनाया नया समूहMaharashtra Political Crisis: एक्शन में शिवसेना! अयोग्य करार देने के लिए डिप्टी स्पीकर को भेजा 4 और MLA के नाम, 16 बागियों पर भी कार्रवाई की तैयारी
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.