यूपी STF ने PFI की बड़ी साजिश को किया नाकाम, कमांडर बदरुद्दीन और असलहा ट्रेनर फिरोज गिरफ्तार

एडीजी लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार ने बताया कि इन लोगों की बसंत पंचमी के मौके पर हिंदू संगठनों के कार्यक्रम में विस्फोट की तैयारी थी।

लखनऊ. यूपी पुलिस और एसटीएफ की टीम ने लखनऊ से पीएफआई (पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया) (PFI) के दो सदस्यों को गिरफ्तार किया है। टीम ने उनके पास से भारी मात्रा में विस्फोटक सामान और हथियार भी बरामद किए हैं। पुलिस के मुताबिक पकड़े गये दोनों आरोपी बड़ी साजिश को अंजाम देने की फिराक में थे। एडीजी लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार ने दोनों पीएफआई सदस्यों के गिरफ्तारी के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि यूपी एसटीएफ और पुलिस की टीम ने 2 लोगों को गिरफ्तार किया है। इनके पास भारी मात्रा में विस्फोटक, हथियार और कुछ दस्तावेज बरामद किए गए हैं। गिरफ्तार किए गए लोगों का संबंध PFI नाम के आतंकी संगठन से है।

 

प्रशांत कुमार ने बताया कि इन लोगों की बसंत पंचमी के मौके पर हिंदू संगठनों के कार्यक्रम में विस्फोट की तैयारी थी। पीएफआई के इन दोनों सदस्यों के 11 फरवरी को ट्रेन से आने की जानकारी मिली थी, लेकिन इन लोगों की लोकेशन नहीं मिल सकी। इन युवकों के लखनऊ के कुकरैल के पिकनिक स्पॉट पर मिलने की योजना बनाई थी। इसकी भनक लगते ही एसटीएफ की टीम ने गुडंबा क्षेत्र के कुकरैल तिराहा के पास से दोनों को गिरफ्तार कर लिया।

 

पीएफआई के दो सदस्य गिरफ्तार

एडीजी लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार के मुताबिक केरल के अंसाद बदरुद्दीन और फिरोज खान पीएफआई के दो सदस्य हैं जिन्हें यूपी एसटीएफ ने गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार बदरुद्दीन और फिरोज खान से जो विस्फोटक बरामद किए गए है, उनमें उच्च क्षमता के 16 विस्फोटक डिवाइस, बैट्री, डेटोनेटर और लाल रंग के तार हैं। आरोपियों से 32 बोर की एक पिस्टल और 7 जिंदा कारतूस भी बरामद हुए हैं। प्रशांत कुमार के मुताबिक यह विस्फोटक कई दूसरे लोगों में बांटे जाने थे और घटनाओं को अंजाम दिया जाना था। गिरफ्तार युवकों में बदरुद्यीन पीएफआई का कमांडर है, जबकि फिरोज असलहों का ट्रेनर है।

 

ट्रेन के 12 टिकट बरामद

इन दोनों के पास से एसटीएफ ने ट्रेन के 12 टिकट बरामद हुए हैं। यानी यूपी के अलग अलग जगहों पर यह लोग जा चुके हैं। इन लोगों ने विस्फोटक कुछ और लोगों को दिए हैं या नहीं यह पता लगाया जा रहा है। इन दोनों युवकों के संपर्क में आए लोगों के बारे में एसटीएफ जानकारी जुटा रही है। यूपी एसटीएफ ने जो सामान बरामद किए हैं उसमें 16 उच्च विस्फोटक, एक्सप्लोसिव डिवाइस, बैट्री डेटोनेटर और लाल रंग का एक बंडल तार, 1 पिस्टल, 7 कारतूस, 4800 रुपये नगद, 1 पैन कार्ड, 4 एटीएम कार्ड, 2 डीएल, 1 आधार कार्ड, 2 पेन ड्राइव, 1 मेट्रो कार्ड और 12 रेलवे टिकट शामिल हैं।

 

पूरे यूपी में अलर्ट

प्रशांत कुमार ने बताया कि पीएफआई के स्थापना दिवस को लेकर यूपी में अलर्ट है। पीएफआई वर्ग विशेष के युवकों को देश के खिलाफ तैयार कर रही है। एडीजी लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार के मुताबिक पीएफआई संगठन बुद्धिजीवियों को भ्रमित कर रहा है। नई दिल्ली हिंसा में भी इस संगठन की भूमिका हो सकती है। ये संगठन छोटे-छोटे ग्रुप बनाकर ट्रेनिंग दे रहा है। इन युवकों के मंसूबों को देखते हुए पूरे प्रदेश में अलर्ट जारी कर दिया गया है। उन्होंने बताया कि पिछले लगभग एक साल में इस संगठन के 123 लोगों को हमने गिरफ्तार किया है।

 

यह भी पढ़ें: योगी सरकार का बड़ा फैसला, यूपी में 2.50 लाख लोगों पर दर्ज मुकदमे होंगे वापस, इनको भी मिलेगी राहत

 

नितिन श्रीवास्तव
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned