फूलन देवी के खिलाफ 41 साल बाद खत्म हुआ मुकदमा; यूपी के अस्पतालों में जल्द दूर होगी डॉक्टरों की कमी

यूपी की अब तक की बड़ी खबरें।

लखनऊ. पत्रिका उत्तर प्रदेश का सभी पाठकों को सुबह सुबह का नमस्कार। आप सभी स्वस्थ्य रहें। खुश रहें। आपका दिन शुभ हो। दिन की शुरुआत से पहले आइए जान लेते हैं यूपी की आज की प्रमुख खबरें।

- आज गोरखपुर जाएंगे सीएम योगी, बस्ती मंडल के विकास कार्यों एवं कानून व्यवस्था की करेंगे समीक्षा

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आज गोरखपुर दौरे पर रहेंगे। वह यहां सुबह 11 बजे के करीब पहुंचेंगे। एक कार्यक्रम में शामिल होने के बाद मुख्यमंत्री गोरखपुर-बस्ती मंडल के विकास कार्यों एवं कानून व्यवस्था की समीक्षा कर सकते हैं। शाम पांच बजे दीन दयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय के दीक्षा भवन में आयोजित आरएसएस के गुरू दक्षिणा कार्यक्रम में भी शामिल होंगे। मुख्यमंत्री बुधवार की देर शाम या फिर बृहस्पतिवार की सुबह अयोध्या प्रस्थान कर जाएंगे।

- योगी सरकार ने किया बड़ा प्रशासनिक फेरबदल, 2 IAS और 18 पीसीएस बदले, 10 IPS अफसरों का भी तबादला

योगी सरकार राज्य की कानून व्यवस्था के साथ प्रशासनिक व्यवस्थाओं को दुरुस्त करने में लगी हुई है। इसी के चलते बीते सोमवार की देर रात 10 आईपीएस अफसरों के तबादले करने के बाद 24 घंटे के भीतर ही मंगलवार देर शाम 2 आईएएस अधिकारियों के साथ 1 दर्जन से अधिक पीसीएस अफसरों के तबादले कर दिए गए हैं।

- प्रदेश के अस्पतालों में जल्द दूर होगी डॉक्टरों की कमी, 1560 चिकित्सकों की 15 अगस्त के बाद तैनाती

प्रदेश में जिला अस्पताल से लेकर सीएचसी तक में डॉक्टरों की जल्द ही कमी दूर होगी। 252 विशेषज्ञ चिकित्सक सहित 1560 चिकित्सकों को 15 अगस्त के बाद तैनाती देने की तैयारी है। प्रदेश में करीब छह हजार चिकित्सकों के पद खाली हैं। स्वास्थ्य विभाग की ओर से करीब 3300 नियमित पदों के लिए चयन प्रस्ताव शासन को भेजा था। ये सभी पद विशेषज्ञ चिकित्सक के हैं। लेकिन अब तक इन पदों के लिए भर्ती प्रक्रिया शुरू नहीं हो पाई है। ऐसे में अस्पातलों में चिकित्सकों की कमी की से मरीजों का इलाज प्रभावित हो रहा है। इस समस्या से निपटने के लिए स्वास्थ्य विभाग ने संविदा के आधार पर चिकित्सकों की भर्ती की रणनीति बनाई है।

- मुख्तार अंसारी के 3 निजी सुरक्षाकर्मी गिरफ्तार, बाहुबली ने फिर दोहराई TV की मांग

बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी एंबुलेंस मामले में लंबे समय से फरार चल रहे 25-25 हजार रुपये के इनामिया पांच आरोपियों में से तीन को बाराबंकी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पकड़े गए सभी आरोपी गाजीपुर जिले के रहने वाले हैं। इन लोगों ने पुलिस पूछताछ में बताया कि यह सभी एंबुलेंस में चालक और मुख्तार के निजी सुरक्षाकर्मी के रूप में काम करते थे। इन तीनों आरोपियों को पुलिस ने कोर्ट में पेश करके जेल भेज दिया है। अभी इस मामले में दो ईनामी आरोपियों की गिरफ्तारी होनी बाकी है। वहीं एंबुलेंस मामले में बांदा जेल से बाराबंकी न्यायालय में वर्चुअल सुनवाई के दौरान मुख़्तार अंसारी ने अपने बैरक में टेलीविजन लगाने की मांग फिर दोहराई है।

- फूलन के खिलाफ 41 साल बाद मुकदमा खत्म, एंटी डकैती कोर्ट ने दिया आदेश

डकैत फूलन देवी के ऊपर भोगनीपुर कोतवाली में 41 साल पहले डकैती और हत्या के प्रयास मामले में दर्ज मुकदमे को खत्म करने का आदेश स्पेशल जज डकैती कोर्ट ने दिया। सहायक शासकीय अधिवक्ता आशीष कुमार तिवारी ने बताया कि भोगनीपुर कोतवाली में 25 जुलाई 1980 को डकैती युक्त हत्या के प्रयास का मुकदमा कालपी के शेरपुर गुढ़ा की रहने वाली दस्यु सुंदरी फूलन देवी व गौहानी के विक्रम मल्लाह व गिरोह के खिलाफ दर्ज किया गया था। एडीजीसी ने बताया कि अदालत ने फूलन के खिलाफ चल रहे मुकदमे को खत्म करने का आदेश जारी कर दिया है।

यह भी पढ़ें: यूपी के अफसर अब एग्जीक्यूटिव और बिजनेस क्लास में नहीं कर सकेंगे हवाई यात्रा, नई गाड़ियां भी नहीं खरीदी जाएंगी

नितिन श्रीवास्तव
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned