निर्भया फंड से यूपी में 50 पिंक बसों का होगा संचालन, बसों की कंडक्टर भी होंगी महिलाएं

प्रदेश सरकार के परिवहन राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार स्वतंत्र देव सिंह का कहना है कि प्रदेश में 50 चिह्नित स्थानों पर निर्भया फंड से पिंक बसें चलाने का निर्णय लिया गया है।

लखनऊ. प्रदेश सरकार के परिवहन राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार स्वतंत्र देव सिंह का कहना है कि प्रदेश में 50 चिह्नित स्थानों पर निर्भया फंड से पिंक बसें चलाने का निर्णय लिया गया है। भाजपा मुख्यालय पर जन समस्याओं की सुनवाई के दौरान पत्रकारों से बातचीत में मंत्री ने कहा कि सरकार ने चिन्हित स्थानों से 50 पिंक बसे चलाने का निर्णय लिया है। इस योजना की फंडिंग निर्भया फण्ड से की जाएगी। इस बस में महिलाओ के अतिरिक्त पत्नी के साथ पुरुष यात्री भी सफर कर सकते हैं। इन बसों की परिचालक भी महिला हो ऐसी व्यवस्था बनाई जा रही है।

डग्गामार वाहनों पर पत्रकारों के सवाल का जबाब देते हुए परिवहन मंत्री ने कहा कि डग्गामार वाहनों पर शिंकजा कसने के लिए हर जिले में अभियान चल रहा है। इसमें हमको बहुत बडी सफलता मिली है और उसका परिणाम है कि आज रोडवेज बसें फायदे में चल रही है। परिवहन विभाग द्वारा यात्रियों की सुविधाओं का पूरा ध्यान रखा जाएगा क्योकि यात्रियों की सुविधा के लिए ही परिवहन विभाग है।

मंत्री ने कहा कि सम्पूर्ण परिवहन विभाग डिजिटल और आॅनलाइन होगा। उत्तर प्रदेश आने वाले समय में भ्रष्टाचार मुक्त प्रदेश बनेगा और यह सबको दिखेगा। योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में हमारी सरकार के सभी मंत्री मेहनत कर रहे हैं। जल्द ही परिवहन विभाग उत्तर प्रदेश के सभी गांवो को परिवहन से जोड देगा।
Laxmi Narayan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned