scriptUP Vidhan Sabha Chunav Challenge to record for stalwarts Raja Bhaiya | UP विधानसभा: धुरंधरों को रिकार्ड कायम रखने की चुनौती, राजा भैया, मुख्तार, शिवपाल की साख दांव पर | Patrika News

UP विधानसभा: धुरंधरों को रिकार्ड कायम रखने की चुनौती, राजा भैया, मुख्तार, शिवपाल की साख दांव पर

UP Assembly Election उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव अपने चरम पर हैं। वहीं इस बार आने वाले चुनावी चरण में काफी बड़े धुरंधरों की इज्ज़त दांव पर लगी हुई है साथ ही किस्मत ही इन्हीं आगामी चरणों में ऐसे धुरंधरों पर फैसला जनता करेगी।

लखनऊ

Published: February 18, 2022 03:01:46 pm

UP Election 2022 उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में ऐसे कई योद्धा हैं, जिन्हें अपने रिकार्ड कायम रखने की चुनौती है। यह ऐसे धुरंधर जो अभी तक रिकार्ड मतों से जीतते रहे हैं। इनमें से प्रतापगढ़ सीट से विधायक रघुराज प्रताप सिंह उर्फ राजा भईया, अखिलेश यादव के चाचा शिवपाल यादव, सपा के वरिष्ठ नेता आजम खान और बसपा विधायक उमाशंकर सिंह शामिल हैं।
UP assembly election 2022
UP assembly election 2022
राजा भैया पर संकट

रघुराज प्रताप सिंह वर्ष 1993 से लगातार निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में निर्वाचित होते आ रहे हैं। वर्ष 2007 के चुनाव में रघुराज प्रताप सिंह ने 73,732 मत हासिल करके बसपा प्रत्याशी शिव प्रकाश सेनानी को 53,128 मतों से हराया था। शिव प्रकाश को 20,604 मत मिले थे। वर्ष 2012 में रघुराज प्रताप सिंह का जीत का अंतर बढ़ गया। इस चुनाव में 1,11,392 मत पाकर रघुराज चुनाव जीते। बसपा प्रत्याशी शिव प्रकाश सेनानी को 88,255 मतों से हराया। शिव प्रकाश को 23,137 मत मिले।
साल 2017 विधानसभा चुनाव में राजा भैया ने रिकार्ड कायम करते हुए 1,03,353 मतों से जीत दर्ज की। 1,36,223 मत पाकर उन्होंने भाजपा प्रत्याशी जानकी शरण पांडेय को हराया। जानकी को 32,870 मत और तीसरे स्थान पर रहे बसपा प्रत्याशी परवेज अख्तर को 17,176 मत मिले थे। पिछले तीन चुनावों में सपा ने उन्हें समर्थन दिया था। इस बार भाजपा, कांग्रेस और बसपा की तरह सपा ने उनके खिलाफ प्रत्याषी उतारा है। इस बार पांचवे चरण में उनका चुनाव होगा।
शिवपाल यादव जसवंत नगर से फिर उम्मीदवार

जसवंतनगर सीट समाजवादी पार्टी (सपा) के संस्थापक मुलायम सिंह यादव ने 1996 में अपने अनुज शिवपाल सिंह यादव के लिए छोड़ी थी। उस समय शिवपाल ने नेताजी के कट्टर प्रतिद्वंद्वी कहे जाने वाले स्वर्गीय दर्शन सिंह यादव को करीब 11 हजार मतों से हराकर जीत हासिल की थी। इसके बाद से वे लगातार इस सीट पर काबिज हैं, वर्ष 2012 में मनीष यादव पतरे को करीब 81 हजार मतों से हराकर रिकार्ड कायम किया था।
शिवपाल सिंह यादव लगातार छठवीं बार जीत हासिल करने के लिए इटावा की जसवंतनगर सीट से चुनाव लड़ रहे हैं। वर्ष 2017 के चुनाव में पारिवारिक झंझावत में शिवपाल को कड़ा मुकाबला करना पड़ा। इस चुनाव में उन्हें करीब 75 हजार मतों से मिली थी। भाजपा ने इटावा की जसवंतनगर सीट से विवेक शाक्य को टिकट दिया है। इस सीट से युवा नेता विवेक शाक्य अखिलेश के चाचा और प्रगतिशील समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव को टक्कर देंगे। कांग्रेस ने अपना प्रत्याशी नहीं उतारा है। जबकि बसपा की ओर से ब्रजेंद्र प्रताप सिंह उम्मीदवार हैं। यहां तीसरे चरण में 20 फरवरी को चुनाव होगा।
बलिया से उमा शंकर

प्रदेश के अंतिम छोर पर स्थित बलिया से बसपा ने उमाषंकर में एक बार फिर दांव लगाया है। रसड़ा से उमाशंकर सिंह पहली बार 2012 में विधायक बने थे। वह 2012 में 84436 मत पाकर चुनाव जीते और सपा के सतनाम को मात्र 31611 वोट ही मिले। वर्ष 2017 के चुनाव में उन्हें 92272 यानी 48.16 फीसदी और भाजपा के राम इकबाल सिंह को 58385 यानी 30.47 फीसदी वोट मिले। इस बार भी उनके सामने अपना रिकार्ड बनाएं रखने की चुनौती है।
शिवपाल यादव कभी मुलायम सिंह के खास सिपहसालार हुआ करते थे,कल उन्हें बैठने को हत्था मिला,वे मुंह लटकाये खड़े रहे,कैसी दुर्गति कर दी है. मैं कल देख रहा था कि SP के प्रत्याशी (अखिलेश यादव) नामांकन के लिए करहल आए थे. तब उन्होंने कहा अब दोबारा सर्टिफिकेट लेने के लिए आऊंगा. लेकिन एसपी सिंह बघेल ने उनको 5वें दिन ही यहां आने पर मजबूर कर दिया। उनकी स्थिति आसमान से टपके और खजूर पर अटके वाली हो गई है.

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

1119 किलोमीटर लंबी 13 सड़कों पर पर्सनल कारों का नहीं लगेगा टोल टैक्सयहाँ बचपन से बच्ची को पाल-पोसकर बड़ा करता है पिता, जैसे हुई जवान बन जाता है पतिशुक्र का मेष राशि में गोचर 5 राशि वालों के लिए अपार 'धन लाभ' के बना रहा योगराजस्थान के 16 जिलों में बारिश-आंधी व ओलावृ​ष्टि का अलर्ट, 25 से नौतपाजून का महीना इन 4 राशि वालों के लिए हो सकता है शानदार, ग्रह-नक्षत्रों का खूब मिलेगा साथइन बर्थ डेट वालों पर शनि देव की रहती है कृपा दृष्टि, धीरे-धीरे काफी धन कर लेते हैं इकट्ठा7 फुट लंबे भारतीय WWE स्टार Saurav Gurjar की ललकार, कहा- रिंग में मेरी दहाड़ काफीशुक्र देव की कृपा से इन दो राशियों के लोग लाइफ में खूब कमाते हैं पैसा, जीते हैं लग्जीरियस लाइफ

बड़ी खबरें

अनिल बैजल के इस्तीफे के बाद Vinai Kumar Saxena बने दिल्ली के नए उपराज्यपालISI के निशाने पर पंजाब की ट्रेनें? खुफिया एजेंसियों ने दी चेतावनीममता बनर्जी ने केंद्र सरकार पर साधा निशाना, कहा - 'भाजपा का तुगलगी शासन, हिटलर और स्टालिन से भी बदतर'Haj 2022: दो साल बाद हज पर जाएंगे मोमिन, पहला भारतीय जत्था 4 जून को होगा रवानाWomen's T20 Challenge: पहले ही मैच में धमाकेदार जीत दर्ज की सुपरनोवास ने, ट्रेलब्लेजर्स को 49 रनों से हरायालगातार बारिश के बीच ऑरेंज अलर्ट जारी, केदारनाथ यात्रा पर लगी रोक, प्रशासन ने कहा - 'जो जहां है वहीं रहे'‘सिंधिया जिस दिन कांग्रेस छोडक़र गए थे, उसी दिन से उनका बुढ़ापा शुरू हो गया था’Asia Cup Hockey 2022: अब्दुल राणा के आखिरी मिनट में गोल की वजह से भारत ने पाकिस्तान के साथ ड्रा पर खत्म किया मुकाबला
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.