मौसम विभाग से आई खबर, कई हिस्सों में भारी बारिश की संभावना, टूटा 10 साल का रिकॉर्ड

मौसम विभाग से आई खबर, कई हिस्सों में भारी बारिश की संभावना, टूटा 10 साल का रिकॉर्ड
मौसम विभाग से आई खबर, कई हिस्सों में भारी बारिश की संभावना, टूटा 10 साल का रिकॉर्ड

Ruchi Sharma | Updated: 12 Oct 2019, 01:36:41 PM (IST) Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

-बुंदेलखंड को मिली राहत

-यहां भारी बारिश की संभावना

लखनऊ. मानसून (Monsoon Update) के बाद धीरे-धीरे ठंड ने दस्तक दे दी है। करीब 10 दिन से अधिक मानसून की विदाई हो गई है। वहीं इस बार भले ही मानसून ने साल एक सप्ताह विलंब से दस्तक दिया हो और आरंभ में इसकी चाल भी काफी सुस्त रही हो, लेकिन इस अगस्त व सितंबर के महीने मेंं मानसून इस कदर मेहरबान हुआ है कि अगस्त महीने में बारिश का पिछले 10 साल का रिकॉर्ड टूट गया।

निजी मौसम पूवार्नुमानकर्ता स्काइमेट की रविवार की एक रिपोर्ट के अनुसार, इससे पहले अगस्त महीने में मानसून का अच्छा प्रदर्शन 2012 और 2010 में रहा जब सामान्य से क्रमश: एक फीसदी और दो फीसदी अधिक बारिश हुई। इसके बाद से लेकर 2018 तक अगस्त महीने में सामान्य से कम बारिश हुई। इस साल अगस्त के शुरुआती 20 दिनों में भारत में कुल 230 मिलीमीटर बारिश रिकॉर्ड की गई है जो इस दौरान होने वाली सामान्य वर्षा से 31 फीसदी अधिक है।

बुंदेलखंड को मिली राहत

पूर्वी उत्तर प्रदेश तो बारिश के मामले में हमेशा ही धनी रहता है, लेकिन इस बार मेघ बुंदेलखंड पर ज्यादा मेहरबान रहे। यहां इस बार कुल ***** 5 मिमी यानी सामान्य के मुकाबले 98.4 फीसद बारिश रिकॉर्ड हुई। वहीं राजधानी में भी इस मानूसन सीजन बारिश कम हुई। बीते वर्ष जहां 983.3 मिमी. बारिश रिकार्ड हुई थी इस बार केवल 850.4 मिमी. हुई जो सामान्य के मुकाबले कम रही।

यहां भारी बारिश की संभावना

वहीं मौसम विभाग के अनुसार शनिवार को देश के कई हिस्सों में भारी बारिश हो सकती है। मौसम विभाग के अनुसार, दिल्ली और उसके आसपास के इलाकों (गुरुग्राम, नोएडा, फरीदाबाद और गाजियाबाद) में मौसम साफ रहेगा और तापमान 21 से 34 डिग्री के बीच रहेगा। आईएमडी के अनुसार, दक्षिण पश्चिम मानसून पूरे जम्मू और कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब, उत्तर प्रदेश और बिहार के कुछ हिस्सों से वापस चला गया है। मौसम विभाग के अनुमान के अनुसार, अगले 24 घंटों के दौरान मध्य भारत के अधिकांश हिस्सों और पश्चिम, पूर्वी भारत के कुछ और हिस्सों से दक्षिण-पश्चिम मानसून को वापस जाने वाला है।

Show More
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned