UPSC : आईएएस अधिकारी बनना चाहते हैं तो जल्दी भरें यह फॉर्म, ये रही पूरी प्रक्रिया

UPSC : आईएएस अधिकारी बनना चाहते हैं तो जल्दी भरें यह फॉर्म, ये रही पूरी प्रक्रिया

Neeraj Patel | Publish: Feb, 23 2019 01:43:10 PM (IST) | Updated: Feb, 23 2019 04:32:09 PM (IST) Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

UPSC : लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) द्वारा आयोजित सिविल सेवा परीक्षा 2019 (Civil Services Exam 2019) के लिए आवेदन करने के इच्‍छुक युवा उम्मीदवार 18 मार्च, 2019 तक आयोग की वेबसाइट upsc.gov.in पर जाकर ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।

 

लखनऊ. लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) द्वारा आयोजित सिविल सेवा परीक्षा 2019 (Civil Services Exam 2019) के लिए आवेदन करने के उत्तर प्रदेश से इच्‍छुक युवा उम्मीदवार आयोग की वेबसाइट UPSC .gov.in पर जाकर जल्दी ऑनलाइन आवेदन करें। सिविल सेवा परीक्षा के लिए आपको अन्तिम तिथि 18 मार्च से पहले ही आवेदन करना होगा।

लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) द्वारा आयोजित सिविल सेवा परीक्षा 2019 (Civil Services Exam 2019) के लिए आवेदन की प्रक्र‍िया 19 फरवरी से शुरू हो चुकी है। आईएएस (IAS- indian administrative services), आईएफएस (IFS- india forest services) और आईआरएस (IRS- indian revenue services) के पदों के ल‍िए यूपी से इच्‍छुक युवा उम्मीदवार ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं।

यह हैं प्रमुख तिथियां

आवेदन की प्रारंभ तिथिः 19 फरवरी, 2019
आवेदन की अंतिम तिथिः 18 मार्च, 2019
प्रारंभिक लिखित परीक्षा की तिथिः 02 जून, 2019
मुख्य लिखित परीक्षा तिथिः 20 सितम्बर, 2019

बता दें कि कि लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) द्वारा आयोजित सिविल सेवा परीक्षा के लिए जनरल और ओबीसी कैटेगरी वाले उम्मीदवारों को 100 रुपए परीक्षा शुल्क भी देनी होगाी। वहीं एससी/एसटी कैटेगरी वाले उम्मीदवारों को कोई शुल्क नहीं देना होगा।

उम्मीदवार लोक सेवा आयोग (यूपीएससी) द्वारा आयोजित सिविल सेवा परीक्षा से संबंधित अधिक जानकारी आयोग की अधिकारिक वेबसाइट upsc.gov.in पर जाकर ले सकते हैं।

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned