सरकारी अफसर बनने के लिए इंतजार और बढ़ा, सिविल सेवा प्री की परीक्षाए स्थगित, जल्द जारी होगा नया कैलेंडर

- जानिए यूपीएससी ने तीन और कौन सी प्रतियोगी परीक्षाएं टालीं

 

By: Neeraj Patel

Published: 05 May 2020, 03:00 PM IST

लखनऊ. उत्तर प्रदेश सहित पूरे देश में चल रहे कोरोना के खिलाफ लॉकडाउन के कारण सिविल सेवा प्रारंभिक परीक्षा समेत यूपीपीएससी की भी दो परीक्षाएं स्थगित कर दी गई हैं। अब संघ लोक सेवा आयोग द्वारा इन परीक्षाओं की नई तिथि तय करने के बाद घोषित की जाएंगी। इ परीक्षाओं के स्थगित होने से अब उम्मीदवारों को सरकारी अफसर बनने के लिए और इंतजार करना पड़ेगा। इन परीक्षाओं को लेकर संघ लोक सेवा आयोग का कहना है कि 31 मई को होने वाली सिविल सेवा प्रारंभिक परीक्षा फिलहाल स्‍थगित कर दी गई है। इनमें से एक परीक्षा मई के दूसरे सप्ताह तो दूसरी जून के पहले सप्ताह में होनी थी। इसके साथ ही अब लॉकडाउन की वजह से स्थगित की गई भर्ती परीक्षाओं की संख्या बढ़कर आठ हो गई है।

संघ लोक सेवा आयोग का कहना है कि परीक्षा कैलेंडर में शामिल छह महत्वपूर्ण भर्ती परीक्षाओं के स्थगित किए जाने से पूरा वार्षिक कैलेंडर ही प्रभावित हो गया। इसलिए आयोग ने पूरे वार्षिक कैलेंडर में संशोधन करने का फैसला किया है इसके बाद ही संशोधित कैलेंडर तैयार कर इन परीक्षाओं के लिए आगे की तिथियां तय करनी होंगी। लॉकडाउन थ्री 17 मई तक है। इसके बाद प्रदेश की स्थिति को देखते हुए। इस माह के अंत तक संशोधित परीक्षा कैलेंडर जारी किया जा सकता है।

अब तक स्थगित हुईं छह भर्ती परीक्षाएं

लॉकडाउन की वजह से अब तक आयोग कुल छह भर्ती परीक्षाएं स्थगित की जा चुकी हैं।

22 मार्च को प्रस्तावित खंड शिक्षाधिकारी (बीईओ)
05 अप्रैल को प्रस्तावित कम्प्यूटर सहायक भर्ती परीक्षा
20 अप्रैल से प्रस्तावित पीसीएस 2019 मेंस और
03 मई को प्रस्तावित आरओ-एआरओ 2016 प्री परीक्षा

सीधी भर्तियों के इंटरव्यू और आरओ-एआरओ 2017 में सफल अभ्यर्थियों के अभिलेखों का सत्यापन कार्यक्रम भी लॉकडाउन की वजह से स्थगित किए गए।

बता दें कि आयोग ने 16 मई से प्रस्तावित सहायक अभियोजन अधिकारी मुख्य परीक्षा 2018 (एपीओ मेंस) को स्थगित कर दिया है। 16 फरवरी 2020 को हुई इसकी प्रारंभिक परीक्षा का परिणाम अभी तक घोषित नहीं हो पाया है। लॉकडाउन की वजह से 22 मार्च से ही मूल्यांकन और परिणाम तैयार करने का काम प्रभावित हो गया है। एपीओ के 17 पदों के लिए 16 फरवरी को प्रयागराज और लखनऊ में बनाए गए 95 केंद्रों पर हुई थी। प्रारंभिक परीक्षा में आवेदन करने वाले 45311 में से 18784 यानी 41 प्रतिशत परीक्षार्थी शामिल हुए थे।

Show More
Neeraj Patel
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned