UPTET - 2017 : अगर नकल करते हुए पकड़े गये तो नहीं दे पाएंगे दोबारा एग्जाम

Akanksha Singh

Publish: Oct, 13 2017 12:32:30 (IST)

Lucknow, Uttar Pradesh, India
UPTET - 2017 : अगर नकल करते हुए पकड़े गये तो नहीं दे पाएंगे दोबारा एग्जाम

UPTET - 2017 की परीक्षा 15 अक्तूबर को होगी।

लखनऊ. TET - 2017 की परीक्षा 15 अक्तूबर को होगी। इस परीक्षा में प्रदेश भर से कुल 9.76 लाख से अधिक अभ्यर्थी भाग लेंगे। अध्यापक पात्रता परीक्षा 2017 में यदि किसी परीक्षा केन्द्र पर नकल हुई तो उस केन्द्र का परिणाम रद्द कर दिया जाएगा। वहीं नकल करने वाले अभ्यर्थी आगे होने वाली टीईटी भी नहीं दे पाएंगे यानी उन्हें प्रतिबंधित कर दिया जाएगा। परीक्षा नियामक प्राधिकारी की सचिव सुत्ता सिंह ने साफ कर दिया है नकल विहीन परीक्षा के लिए विभाग सभी जरूरी कदम उठा रहा है।

अपर मुख्य सचिव आरपी सिंह ने बुधवार को सभी मंडलायुक्तों को नकलविहीन परीक्षा कराने के आदेश दिए हैं। परीक्षा केंद्रों पर प्रश्नपत्र दो घंटे पहले ही पहुंचाए जाएंगे।परीक्षा के दौरान अभ्यर्थियों का मोबाइल फोन लाना पूरी तरह से प्रतिबंधित है। परीक्षा कक्ष में केवल डाउनलोड किया गया प्रवेश पत्र मान्य होगा। यह न होने की स्थिति में अभ्यर्थी को परीक्षा नहीं देने दी जाएगी।

परीक्षा कक्ष में प्रवेश पत्र, फोटो प्रमाणित करने के लिए अंकपत्र और काला बाल प्वाइंट पेन ले जाने की अनुमति होगी। परीक्षा खत्म होने के बाद अभ्यर्थी ओएमआर सीट जमा करने के बाद कक्ष निरीक्षक की अनुमति लिए बगैर परीक्षा केंद्र से बाहर नहीं जा सकेंगे। सुरक्षा की दृष्टि ने पुलिस प्रशासन सुनिश्चित करेगा कि परीक्षा केन्द्र के आसपास सभी फोटो कॉपी की दुकानों को बंद कराए।

इस बार होगा कुछ खास

शिक्षामित्र भी देंगे परीक्षा सहायक अध्यापक के पद से समायोजन रद्द होने के कारण TET 2017 की परीक्षा में शिक्षामित्र भी परीक्षा देंगे। बता दें कि शिक्षामित्रों के मामले में सुप्रीम कोर्ट ने टीईटी की अनिवार्यता पर निर्णय दिया था। जिसके कारण इस बार 1.72 लाख शिक्षामित्रों से ज्यादातर ने टीईटी के लिए आवेदन किया है। कुल 15 लाख आठ हजार 410 अभ्यर्थियों ने रजिस्ट्रेशन कराया है, जबकि 10 लाख नौ हजार 347 ने आवेदन किया। इसमें से 32 हजार 587 अभ्यर्थियों के आवेदन किसी न किसी कारण से निरस्त कर दिए गए। अंतिम रूप से शुल्क जमा करने वाले और परीक्षा देने वाले अभ्यर्थियों की कुल संख्या नौ लाख 76 हजार 760 है। इसमें प्राथमिक के लिए तीन लाख 49 हजार 192 तथा उच्च प्राथमिक के लिए छह लाख 27 हजार 568 अभ्यर्थियों ने आवेदन किए हैं।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned