सपा पूर्व विधायक आरिफ अनवर हाशमी पर योगी सरकार की बड़ी कार्रवाई, जब्त हुई 21 करोड़ की संपत्ति

लरामपुर जिला प्रशासन ने जेल में बंद समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के पूर्व विधायक आरिफ अनवर हाशमी की 21 करोड़ रुपये की नई सम्पत्ति जब्त की है।

By: Karishma Lalwani

Published: 03 Jan 2021, 05:29 PM IST

सपा पूर्व विधायक की 21 करोड़ की संपत्ति जब्त

बलरामपुर. बलरामपुर जिला प्रशासन ने जेल में बंद समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के पूर्व विधायक आरिफ अनवर हाशमी की 21 करोड़ रुपये की नई सम्पत्ति जब्त की है। इसके पहले जिला प्रशासन पूर्व विधायक की 50 करोड़ रुपये से अधिक सम्पत्ति जब्त कर चुका है। पूर्व विधायक के खिलाफ गैंगेस्टर एक्ट में यह जब्तीकरण की कार्रवाई की जा रही है। उन पर फर्जी दस्तावेजों के सहारे कूटरचित तरीके से सरकारी और निजी जमीनों पर कब्जा करने का आरोप है। डीएम कृष्णा करुणेश ने आपराधिक कृत्यों से अवैध रूप से अर्जित की गयी भूमि और सम्पत्तियों के जब्तीकरण का आदेश दिया था। इसके अलावा दो फार्च्यूनर समेत तीन लग्जरी गाड़ियों को भी प्रशासन ने अपने कब्जे में लिया है। दिसम्बर 2020 में डीएम के आदेश पर चिह्नित की गयी 50 करोड़ रुपए से अधिक की सम्पत्तियों को जिला प्रशासन पहले ही जब्त कर चुका है। पूर्व विधायक आरिफ अनवर हाशमी की अब तक कुल 70 करोड़ से अधिक की सम्पत्ति जब्त की जा चुकी है।

अज्ञात वाहन की टक्कर से घर जा रहे युवकों की मौत

गोंडा. गोंडा हाइवे मार्ग फिरोजपुर के पास शनिवार देर रात एक बाइक पर सवार दो युवकों को अज्ञात वाहन ने टक्कर मार दी जिससे दोनों गम्भीर रूप से घायल हो गए। उन्हें इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां दोनों की मौत हो गई। कोतवाली देहात थाना क्षेत्र के नान बाबू सोनकर (24) पुत्र शिव मूरत सोनकर और मनकापुर थाना के अकबरपुर मछली गांव सरैया निवासी अजय सोनकर (20) किसी काम से गोंडा गए थे जहां से वह बाइक से गोंडा वापस लौट रहे थे। इसी दौरान रास्ते में ही किसी अज्ञात वाहन ने बाइक को टक्कर मार दी। हादसे में दोनों गम्भीर रूप से घायल हो गए। उन्हें इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां उनकी मौत हो गई।

धान खरीद में लापरवाही पर आठ बर्खास्त

लखनऊ. उत्तर प्रदेश सरकार ने धान खरीद कार्य में लापरवाही और अनियमितता बरतने पर उत्तर प्रदेश राज्य खाद्य व आवश्यक वस्तु निगम लिमिटेड के आठ कर्मचारियों को बर्खास्त कर दिया। जबकि दो जिला प्रभारियों और पत्रवाहक को निलंबित कर दिया है। साथ ही तीन सेल्समैन के खिलाफ केस दर्ज करवाया गया है। 20 से अधिक कर्मचारियों-अधिकारियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की गई है। प्रदेश सरकार ने भ्रष्टाचार के प्रति अपनी जीरो टॉलरेंस की नीति को आगे बढ़ाते हुए राज्य खाद्य एवं आवश्यक वस्तु निगम लिमिटेड के अधिकारियों व कर्मचारियों पर कड़ी कार्रवाई की है। उत्तर प्रदेश राज्य खाद्य एवं आवश्यक वस्तु निगम लिमिटेड के प्रबंध निदेशक ओम प्रकाश वर्मा ने बताया कि सीतापुर के चौकीदार विनोद कुमार शर्मा को उनके कार्यकाल में गंभीर वित्तीय व अन्य अनियमितता बरतने के लिए निगम की सेवा से बर्खास्त कर दिया गया है।

केजीएमयू में कोरोना मुक्त जांच बंद, चुकाना होगा शुल्क

लखनऊ. लखनऊ के केजीएमयू में कोरोना की मुफ्त जांच बंद हो गई है। अब मरीजों और तीमारदारों से इसका शुल्क वसूला जाएगा। ट्रूनेट टेस्ट के लिए 1500 और आरटीपीसीआर के 600 रुपये जमा करने होंगे। हालांकि, इमरजेंसी में आने वाले मरीजों, तीमारदारों की जांच निशुल्क होगी। केजीएमयू में आने वाले मरीजों को कोरोना की जांच रिपोर्ट दिखाने के बाद ही संबंधित विभाग की ओपीडी में जाने की अनुमति मिलती है। नई गाइडलाइन के तहत शुल्क जमा करने के बाद ही अब नॉन कोविड मरीजों की जांच होगी। ट्रूनेट टेस्ट के लिए 1500 व आरटीपीसीआर के 600 रुपये जमा करने होंगे। मरीज के साथ तीमारदार है तो उसे भी शुल्क जमा करना होगा। एक तीमारदार पर 300 रुपये लिए जाएंगे।

घर में ड्रमों में पाए गए 230 जीवित कछुए

उन्नाव. उन्नाव जिले के गंजमुरादाबाद में सीतापुर व हरदोई से कछुओं को पकड़कर पश्चिम बंगाल के शहरों में बिक्री करने वाली महिला को पुलिस ने गिरफ्तार किया। 230 जीवित कछुओं को बरामद किया गया। आरोपी महिला ने बताया कि एक साथी की मदद से वह यह अवैध कारोबार करती है। पकड़े गए कछुओं की कीमत पुलिस ने पांच लाख रुपये बताई है। वन विभाग की टीम की मदद से कछुओं को सई नदी में छुड़वाया गया। एसओ अजयराज वर्मा ने सुबह सात बजे वन विभाग की टीम के साथ मिलकर शेरपुर कला के मजरा गाजीखेड़ा में बच्चन के घर पर दबिश दी। पुलिस ने पानी भरे ड्रमों से 230 कछुओं को बरामद किया। बच्चन पुलिस को गच्चा देकर भाग निकला। उसकी पत्नी बिटोली उर्फ बसंती पुलिस के हत्थे चढ़ गई। बसंती ने बताया कि वह और उसका पति सई नदी से जाल के जरिए कछुओं को पकड़ती है और पुत्र मुन्ना की मदद से पश्चिम बंगाल के हावड़ा सहित अन्य शहरों के तस्करों को बेचती है।

ये भी पढ़ें: प्रधानमंत्री को दो-दो बार कड़ी चुनौती देने वाले कांग्रेस पूर्व विधायक अजय राय पर बड़ी कार्रवाई, निरस्त्र हुआ उनका शस्त्र लाइसेंस

Karishma Lalwani
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned