Quick Read: आगरा-लखनऊ एक्स्प्रेस वे पर दौड़ी बर्निंग बस, यात्रियों ने भागते हुए बचाई जान

आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे पर शनिवार की सुबह बर्निंग बस दौड़ते देखकर अफरा तफरी मच गई। इटावा के ऊसराहार में चालक ने बस रोककर आनन फानन सभी यात्रियों को सुरक्षित उतारा।

By: Karishma Lalwani

Published: 03 Apr 2021, 04:18 PM IST

आगरा-लखनऊ एक्स्प्रेस वे पर दौड़ी बर्निंग बस

इटावा. आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे पर शनिवार की सुबह बर्निंग बस दौड़ते देखकर अफरा तफरी मच गई। इटावा के ऊसराहार में चालक ने बस रोककर आनन फानन सभी यात्रियों को सुरक्षित उतारा। शनिवार की सुबह प्राइवेट बस बिहार के पूर्णिया से नई दिल्ली जा रही थी। बस में 50 से अधिक यात्री सवार थे। आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस वे पर इटावा के ऊसराहार थाना क्षेत्र के चैंनल नंबर 128 के पास चलती बस में आग लग गई। बर्निंग बस एक्सप्रेस वे पर काफी दूर तक दौड़ती रही। बस में आग लगी देखकर यात्रियों में चीख पुकार मच गई। चालक ने बस को किनारे रोककर आनन-फानन सभी यात्रियों को नीचे उतारा। इसके बाद यूपीडा कर्मी और पुलिस टीम मौके पर पहुंच गई। पुलिस के आते ही चालक और कंडक्टर मौके से फरार हो गए। पुलिस से जांच पड़ताल की तो पता चला शॉर्ट सर्किट के कारण आग लगी थी।

भाजपा नेता और पूर्व प्रधान की गोली मारकर हत्या

गोरखपुर. गुलरिहा के नारायणपुर में शुक्रवार की रात भाजपा नेता व पूर्व प्रधान बृजेश सिंह (52) की गोली मारकर हत्या कर दी गई। प्रधान पद के दावेदार बृजेश सिंह जनसंपर्क कर रात में 11 बजे बाइक से मेडिकल कॉलेज रोड स्थित अपने आवास पर लौट रहे थे। नारायणपुर गांव के पूर्व प्रधान बृजेश सिंह का मेडिकल कालेज रोड पर मोगलहा के पास आवास है। ग्राम प्रधान की सीट अनारक्षित होने पर इस बार दावेदार थे। नामांकन करने के लिए बृजेश ने पर्चा भी खरीद लिया था। शुक्रवार की रात 11 बजे के करीब गांव में जनसंपर्क करने के बाद बृजेश बाइक से मोगलहा स्थित अपने आवास पर लौट रहे थे। हमलावर ने गांव के बाहर घेरकर बृजेश के सीने व सिर में गोली मार दी। गोली की आवाज सुनकर पहुंचे लोग गंभीर हाल में मेडिकल कालेज ले गए जहां डाक्टरों ने मृत घोषित कर दिया। घटना की जानकारी होने पर पहुंचे समर्थकों व परिवार के लोगों ने मेडिकल कालेज में हंगामा शुरू कर दिया। फोर्स के साथ पहुंचे अधिकारी शांत कराने में लगे रहे। चुनावी रंजिश में हत्या किए जाने का अंदेशा जताया गया है।

अधेड़ की गला रेतकर हत्या

गोरखपुर. चौरी चौरा थाना क्षेत्र के ग्राम सभा भरतपुर में 50 वर्षीय परोरा पुत्र लहबर की सोते समय बेरहमी से हत्या कर दी गई है। स्‍वजन ने पुलिस को मृतक के बड़े भाई व भतीजे पर हत्या का संदेह बताया है। परोरा शुक्रवार की रात में अपने घर के बरामदे में सोया हुआ था। शनिवार सुबह बरामदे में उसका शव देखा गया। चेहरे को किसी ने धारदार हथियार से विकृत कर दिया है। मृतक का बड़ा भाई घर से फरार है। बताया जाता है परोरा बचपन से ही घर छोड़कर संन्यासी हो गया था। पखवारे भर पूर्व वह गांव लौटा था। वह भाई से अपने हिस्से की भूमि मांग रहा था। उसके भाई ने पहले तो इसे हल्‍के में लिया, पर जब वह कचहरी जाने की बात कहने लगा तो उसके भाई को चिंता होने लगी। परोरा का भाई किसी भी कीमत पर उसके हिस्‍से की जमीन देने को तैयार नहीं था। परिवार वालों ने संपत्ति विवाद में हत्या किए जाने की बात कही है।

ठीक हुए मरीज को चढ़ाया प्लाज्मा, हालत गंभीर

वाराणसी. आईएमएस-बीएचयू अस्पताल में एक बड़ी लापरवाही से दो-दो मरीजों की जान पर बन आई है। अस्पताल के सारी आईसीयू वार्ड में भर्ती बनारस के मंगारी गांव के एक 65 वर्षीय रोगी रमेश सिंह को दूसरे समूह का प्लाज्मा चढ़ा दिया गया, जबकि उन्हें प्लाज्मा की जरूरत ही नहीं थी। एक बैग प्लाज्मा चढ़ जाने के बाद दूसरा बैग भी लगा दिया गया। इतने में मरीज अचानक छटपटाने लगा। यह देख आईसीयू वार्ड के डॉक्टरों ने तत्काल मरीज के परिजनों को बोला कि आपका मरीज बद्तमीजी कर रहा है। इसपर जब परिजन अंदर पहुंचे तो देखा कि उन्हें ए ब्लड ग्रुप का प्लाज्मा चढ़ाया जा रहा है, जबकि प्लाज्मा उनसे मंगाया ही नहीं गया। इस पर परिजनों ने तुरंत वीडियो बनाकर सवाल-जवाब डॉक्टरों से करना शुरू किया। परिजनों ने कहा कि उनके मरीज रमेश सिंह लगभग ठीक हो चुके थे, डॉक्टरों ने कहा दिया था कि उन्हें आज आईसीयू से वार्ड में भर्ती करना है। मगर तब तक इस लापरवाही से उनकी हालत बेहद खराब हो चुकी थी।

कबाड़ गोदाम में शॉर्ट सर्किट से आग

कानपुर. कानपुर में चकेरी क्षेत्र स्थित कोयला नगर में शनिवार को कबाड़ के गोदाम में शार्ट सर्किट से आग लग गई। कोयला नगर चौकी के पास मंजीत सिंह के प्लाट में कोयला नगर निवासी मेवा लाल का कबाड़ का गोदाम है। वहीं इसी प्लाट में बाहर की ओर गोविंद नगर निवासी अनिल कुमार का अंग्रेजी शराब ठेका है। नौबस्ता निवासी सेल्स मैन प्रमोद कुमार ने कहा कि शार्ट सर्किट से गोदाम के बाहर पड़े कबाड़ में आग लगी। आग की लपटों ने ठेके समेत पूरे गोदाम को चपेट में ले लिया। ठेके के बाहर खड़ी सेल्समैन की बाइक भी जल गई। आग लगने पर गोदाम में कबाड़ के छटाई कर रहे लगभग 20 मजदूरों में भगदड़ मच गई। आग बड़ी होने के चलते मीरपुर, जाजमऊ, फजलगंज, लाटूश रोड फायर स्टेशन से करीब एक दर्जन दमकल गाड़ियां पहुंची। करीब तीन घण्टे की मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया गया।

फिजियोथेरेपी के बहाने तीन महीने तक यौन उत्पीड़न

प्रयागराज. उत्तर प्रदेश के प्रयागराज में नौ साल के लकवाग्रस्त बच्चे के साथ यौन उत्पीड़न का मामला सामने आया है। नैनी कोतवाली के एक परिवार का नौ साल का बेटा अपने पैरों पर सही ढंग से खड़ा नहीं हो पा रहा था। वह लकवाग्रस्त हो गया था। पिछले 17 माह से फिजियोथेरेपिस्ट भरत प्रकाश पाल से उसका इलाज करा रहे थे। बीते तीन माह से फिजियोथेरेपिस्ट मासूम के साथ गलत कार्य कर रहा था। मासूम ने एक दो बार परिवार वालों से बताने की कोशिश की। लेकिन घरवाले उसकी बात को सही से समझ नहीं पाए। लेकिन गुरुवार की रात घरवालों ने फिजियोथेरेपिस्ट को बच्चे के साथ गलत काम करते देख लिया। परिजनों ने पुलिस को सूचना दी। बच्चे ने बताया कि पिछले लगभग तीन माह से उसके साथ यह कार्य हो रहा था। जिसके बाद परिजनों ने नैनी कोतवाली मे फिजियोथैरेपिस्ट के खिलाफ नामजद तहरीर दी।

ये भी पढ़ें: Quick Read: 46 दिन बाद पटरी पर लौटी वंदेभारत एक्सप्रेस, वाराणसी-नई दिल्ली कराएगी सफर

Karishma Lalwani
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned