Quick Read: अनियंत्रित यात्रियों से भरी पिकअप पलटी, 25 घायल

उतरौला-बस्ती मार्ग स्थित पिपराराम गांव के पास यात्रियों से भरी पिकअप पलटने से उसमें सवार 25 लोग घायल हो गए

By: Karishma Lalwani

Updated: 04 Apr 2021, 01:42 PM IST

अनियंत्रित यात्रियों से भरी पिकअप पलटी, 25 घायल

बलरामपुर. उतरौला-बस्ती मार्ग स्थित पिपराराम गांव के पास यात्रियों से भरी पिकअप पलटने से उसमें सवार 25 लोग घायल हो गए। दरअसल, बस्ती जिले के वाल्टरगंज थाना क्षेत्र के मंझरिया गांव निवासी दिलीप व संदीप अपनी पुत्रियों दिव्यांशी व काव्या का मुंडन कराने बहराइच दरगाह पर जा रहे थे। पिकअप में दोनों परिवारों के संबंधी भी सवार थे। सुबह लगभग नौ बजे राजमार्ग पर स्थित पिपराराम गांव के पास पिकअप अनियंत्रित होकर पलट गई। चारों तरफ चीख-पुकार मच गई। दुर्घटना होते ही वहां मौजूद स्थानीय लोग मदद को दौड़ पड़े। पिकअप को सीधा कर उसमें फंसे लोगों को ग्रामीणों ने बाहर निकाला। एंबुलेंस कर्मियों ने सभी घायलों को सीएचसी पहुंचाया। दुर्घटना में घायल माला, अनूप, दुर्गेश, दुर्गावती, अभय, आयुष, प्रभा, सोनल, ज्ञानमती, अवंतिका, नीलू, अंशिका, वंदना, गायत्री, रमेंद्र, लक्ष्मी, काव्या, सीता, जनार्दन व आरजू को सीएचसी में भर्ती किया गया। गंभीर रूप से जख्मी राजेश गौड़, वीरेंद्र, शोभावती व दिव्यांशी की हालत नाजुक होने पर बस्ती जिला अस्पताल रेफर कर दिया गया।

चार साल की मासूम के साथ हैवानियत

अयोध्या. अयोध्या के रुदौली कोतवाली क्षेत्र के एक ग्राम में चार साल के बच्ची के साथ गांव के ही युवक ने बहला-फुसलाकर दुष्कर्म किया। काफी देर तक बच्ची के परिजनों की तलाश के बाद गंभीर अवस्था में घायल बेटी को जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया। क्षेत्राधिकारी रुदौली ने कहा कि कोतवाली क्षेत्र के एक गांव के एक युवक ने अपने घर के पास खेल रही चार साल की अबोध बालिका को बहला-फुसलाकर अपने साथ लेकर चला गया। गांव से आधा किमी दूर नहर के किनारे निर्जन स्थान पर दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया और बालिका को छोड़कर भाग निकला। बच्ची को ले जाते बालिका के चचेरे भाई ने देखा था।काफी समय तक बालिका के न मिलने पर चचेरे भाई ने यह बात घर वालो को बताई। बालिका के मिलने के बाद परिजनों ने घटना की सूचना कोतवाली पुलिस को दी। परिजनों की तहरीर पर मुकदमा दर्ज किया गया है।

हरियाली के बीच से गुजरेगा वाराणसी-नई दिल्ली हाई स्पीड रेल कॉरिडोर

वाराणसी. नई दिल्ली-वाराणसी हाई स्पीड रेल कॉरिडोर में बुलेट ट्रेन पर्यावरण के ट्रैक से होकर दौड़ेगी। नई दिल्ली-वाराणसी के बीच प्रस्तावित 810 किमी कॉरिडोर किनारे छायादार पौधे रोपे जाएंगे और प्रस्तावित स्टेशनों पर हरियाली के लिए गार्डेन व पार्क भी बनाए जाएंगे। वाराणसी का स्टेशन भी स्वच्छता के लिहाज से विश्वस्तरीय बनाया जाएगा। जिस तरह अहमदाबाद-मुंबई हाई स्पीड रेल कॉरिडोर के बीच हरियाली को बढ़ावा देने के लिए पौधे रोपे जा रहे हैं, ठीक उसी तर्ज पर नई दिल्ली-वाराणसी कॉरिडोर किनारे पौधे लगेंगे। फरवरी माह में समाप्त हुए लिडार सर्वे के दौरान ही पर्यावरण संरक्षण के तहत यह तय किया गया है। नेशनल हाईस्पीड रेल कॉर्पोरेशन लिमिटेड के अधिकारियों के अनुसार जिन जगहों से कॉरिडोर गुजरेगा, वहां हरियाली के तहत पौधे लगाए जाएंगे। कॉरिडोर के लिए भूमि अधिग्रहण की जद में जो पेड़ आएंगे, उनकी जगह पर कुछ दूरी पर पहले पौधे रोपित किए जाएंगे। यह हाई स्पीड कारिडोर उत्तर प्रदेश के 22 जिलों व दिल्ली के दो जिलों से होकर गुजरेगा।

सात अप्रैल से ललितपुर को मिलेगी नई सौगात

ललितपुर. एक वर्ष से अधिक समय से लगातार बंद रही पैसेंजर ट्रेनों का परिचालन रेलवे बोर्ड के निर्देश पर धीरे-धीरे शुरू हो रहा है। झांसी-बीना पैसेंजर ट्रेन को अब पूरी तरह से बंद कर दिया गया है। अब सात अप्रैल से ललितपुर से एक ट्रेन झांसी के लिए और एक ट्रेन बीना के लिए चलाई जाएगी। 25 मार्च, 2020 के पूर्व झांसी जंक्शन और बीना जंक्शन के बीच ललितपुर होकर दो एक पैसेंजर ट्रेन चलती थी। लेकिन पूर्ण लॉकडाउन के बाद सभी ट्रेनों का परिचालन बंद कर दिया गया था। इसके पश्चात 13 मई से नौ जोड़ी राजधानी एक्सप्रेस ट्रेनों परिचालन कोविड स्पेशल के नाम से शुरू किया गया। अब सात अप्रैल से ललितपुर से दो ट्रेनें झांसी और बीना के लिए चलाई जाएंगी। ललितपुर से ट्रेनों का परिचालन शुरू होने से यहां की आय बढ़ने की संभावना रेलवे अधिकारियों ने व्यक्त की है। 10 कोच वाली इन ट्रेनों में आठ जनरल बोगी और दो एसएलआर रहेगा। ट्रेन संख्या 01811 अप झांसी से सुबह 6 बजकर 15 मिनट पर रवाना होकर ललितपुर सुबह 8 बजकर 30 मिनट पर पहुंचेगी। 01812 डाउन ललितपुर से शाम 5 बजकर 50 मिनट पर रवाना होकर सभी स्टेशनों पर रुकते हुए शाम 8 बजकर 20 मिनट पर झांसी पहुंचेगी।

25 हजार का इनामी डाकू गिरफ्तार

चित्रकूट. जिले में डेढ़ लाख रुपये के इनामी डाकू गौरी यादव गैंग के एक और सदस्य को पुलिस और एसटीएफ की टीम ने गिरफ्तार किया है। 25 हजार रुपये के इनामी डाकू सुबेश यादव के कब्जे से एक तमंचा व चार कारतूस बरामद हुए। सुबेश पर वनकर्मियों की पिटाई, पुलिस मुठभेड़ समेत कई मामले दर्ज हैं। मारकुंडी थाना क्षेत्र के जंगल में शनिवार को डकैतों की तलाश में एसओजी टीम प्रभारी श्रवण कुमार व एसटीएफ टीम प्रभारी अमित कुमार अभियान चला रहे थे। तभी मारकंडेय आश्रम के पास एक युवक को जाते देख रोका। पुलिस टीम को देख उसने भागने का प्रयास किया तो उसे दौड़ा कर दबोच लिया। एएसपी शैलेंद्र कुमार राय ने कहा कि पकड़ा गया सुबेश यादव डाकू गौरी यादव गैंग का सदस्य है और उस पर 25 हजार रुपये का इनाम है। इसने ही भालचंद्र के साथ मिलकर वनकर्मियों को पीटा था। तब से ही इस पर इनाम घोषित था। 31 मार्च को डाकू गौरी यादव गैंग से मुठभेड़ में सुबेश यादव भी शामिल था। मारा गया डाकू भालचंद्र बाइक से गैंग के पास आया था और राइफल लेकर जाते समय पुलिस-एसटीएफ टीम से मुठभेड़ हुई थी। मुठभेड़ से बचकर सुबेश जंगल में छिपा था जो शनिवार को पुलिस के हत्थे चढ़ गया।

ये भी पढ़ें: Quick Read: आगरा-लखनऊ एक्स्प्रेस वे पर दौड़ी बर्निंग बस, यात्रियों ने भागते हुए बचाई जान

ये भी पढ़ें: Quick Read: 46 दिन बाद पटरी पर लौटी वंदेभारत एक्सप्रेस, वाराणसी-नई दिल्ली कराएगी सफर

Karishma Lalwani
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned