उत्तर प्रदेश संगीत नाटक अकादमी के पुरस्कारों की हुई घोषणा

चन्द्रप्रकाश को बीएम शाह, विपुल को सफदर हाशमी पुरस्कार,डा.पूर्णिमा पाण्डे, उ.युगान्तर, कुंवरजी अग्रवाल व उर्मिला श्रीवास्तव को मिली रत्न सदस्यता, अनिल मिश्र गुरुजी व रामेश्वर प्रसाद मिश्र को अकादमी पुरस्कार

By: Ritesh Singh

Published: 18 Feb 2021, 08:44 PM IST

लखनऊ, उत्तर प्रदेश संगीत नाटक अकादमी का प्रतिष्ठित बी.एम.शाह पुरस्कार मुम्बई के चन्द्रप्रकाश द्विवेदी को व सफदर हाशमी पुरस्कार मुम्बई के ही विपुल कृष्ण नागर को प्रदान किया जायेगा। जबकि अकादमी की रत्न सदस्यता डा.पूर्णिमा पाण्डे लखनऊ, उस्ताद युगान्तर सिन्दूर लखनऊ, कुंवर जी अग्रवाल वाराणसी और उर्मिला श्रीवास्तव मीरजापुर को प्रदान की जाएगी। बैठक के बाद कुल 17 पुरस्कारों की आज घोषित कर दिये गये। अकादमी के सचिव तरुण राज ने बताया कि आज हुई कार्यकारिणी समिति एवं सामान्य परिषद की बैठकें अकादमी के अध्यक्ष पद्मश्री डा.राजेश्वर आचार्य की अध्यक्षता में अकादमी परिसर में आहूत की गयी थी। बैठक में वर्ष-2020 के लिए अकादमी पुरस्कार, सफदर हाशमी पुरस्कार एवं बी.एम.शाह पुरस्कार के सम्बन्ध में विचार विमर्श के बाद पुरस्कारों की घोषणा की गई।

उन्होंने बताया कि उपसमितियों की इन संस्तुतियों पर गहन विचार-विमर्श के उपरान्त सामान्य परिषद द्वारा अकादमी पुरस्कार में डा.बृजेश्वर सिंह बरेली (नाट्य कला उन्नयन); महन्त प्रो.विशम्भरनाथ मिश्र वाराणसी तथा महाराज कुमार अनन्त नारायण सिंह वाराणसी (संगीत कला उन्नयन) को संयुक्त रूप से चयनित किया गया। अन्य अकादमी पुरस्कारों में डा.शरदमणि त्रिपाठी, गोरखपुर (शास्त्रीय गायन), ब्रह्मपाल नागर, गौतमबुद्धनगर (रागिनी लोकगायन); रामेश्वर प्रसाद मिश्र लखनऊ (शास्त्रीय गायन); विशाल कृष्णा वाराणसी (कथक नृत्य); भूरा यादव, तिदौली महोबा (राई लोकनृत्य); अनिल मिश्रा गुरुजी लखनऊ (नाट्य निर्देशन); अष्टभुजा मिश्र वाराणसी (नौटंकी-अभिनय व निर्देशन); पं.विनोद लेले दिल्ली (तबला वादन) और फतेह अली खां वाराणसी (शहनाई वादन) का चयन किया गया।

सचिव ने बताया कि बी.एम.शाह पुरस्कार के लिए चन्द्रप्रकाश द्विवेदी मुम्बई (निर्देशन) तथा सफदर हाशमी पुरस्कार के लिए विपुलकृष्ण नागर मुम्बई (निर्देशन व अभिनय) के नामों की घोषणा की गयी। साथ ही अकादमी रत्न सदस्यता के लिए डा.पूर्णिमा पाण्डे, लखनऊ (कथक नृत्य); उस्ताद युगान्तर सिन्दूर, लखनऊ (सुगम गायन); कुंवर अग्रवाल, वाराणसी (रंगमंच समीक्षा); उर्मिला श्रीवास्तव, मीरजापुर (लोक गायन) के नामों की घोषणा की गयी। अकादमी पुरस्कार के लिए लगभग 344 संस्तुतियां प्राप्त हुई थीं जिस पर विभिन्न उप समितियों द्वारा गहन विचार-विमर्श के उपरान्त अपनी संस्तुतियां दी गयीं थी। ये पुरस्कार समारोह आयोजित कर प्रदान किये जाएंगे।

Show More
Ritesh Singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned