UP Top News: शराब की दुकानें बंदी से मुक्त, लॉकडाउन में खुली रहेंगी शराब की दुकानें

उत्तर प्रदेश में 55 घंटे के लॉकडाउन की अवधि के बीच अब हर शनिवार और रविवार को शराब की दुकानें खुली रहेंगी। सरकार ने निर्देश जारी करके बताया है कि बंदी से शराब की दुकानों को मुक्त कर दिया गया है। उनके समय में कोई परिर्वतन नहीं किया गया है

By: Karishma Lalwani

Published: 24 Jul 2020, 05:28 PM IST

दो दिन की बंदी में खुलेंगी शराब की दुकानें

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में 55 घंटे के लॉकडाउन की अवधि के बीच अब हर शनिवार और रविवार को शराब की दुकानें खुली रहेंगी। सरकार ने निर्देश जारी करके बताया है कि बंदी से शराब की दुकानों को मुक्त कर दिया गया है। उनके समय में कोई परिर्वतन नहीं किया गया है। शराब की दुकानें पहले की तरह अपने तय समय सुबह दस बजे से रात नौ बजे तक खुली रहेंगी। हालांकि कोरोना संक्रमण तहत लागू कंटेनमेंट जोन में स्थित दुकानों में यह व्यवस्था लागू नहीं होगी।

बहराइच के कतर्नियाघाट में तेंदुए से भिड़ा युवक

बहराइच. कतर्नियाघाट वन्य जीव प्रभाग के मुर्तिहा रेंज के निबिया पुरवा निवासी घर जा रहे युवक पर झाड़ियों में छिपे तेंदुए ने हमला कर दिया। युवक तेंदुए से लगभग पांच मिनट तक संघर्ष करता रहा। चीख-पुकार सुनकर ग्रामीण मौके पर पहुंच गए। हांका लगाकर तेंदुए को जंगल में भगाया। सूचना पर रेंजर वन कर्मियों के साथ पहुंचे और घायल युवक को सीएचसी मोतीपुर में भर्ती कराया।

यूपी में खुलेंगे 270 नए नर्सिंग-पैरामेडिकल कॉलेज

लखनऊ. सूबे में नर्सिंग-पैरामेडिकल के नए कॉलेज खुलेंगे। निजी क्षेत्र में खुल रहे कॉलेजों की मान्यता की कवायद शुरू हो गई है। इसके लिए स्टेट मेडिकल फैकल्टी में 270 नए नर्सिंग-पैरामेडिकल कॉलेजों को खोलने के लिए आवेदन आए हैं। ये सभी निजी क्षेत्र के कॉलेज हैं। इनके मानकों की जांच शुरू कर दी गई है। इसके बाद मान्यता के लिए फाइल चिकित्सा शिक्षा विभाग भेजी जाएगी। सब कुछ सही रहा तो नए सत्र में पांच हजार के करीब नर्सिंग व पैरामेडिकल की सीटें बढ़ जाएंगी। इस पर अक्टूबर-नवंबर में विद्यार्थी दाखिला ले सकेंगे।

पीएम और सीएम पर आपत्तिजनक पोस्ट करने वाला एसआई सस्पेंड

इटावा. इटावा में तैनात एक सब इंस्पेक्टर को सोशल मीडिया पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के खिलाफ पोस्ट करने पर उसे सस्पेंड कर दिया गया है। अब पुलिस सेवा से हटाने के लिए विभागीय जांच शुरू कर दी गई है। सब इंस्पेक्टर विजय प्रताप को टर्मिनेट करने के लिए डिपार्टमेंटल स्तर पर जांच की जा रही है। एसएसपी इटावा के मुताबिक, सब इंस्पेक्टर लगातार अनुशासनहीनता कर रहा था। यहां तक देवी-देवताओं पर भड़काऊ भाषा का इस्तेमाल करता था और वह मूर्ति तोडऩे की बात भी करता था। फिलहाल वह निलंबित है। वर्ष 2015 का वह सब इंस्पेक्टर है और पिछले साल ही उसकी इटावा में पोस्टिंग हुई। इससे पूर्व कई अन्य जिलों में तैनाती के दौरान अनुशासनहीनता की वजह से वह कई बार निलंबित रहा एवं प्रशासनिक आधार पर स्थानान्तरित किया जाता रहा है। रिपोर्ट के अनुसार, सब इंस्पेक्टर विजय ने पिछले दिनों प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के विरुद्ध सोशल मीडिया आदि पर अभद्र भाषा का प्रयोग किया था.

चित्रकूट में नाबालिगों से यौन शोषण पर हाईकोर्ट ने मांगी रिपोर्ट

चित्रकूट. चित्रकूट में नाबालिग बच्चियों के यौन शोषण पर इलाहाबाद हाई कोर्ट ने संज्ञान लेते हुए जांच रिपोर्ट मांगी है। जिला प्रशासन से 28 जुलाई तक रिपोर्ट देनी है। चीफ जस्टिस गोविंद माथुर और जस्टिस एसडी सिंह की डिवीजन बेंच में सुनवाई के दौरान यह आदेश दिया। सुप्रीम कोर्ट के वकील डॉ. अभिषेक अत्रे ने ईमेल से चीफ जस्टिस गोविंद माथुर को पत्र भेजा था। चित्रकूट में नाबालिग लड़कियों से अनैतिक कार्य पर याचिका डाली गई थी। याचिका में नाबालिग लड़कियों के यौन शोषण और बाल मजदूरी अधिनियम के प्रावधानों का उल्लंघन का आरोप है। इस पर सुनवाई करते हुए हाई कोर्ट ने चित्रकूट के डीएम और विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव को जांच कर अलग-अलग रिपोर्ट 28 जुलाई तक तलब की है। हालांकि इस मामले में चित्रकूट प्रशासन लीपापोती में जुटा रहा। चित्रकूट के जिलाधिकारी शेषमणि पांडेय ने कहा था कि लड़कियों और महिलाओं ने ऐसी किसी बात से इनकार किया है।

बजरंग दल कार्यकर्ता को कार सवार बदमाशों ने मारी गोली

लखीमपुर खीरी. लखीमपुर खीरी में बजरंग दल के कार्यकर्ता संदीप अवस्थी को कार सवार बदमाशों ने गोली मार दी। वह हरदोई से लखीमपुर आ रहे थे। संदीप अवस्थी की हालत गंभीर है, उन्हें लखनऊ रेफर कर दिया गया है। यहां के काशीनगर मोहल्ले में रहने वाले संदीप अवस्थी गुरुवार रात को हरदोई से लखीमपुर आ रहे थे। वह अभी कस्ता पहुंचे थे, तभी कार सवार बदमाशों ने उन्हें गोली मार दी। गोली उनके पीठ पर लगी और वह घायल हो गए। मौके पर पहुंची पुलिस ने संदीप को जिला अस्पताल में भर्ती कराया है, फिर उन्हें लखनऊ रेफर कर दिया गया। वारदात को अंजाम देने के बाद हमलावर फरार हो गए. पुलिस हमलावरों की तलाश में जुटी हुई है। इसके साथ ही संदीप अवस्थी के परिजनों से भी पूछताछ की जा रही है, ताकि पता चल सके कि कहीं मामला आपसी रंजिश का तो नहीं है।

Karishma Lalwani
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned