Quick Read: कोरोना काल में शादी आयोजन को लेकर नई गाइडलाइन, योगी सरकार ने दी यह इजाजत

यूपी की योगी सरकार ने कोरोना के नए मामलों में लगातार आ रही गिरावट के मद्देनजर खुले स्थानों पर शादी समारोह और अन्य कार्यक्रम आयोजित करने की अनुमति दी है।

By: Karishma Lalwani

Published: 28 Sep 2021, 04:46 PM IST

खुली जगहों पर शादी समारोह आयोजित करने की इजाजत

लखनऊ. यूपी की योगी सरकार ने कोरोना के नए मामलों में लगातार आ रही गिरावट के मद्देनजर खुले स्थानों पर शादी समारोह और अन्य कार्यक्रम आयोजित करने की अनुमति दी है। नई कोविड गाइडलाइन के मुताबिक, समारोह में शामिल होने वाले लोगों की संख्या आयोजन के लिए निर्धारित परिसर के एरिया पर निर्भर करेगी, यानी जितनी बड़ी जगह में आयोजन है उतने ही ज्यादा लोग उसमें शामिल हो सकेंगे। हालांकि कोविड प्रोटोकॉल का पालन किया जाना भी अनिवार्य है। इससे पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने खुले मैदान में कोविड प्रोटोकॉल के अनुरूप रामलीला के मंचन की अनुमति दिए जाने का निर्देश दिया था। सीएम योगी ने कहा है कि उत्तर प्रदेश में रामलीला आयोजन की समृद्ध परंपरा रही है। ऐसे में रामलीला कमेटियों की तैयारियां प्रारंभ हो रही होंगी।

उन्नाव से बीजेपी सांसद साक्षी महाराज को बम से उड़ाने की धमकी

उन्नाव. सांसद साक्षी महाराज को एक बार फिर बम से मार देने की धमकी मिली है। इसकी जानकारी साक्षी महाराज ने पुलिस अधीक्षक को दी। जानकारी मिलते ही पुलिस अधीक्षक ने सर्विलांस टीम को धमकी देने वाले व्यक्ति को गिरफ्तार करने के निर्देश दिए। पुलिस अधीक्षक के निर्देश पर सक्रिय हुई सर्विलांस की टीम ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। सीओ ने कहा कि आरोपी के खिलाफ संगत धाराओं में मुकदमा दर्ज कर जेल भेज दिया गया है। सांसद साक्षी महाराज के अनुसार बीते शनिवार को शाम लगभग 4:10 से लेकर 4:20 के बीच फोन आया। फोन उठाने पर मोबाइल करने वाले व्यक्ति ने अभद्रता करते हुए बम से मार देने की धमकी दी। धमकी देने वाले ने कहा कि वंश सहित नाश कर देगा।

403 किलो गांजा बरामद, 09 गिरफ्तार

वाराणसी. जिले में सिगरा और चेतगंज पुलिस ने संयुक्त कार्रवाई करते हुए अंधरापुल के पास से चार महिलाओं सहित नौ लोगों को गिरफ्तार किया और उनके पास से 403.06 किलो गांजा बरामद किया। पुलिस के अनुसार आरोपी ओडिशा से यह गांजा कम्बल में छिपाकर वाराणसी लाये थे। इन आरोपियों को अंधरापुल स्थित शराब की दुकान के पास से गिरफ्तार किया गया।पुलिस के अनुसार, जब्त किये गए गांजे की अनुमानित कीमत 80 लाख से एक करोड़ रुपये तक हो सकती है। गिरफ्तार किए गए नौ तस्करों में चार महिलाएं शामिल हैं। पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि वे ओडिशा से सड़क मार्ग से वाराणसी पहुंचे थे और नोएडा व गाजियाबाद में गांजे की तस्करी करते थे।

केन नदी में तीन बच्चों की डूबकर मौत

बांदा. जिले के गिरवां थाना क्षेत्र के प्रेमपुर कोलावल गांव के पास बहने वाली केन नदी में डूबकर तीन बच्चों की मौत हो गई। महालक्ष्मी पूजन को लेकर गांव की महिलाएं नदी में नहाने गई थीं। पूजन को लेकर नदी में जल देने का रिवाज है। बच्चे भी साथ में थे। इसी बीच तीन बच्चे पानी के तेज बहाव में बह गए। महिलाओं के शोर मचाने पर ग्रामीण जुट गए। जानकारी होते ही सीओ और आसपास के थानों की फोर्स पहुंची। गांव निवासी बाबूराम यादव की 13 वर्षीय बेटी सीता, बेटे 15 वर्षीय उमेश और रामफल के सात वर्षीय बेटे छोटू को जबतक निकाला जाता, तब तक मौत हो चुकी थी। नदी किनारे पूरा गांव जुट गया और चीत्कार मच गई।

सपा एमएलसी समेत 11 आरोपितों की कोर्ट में पेशी

औरैया. दोहरे हत्याकांड में आरोपित सपा एमएलसी कमलेश पाठक समेत 11 आरोपितों को मंगलवार की दोपहर कोर्ट में पेशी के लिए जेल से लाया गया, इस दौरान पुलिस अलर्ट मोड में रही। समर्थकों की भीड़ के मद्देनजर अदालत परिसर में भारी फोर्स तैनात किया गया। सदर कोतवाली क्षेत्र के नारायनपुर मोहल्ला में पंचमुखी मंदिर परिसर में दोहरे हत्याकांड में करीब डेढ़ वर्ष से सपा एमएलसी, उनके दो भाइयों व सरकारी गनर सहित 11 आरोपितों को गिरफ्तार करके जेल भेजा गया था। इससे पहले 28 अगस्त को पेशी हुई थी और विशेष न्यायाधीश की अदालत में हत्या का आरोप तय किया गया था।

पुलिस की पिटाई से रीयल एस्टेट कारोबारी की मौत

गोरखपुर. गोरखपुर के रामगढ़ताल इलाके के तारामंडल स्थित होटल कृष्‍णा पैलेस में पुलिस की रूटीन चेकिंग के दौरान कानपुर के रीयल एस्‍टेट कारोबारी मनीष गुप्‍ता की संदिग्‍ध परिस्‍थतियों में मौत हो गई। होटल के कमरे में उनके साथ रुके दो दोस्‍तों और कानपुर से गोरखपुर पहुंची पत्‍नी का आरोप है कि पुलिस की पिटाई के चलते मनीष की मौत हुई है, जबकि एसएचओ रामगढ़ताल का कहना है युवक नशे में धुत था, कमरे में गिरने के चलते उसके सिर में गंभीर चोट आई, जिससे उसकी मौत हो गई। एसएसपी विपिन ताडा ने कहा कि एसएचओ रामगढ़ताल जेएन सिंह, चौकी इंचार्ज फलमंडी अक्षय मिश्र समेत छह पुलिसकर्मियों को सस्‍पेंड कर दिया गया।

शादी का झांसा देकर किया यौन शोषण

गोरखपुर. कुशीनगर जिले में खड्डा के एसडीएम अरविंद कुमार को शिकायती पत्र देकर एक महिला ने शादी का झांसा दे यौन शोषण का आरोप लगाया। एसडीएम को दिए शिकायती पत्र में पीड़िता ने कहा 13 वर्ष पहले गांव मेला नगरी निवासी उसे शादी का झांसा देकर वह नोएडा ले गया। तीन साल तक वह उसके साथ रहा। एक दिन वह कमरे में अकेले छोड़ फरार हो गया। इस बीच आए उसका रिश्तेदार युवती को अपने घर ले आया। उसने शादी का विश्वास दिलाया। इसके बाद दोनों बतौर पति-पत्नी करीब 10 वर्ष तक साथ रहे। महिला का आरोप है कि 10 दिनों पूर्व उसने एक बच्ची को जन्म दिया। उसी दिन से उसके साथ रह रहा युवक उसे छोड़ फरार हो गया। घर में उसके मां-बांप व दूसरे सदस्य रहते हैं। उसके फरार होने के बाद इन लोगों ने घर से बेदखल कर दिया।

ये भी पढ़ें: Quick Read: गोरखपुर विश्वविद्यालय में पार्ट टाइम पीएचडी की शुरुआत, डिग्री कॉलेजों के स्नातक शिक्षकों को भी बड़ा तोहफा

ये भी पढ़ें: Quick Read: इटावा डीएसपी विजयशंकर शर्मा सस्पेंड, आचरण को लेकर मिली थी शिकायत

Corona virus
Karishma Lalwani
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned